01 august 2020 EID Mubarak|Corona virus, Rajasthan politics|High court Sushant singh case|News Brief/Dainik Bhaskar Morning Latest [Updates]; Rajasthan, Ashok Gehlot, Sachin Pilot, Ram Mandir & Aaj Ka Rashifal | ईद मुबारक! उम्मीदों वाले अगस्त में स्वागत है; अयोध्या से उठेगी राम लहर और वैज्ञानिकों की मेहनत रंग लाई तो कोरोना से आजादी दूर नहीं


  • Hindi News
  • National
  • 01 August 2020 EID Mubarak|Corona Virus, Rajasthan Politics|High Court Sushant Singh Case|News Brief Dainik Bhaskar Morning Latest [Updates]; Rajasthan, Ashok Gehlot, Sachin Pilot, Ram Mandir & Aaj Ka Rashifal

27 मिनट पहलेलेखक: कमलेश माहेश्वरी

नए महीने की पहली तारीख, गुड मॉर्निंग और ईद मुबारक!

सबसे पहले थोड़ी बात इस खास महीने की कर लेते हैं। 2020 के गर्भ में ये 8वां महीना है। इसे बिगड़े हालात में उम्मीद का महीना भी कह सकते हैं। उम्मीद इसलिए कि इस महीने कोरोना वैक्सीन अंतिम परीक्षा पास कर लेगा। ईद के साथ महीने में आमद दी है और अब आगे अयोध्या से राम लहर उठेगी, श्रीकृष्ण जन्म लेंगे और गणपति बप्पा विराजेंगे और आजादी के 73वें साल का जश्न भी मनेगा। हां, मानसून सबके मजे ले रहा है, लेकिन उम्मीद है कि जैसे-तैसे कोटा पूरा कर जाएगा।

बहरहाल, नए महीने में बढ़ते कोरोना आंकड़े, उलझे राजस्थान, अस्पताल में भर्ती अमिताभ और सुशांत केस की नाटकीयता के साथ देखते हैं कि आज की मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ में आपके लिए क्या खास है-

नए महीने के साथ राजस्थान का सियासी घमासान चौथे हफ्ते में प्रवेश कर गया। होटल बंदी के बाद अब शहर बंदी होने लगी है। शह और मात में वक्त लगेगा इसलिए चालें सोच-समझकर चली जा रही हैं।

1. राजनीति की बिगड़ी रेलगाड़ी, अब जयपुर- टू- जैसलमेर रूट पर

इस बीच, गहलोत खेमे के 90 विधायकों को 3 स्पेशल प्लेन से जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट किया गया। मजेदार बात यह रही कि प्लेन में जगह नहीं होने के कारण 2 विधायक होटल लौट आए। जाते-जाते गहलाेत अमित शाह पर निशाना साध गए और बोले, ‘अमित जी आपको यह क्या हो गया है? हर वक्त सोचते हैं कि सरकार कैसे गिराऊं?’ ये सभी विधायक 13 जुलाई से जयपुर की फेयरमॉन्ट होटल में जमे थे और अब इन्हें जैसलमेर में फाइव स्टार होटल सूर्यगढ़ में ठहराया गया है। राज्यपाल कलराज मिश्र ने 14 अगस्त से विधानसभा सत्र की मंजूरी दी है और तब तक उठापटक की खबरें जयपुर-टू-जैसलमेर रूट से आएंगी।

पढे़ं: पूरी खबर

अब इस महीने के सबसे बड़े इवेंट की बात, जिसकी चर्चा दुनियाभर में है। सबको 5 अगस्त का इंतजार है और इस दिन की तैयारियां अंतिम दौर में है-

2. अयोध्या में रामजी का काज, देशभर में बंटेंगे घी के लड्‌डू

अयोध्या में पीएम मोदी 5 अगस्त को राम मंदिर की नींव रखेंगे और इस शुभ दिन की मिठास बढ़ाएंगे शुद्ध घी में बने बेसन के लड्डू जो प्रसाद के रूप में बांटे जाएंगे। इसके लिए विंध्याचल के हलवाई 1.11 लाख लड्डू बना रहे हैं। यह काम देवराहा बाबा संस्था के माध्यम से किया जा रहा हैं।

चार अगस्त तक लड्डू बनकर तैयार हो जाएंगे। 5 अगस्त को श्रीराम लला को भोग लगाया जाएगा। इसके बाद प्रसाद को अयोध्या व देश के सभी तीर्थ स्थलों तक पहुंचाया जाएगा। संत तुषारदास ने बताया कि 15 कारीगर लड्डू बना रहे हैं और इन्हें डिब्बों में पैक किया जा रहा है। 2 अगस्त को सीएम योगी तैयारियां देखने अयोध्या पहुंचेंगे।

पढे़ं: पूरी खबर

अब थोड़ी खबर सुशांत सुसाइड केस की जिसने बॉलीवुड की सांसें चढ़ा रखी हैं। खत्म होते जुलाई में इस केस ने ऐसी रफ्तार पकड़ी है कि बड़े सितारे ही नहीं, दो राज्य भिड़ गए हैं-

3. हे ईश्वर! सुशांत की आत्मा को शांति देना, अब केस तो लंबा चलेगा

तेजी से बदलते घटनाक्रम में शुक्रवार को सुशांत के पिता के गंभीर आरोपों के बाद पहली बार उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती हाथ जोड़े रोते हुए सामने आईं। रिया ने एक वीडियो जारी कर कहा कि उन्हें भगवान और न्यायपालिका पर अटूट विश्वास है। उन्हें भरोसा है कि उन्हें इंसाफ मिलेगा। इसके बाद रिया ने कहा- सत्यमेव जयते, सच की जीत होगी।

रिया के खिलाफ सुशांत के पिता ने पटना में खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज कराया है। रिया ने वकील सतीश मानशिंदे के जरिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई। बुधवार को पटना पुलिस रिया से पूछताछ के लिए उनके मुंबई वाले घर पहुंची। लेकिन, वहां कोई नहीं मिला।

पढे़ं: पूरी खबर

अब बात कोरोना की। डरते-डरते और सहते-सहते अगस्त आ गया लेकिन महामारी एक बड़ी लहर बनकर सबको बहाए ले जा रही है। उम्मीद यही है कि बस, एक बार वैक्सीन आ जाए तो जिंदगी पटरी पर लौटे-

4. पौने दो करोड़ हुआ संक्रमितों का आंकड़ा, कब आएगी वैक्सीन?

दुनिया में कोरोनावायरस से संक्रमण के अब तक 1 करोड़ 74 लाख 76 हजार 105 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 9 लाख 39 हजार 477 ठीक भी हो चुके हैं। वहीं, 6 लाख 76 हजार 759 की मौत हो चुकी है। नंबर 1 पर अमेरिका, 2 पर ब्राजील और 3 पर भारत है। कोरोना संक्रमण की वजह से मौतों के मामले में भारत अब इटली को पछाड़कर 5वें नंबर पर पहुंच गया है।

अमेरिका में जहां दो वैक्सीन के फेज-3 का ट्रायल शुरू हो चुका है। भारत और इजराइल के वैज्ञानिक साथ मिलकर रैपिड टेस्टिंग किट विकसित करने पर बीते 3 दिन से काम कर रहे हैं। प्रयोग सफल हुआ तो सिर्फ 30 सेकेंड के अंदर जांच रिपोर्ट मिल सकेगी। हालांकि, दूसरी ओर चीन फिर से डरा रहा है। यहां पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 127 नए मामले सामने आए हैं।

पढे़ं: पूरी खबर

कोरोना के बीच भास्कर डेटा स्टोरी की ऐसी बात जो चौंकाती है क्योंकि इसमें साल 2100 तक भारत और चीन की आबादी बढ़ने की बजाए, घटने के संकेत हैं-

5. साल 2048 का अनुमान, भारत नहीं बढ़ाएगा दुनिया की आबादी

हाल ही में जारी की गई नामी संस्था लैंसेट की रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया की आबादी 2064 में पीक पर होगी। इसके बाद ये घटने लगेगी। इससे पहले यूएन ने 2100 में इसके पीक पर पहुंचने का अनुमान लगाया था। रिपोर्ट के मुताबिक 2064 में दुनिया की आबादी 973 करोड़ हो जाएगी। 2100 तक ये घटकर 879 रह जाएगी।

भारत दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाला देश होगा। लेकिन, उसकी आबादी 2048 के बाद घटने लगेगी। ग्लोबल फर्टीलिटी रेट 2100 तक घटकर 1.66 हो जाएगा। भारत समेत दुनिया के उन देशों में फर्टिलिटी रेट 70% तक कम होगा जिनकी आबादी ज्यादा है।

पढे़ं: पूरी खबर

अब हालचाल जान लेते हैं बॉलीवुड के बिग बी का, जिन्हें अस्पताल में आज पूरे 21 दिन पूरे हो चुके हैं। उनकी बहू और पोती घर जा चुकी हैं, लेकिन बेटा अभिषेक साथ है-

6. गेट वेल सून अमित जी, जल्दी ठीक होकर घर पहुंचिए

शुक्रवार को अस्पताल में अमिताभ का 21वां दिन था। उन्होंने आइसोलेशन वार्ड से अपना हाल साझा किया है। अपने दार्शनिक अंदाज में उन्होंने ब्लॉग पर लिखा, “दिन में उन्हें सबसे ज्यादा इंतजार उस वक्त का रहता है, जब वार्ड में डॉक्टर्स और नर्सेस का दौरा होता है, क्योंकि उन पर ही उनकी उम्मीद टिकी होती है। आइसोलेशन, क्वारैंटाइन, एकांत, मेडिकल केयर रूम…और कुछ नहीं।”

वे आगे लिखते हैं, “सोचते हैं कि अब एक घंटे में नर्स आ जाएंगी, इंजेक्शन के जरिए दवा दी जाएगी, फेफड़ों की जांच होगी, शरीर की जांच होगी। कितनी सांस ली, कितनी देर सांस रोकी…पिछले दिन की टाइमिंग को पछाड़ना है…बेहतर करना है…।”

पढे़ं: पूरी खबर

अब खबरों से दूर, जान लेते हैं कि शनिवार का यह दिन आपके लिए कैसा रहने वाला है, क्योंकि भविष्य बांचने वाले भी उसी उम्मीद के सहारे हैं जिसमें जिंदगी जीतती है-

आज का राशिफल: एस्ट्रोलॉजर डॉ. अजय भाम्बी के अनुसार आज चंद्रमा पूर्वाषाढ़ नक्षत्र में रहेगा। जिससे मातंग नाम का शुभ योग बन रहा है। इस शुभ योग का फायदा मेष, वृष, मिथुन, कर्क, तुला, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वाले लोगों को मिलेगा। बाकी 4 राशि वालों को संभलकर रहना होगा।

आज का अंकफल: न्यूमेरोलॉजिस्ट डॉ. कुमार गणेश के अनुसार 1 अगस्त का मूलांक 1, भाग्यांक 4, दिन अंक 8, मासांक 8 और चलित अंक 1, 4 है। शनिवार को अंक 1, 4 के साथ अंक 8 की परस्पर प्रबल विरोधी युति बनी है। अंक 1 की अंक 4 के साथ विरोधी युति बनी हुई है।

आज का टैरो राशिफल: टैरो कार्ड रीडर शीला एम. बजाज कहती हैं कि 12 में से 9 राशियों के लिए दिन कई मामलों में भाग्य का साथ मिलने का है। मेष राशि वालों के लिए सहायता और संसाधन दोनों मिलने के संकेत हैं, वृष राशि वालों के लिए दिन नकारात्मक प्रतिक्रियाओं का हो सकता है।

आखिर में, आज का दिन क्यों है खास और क्या-क्या बदलेगा आज से: 1 अगस्त से देश में कई बड़े बदलाव होने जा रहे हैं। इसका असर सीधा आपकी जिंदगी और जेब पर पड़ेगा। इन बदलावों में कुछ खास हैं-

1. नाइट कर्फ्यू आज से खत्म

देशभर में नाइट कर्फ्यू आज से खत्म हो जाएगा। अनलॉक-1 में रात 9 बजे से और अनलॉक-2 में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक बाहर निकलने पर पाबंदी थी। अब इसे पूरी तरह हटा लिया गया है।

2. वाहन इंश्योरेंस से जुड़े नियम बदलेंगे

भारतीय बीमा विकास व नियामक प्राधिकरण (इरडा) के निर्देशों के अनुसार, 1 अगस्त से गाड़ी खरीदते समय कार के लिए 3 साल का और टू व्हीलर्स के लिए 5 साल का थर्ड पार्टी कवर लेना जरूरी नहीं रहेगा।

3. बैंकिंग नियमों में बदलाव

कई बैंकों ने 1 अगस्त से अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस न होने पर चार्ज लगाने की घोषणा की है। तीन मुफ्त लेनदेन के बाद शुल्क भी वसूला जाएगा। बैंक ऑफ महाराष्ट्र, एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और आरबीएल बैंक में सबसे पहले यह चार्ज लगने लगेगा।

4.बताना होगा प्रॉडक्ट कहां बना है

1 अगस्त से ई-कॉमर्स कंपनियों को यह बताना जरूरी होगा की वो जिस प्रॉडक्ट को बेच रही हैं वो कहां बना हैं। इस तरह से ई-कॉमर्स कंपनियों को अपने सभी न्यू प्रॉडक्ट लिस्टिंग के साथ कंट्री ऑफ ओरिजिन के बारे में अपडेट करना होगा।

5. PM-Kisan की छठी किश्त मिलेगी

किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 2000 रुपये की छठवीं किस्त डाली जाएगी। दावा है कि मोदी सरकार ने योजना की शुरुआत से लेकर अब तक देश के 9.85 करोड़ किसानों को नकद राशि देकर लाभ पहुंचाया है।

6. आज से 12% EPF कटेगा

आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत छूट की सीमा खत्म हो रही है और आज से ईपीएफ 12% कटेगा।। मई में मोदी सरकार ने लॉकडाउन के महा पैकेज में ईपीएफ में मासिक योगदान 24 फीसदी से घटाकर 20 फीसदी कर दिया था, पर अब ये पुराने स्तर पर आ जाएगा।

7. आज युवा दिमागों के बीच मोदी

पीएम मोदी एक अगस्‍त को शाम 7 बजे से दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन हैकेथॉन के ग्रैंड फिनाले में करीब 10 हजार युवा दिमागों से रूबरू होंगे। हैकेथॉन एक नॉन स्टॉप डिजिटल प्रोडक्ट डेवलपमेंट प्रतियोगिता है जिसमें नई चुनौतियों के समाधान खोजे जाते हैं और टेक्नोलॉजी इनोवेशंस की पहचान की जाती है।

0

VHP clarified on not inviting Dalit Mahamandaleshwar, says there is no caste of fraternity – दलित महामंडलेश्वर को आमंत्रित नहीं करने पर VHP ने दी सफाई, कहा- संतों की कोई जात-बिरादरी नहीं होती 


दलित महामंडलेश्वर को आमंत्रित नहीं करने पर VHP ने दी सफाई, कहा- संतों की कोई जात-बिरादरी नहीं होती 

VHP ने कहा- संतों की कोई जात-बिरादरी नहीं होती

नई दिल्ली:

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में दलित महामंडलेश्वर को आमंत्रित नहीं किए जाने को लेकर उठे विवाद पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने शुक्रवार शाम एक बयान जारी कर कहा कि भूमि पूजन कार्यक्रम में हिंदू समाज के सभी मत पंथ एवं परंपरा के पूज्य संत, आचार्य महामंडलेश्वर उपस्थित रहेंगे. विहिप ने कहा, ‘‘ऐसे सभी परम पूज्य संत जो बाल्मीकि समाज, रविदास समाज, कबीर समाज, सिख समाज, वनवासी, आदिवासी, गिरी वासी समाज तथा रामनामी परंपरा का निर्वाह करते हैं, उन्हें ससम्मान राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों द्वारा आमंत्रित किया गया है.”

यह भी पढ़ें

राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर VHP की अपील, “हर गली-मोहल्ले के मंदिर में हो पूजा, प्रसाद बंटे”

विहिप के महानगर मीडिया प्रभारी अश्वनी मिश्रा ने कहा कि संतों की कोई जात-बिरादरी नहीं होती और पूज्य संत आचार्य परंपरा का निर्वाहन करते हैं पूज्य संतों में ना तो कोई दलित होता है और ना ही कोई पिछड़ा. वे सिर्फ और सिर्फ धर्म के संवाहक पूज्य संत होते हैं. उन्होंने आगे कहा कि वर्ष 1989 में हिंदू समाज के पुरोधा स्वर्गीय अशोक सिंघल जी के नेतृत्व में विहिप कार्यकर्ता दलित समाज के कामेश्वर चौपाल ने ईट रखी थी जो स्थान वर्तमान में श्री राम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट के अधीन है. प्रभु श्री राम का जीवन समरसता का पथ प्रदर्शक है और प्रभु श्रीराम समरसता के प्रतीक हैं.

VIDEO: VHP की धर्मसंसद का अखाड़ा परिषद ने किया बहिष्कार

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

The rats of the corpse kept in the private hospital’s morchary eat the nose and ears, the family’s uproar outside the hospital | अस्पताल की मोर्चरी में रखे महिला के शव के कान और होंठ खा गए चूहे, परिजनों ने जमकर किया हंगामा


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Rats Of The Corpse Kept In The Private Hospital’s Morchary Eat The Nose And Ears, The Family’s Uproar Outside The Hospital

मोहाली10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

डेराबस्सी स्थित इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में एक महिला की आपरेशन से पहले ही मौत हो गई। महिला के शव को अस्पताल की ही मोर्चरी में रखवा दिया। परिजन जब शुक्रवार को अंतिम संस्कार के लिए शव लेने पहुंचे तो पता चला कि चूहे उसका होंठ और कान खा गए थे। फोटो मनोज राजपूत

  • मोहाली में स्थित इंडस इंटरनेशनल अस्पताल का मामला, दो दिन पहले महिला को हार्ट सर्जरी के लिए कराया गया था भर्ती
  • ऑपरेशन से पहले महिला की मौत होने पर शव को मोर्चरी में रखवाया, सुबह अंतिम संस्कार के लिए दौरान घटना का पता चला

डेराबस्सी स्थित इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में एक महिला की आपरेशन से पहले ही मौत हो गई। महिला के शव को अस्पताल की ही मोर्चरी में रखवा दिया। परिजन जब शुक्रवार को अंतिम संस्कार के लिए शव लेने पहुंचे तो पता चला कि चूहे उसका होंठ और कान खा गए थे। इसके बाद हंगामा शुरू हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंच गई। इसके बाद तहसीलदार की निगरानी में शव को सिविल अस्पताल में रखवाया जा रहा है।

दरअसल, महिला जसजोत कौर को हार्ट सर्जरी के लिए इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में दो दिन पहले भर्ती कराया था। यहां पर डॉ. बसंत महिला का ऑपरेशन करने वाले थे, लेकिन उसके एक दिन पहले ही जसजोत की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने अगले दिन अंतिम संस्कार के लिए शव को मोर्चरी में रखवा दिया। सुबह जब परिजन शव लेने पहुंचे तो उन्होंने देखा कि उसके नाक और होंठ चूहों ने बुरी तरह से काट दिए थे।

अस्पताल प्रबंधन के जवाब से असंतुष्ट परिजनों ने किया हंगामा

महिला जसजोत के पति रिटायर्ड कर्नल अमरजीत सिंह चंडोक ने बताया कि शव की ऐसी हालत और चादर पर खून गिरा देख जब अस्पताल प्रबंधन से इस बारे में पूछा तो वे कोई जवाब ठीक से नहीं दे सके। इसके बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई और पुलिस भी पहुंच गई। कर्नल ने आरोप लगाया है कि मॉर्चरी की टेम्प्रेचर मशीन ऑन नहीं की गई थी। उन्होंने शव से ऑर्गन निकाले जाने की भी आशंका जताई है।

मौके पर पहुंचे तहसीलदार को मृतक महिला की बेटी ने मोबाइल में फोटो दिखाई।

सिविल अस्पताल में होगा पोस्टमार्टम

रिटा. कर्नल चंडोक ने बताया कि बॉडी को क्षतिग्रस्त करने और लापरवाही बरतने को लेकर पुलिस को सूचना दी गई है। वहीं तहसीलदार की निगरानी में मोर्चरी से बॉडी को निकाल कर डेराबस्सी सिविल अस्पताल में पहुंचाया जा रहा है। वहां डॉक्टरों के बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया जाएगा। उधर, इंडस इंटरनेशनल अस्पताल के मैनेजर प्रवीन कुमार ने कहा, प्रारंभिक तौर पर चेहरे और कान पर चूहों ने काटा है। मोर्चरी बाहरी साइड में होने से उन्होंने चूहों की आशंका जाहिर की है।

0

Dead body for 18 hours in isolation ward of Darbhanga Medical College, panic among corona infected – दरभंगा मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में 18 घंटे से पड़ा शव, कोरोना संक्रमितों में दहशत


दरभंगा मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में 18 घंटे से पड़ा शव, कोरोना संक्रमितों में दहशत

दरभंगा के मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में पड़ा कोरोना मरीज का शव.

पटना:

उत्तर बिहार के बड़े अस्पतालों में शुमार दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (डीएमसीएच)  के आइसोलेशन वार्ड में पिछले 18 घंटे से कोरोना संक्रमित का शव के होने से वहां मौजूद अन्य पॉजिटिव में दहशत में जी रहे हैं. आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक मरीज का कहना है कि वार्ड में एक शव पिछले 18 घंटे से पड़ा है लेकिन अब तक उसे ले जाने कोई नहीं आया है. 

यह भी पढ़ें

शव के साथ रहने को मजबूर आइसोलेशन वार्ड में रह रहे संक्रमितों का कहना है कि लगातार अस्पताल प्रबंधन को सूचित किये जाने के बावजूद कोई सुध लेने वाला है. संक्रमितों का कहना है कि वे कोरोना से मरे या नहीं मरे लेकिन यदि शव को शीघ्र नहीं हटाया गया तो नये संक्रमण से जरूर मर सकते हैं. अन्य संक्रमित उस समय को कोस रहे हैं जब उन्होंने डीएमसीएच में भर्ती होने का निर्णय लिया था.

       

यह काफी आश्चर्यजनक है कि अस्पताल में शव को रखने के लिए कोई शव गृह नहीं है. पूर्व के कई अस्पताल अधीक्षक समेत वर्तमान अधीक्षक ने भी कई बार शव गृह बनाने के लिए जिला स्वास्थ्य समिति एवं बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति एवं स्वास्थ्य विभाग को लिखा लेकिन अब तक इस दिशा में कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है.

        

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 कोरोना की रोकथाम के लिए डीएमसीएच समेत राज्य के विभिन्न जिलों के प्रमुख मेडिकल कॉलेज में की गई व्यवस्था का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को ऑनलाइन अवलोकन किया है.

Rajasthan Royals skipper Steve Smith has expressed his disappointment regarding this year’s Indian Premier League (IPL) being played outside of India | राजस्थान के कप्तान स्मिथ भारत में लीग न होने से निराश, कहा- वहां खेलना पसंद, लेकिन प्रोफेशनल क्रिकेटर होने के नाते हर कंडीशन में ढलना होगा


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Rajasthan Royals Skipper Steve Smith Has Expressed His Disappointment Regarding This Year’s Indian Premier League (IPL) Being Played Outside Of India

7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा कि ज्यादातर खिलाड़ियों ने इस सीजन में क्रिकेट नहीं खेली है। इस लिहाज से मुकाबला बराबरी का होगा। -फाइल

  • स्टीव स्मिथ ने पिछले साल आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के सफर पर बनी डॉक्यूमेंट्री ‘इनसाइड स्टोरी’ के स्पेशल प्रीमियर यह बात कही
  • उन्होंने कहा कि लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहने के चलते सभी टीमों की स्थिति एक जैसी है, इसलिए लीग रोमांचक होगी
  • पहले आईपीएल 29 मार्च से भारत में होना था, लेकिन कोरोना के कारण इसे टाला गया और अब सितंबर में लीग होगी

राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के भारत में न होने से निराश हैं। उन्होंने कहा कि मुझे भारत में खेलना पसंद है, लेकिन प्रोफेशनल क्रिकेटर होने नाते हर परिस्थिति में ढलना होता है। स्मिथ ने पिछले साल आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के सफर पर बनी डॉक्यूमेंट्री ‘इनसाइड स्टोरी’ के स्पेशल प्रीमियर में यह बात कही। वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इसमें शामिल हुए थे।

इस दाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा कि मुझे लगता है कि खिलाड़ी लंबे ब्रेक के बाद अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए बेताब होंगे। हां, यह अलग बात है कि इस बार आईपीएल भारत में नहीं हो रहा है, तो यह निराशा वाली बात है। क्योंकि हम वहां खेलना पसंद करते हैं।

कोरोना के कारण सभी टीमों की स्थिति एक जैसी: स्मिथ

उन्होंने कहा कि दुबई में कंडीशन भारत जैसी हो सकती हैं या इससे अलग, यह हालात के साथ तालमेल बैठाने की बात है। कुछ खिलाड़ियों को वहां पहले से खेलने का अनुभव है। 2014 में भी आईपीएल वहां हुआ था, कई खिलाड़ी वहां खेल चुके हैं। कोरोना के कारण लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहने के चलते सभी टीमों की स्थिति एक जैसी है। किसी टीम के पास कोई खास तरह की बढ़त नहीं होगी।

‘इस साल आईपीेएल रोमांचक होगा’
उन्होंने कहा कि ज्यादातर खिलाड़ियों ने इस सीजन में क्रिकेट नहीं खेली है। इस लिहाज से मुकाबला बराबरी का होगा। जब आईपीएल शुरू होगा, तो यह वाकई रोमांचक होगा।

पराग के नाम आईपीएल में सबसे कम उम्र में फिफ्टी लगाने का रिकॉर्ड

वहीं, राजस्थान के सबसे युवा खिलाड़ी रियान पराग ने भी आईपीएल की वापसी पर बात की। उन्होंने कहा कि दबाव तय होता है जब इसके बारे में सोचते हैं। पराग के नाम आईपीएल में सबसे कम उम्र में फिफ्टी लगाने का रिकॉर्ड है। उन्होंने पिछले साल 17 साल 175 दिन में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अर्धशतक लगाया था।

पहले आईपीएल इस साल मार्च में होना था, लेकिन कोरोना के कारण इसे टाल दिया गया था। अब लीग 19 सितंबर से 8 नवंबर तक यूएई में होगी।

0

village sarpanch is playing an important role in the fight against Corona in kashmir – कोरोना से लड़ाई में जम्मू-कश्मीर में गांव के सरपंच निभा रहे हैं महत्वपूर्ण भूमिका


कोरोना से लड़ाई में जम्मू-कश्मीर में गांव के सरपंच निभा रहे हैं महत्वपूर्ण भूमिका

मन की बात के दौरान पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर की 2 महिला सरपंचों के प्रयासों की सराहना की थी

नई दिल्ली:

केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद और कोरोना महामारी के दौरान कश्मीर में सरकार की तरफ से कई महत्वपूर्ण काम किये गये हैं. इंस्पेक्टर जनरल (कश्मीर) विजय कुमार ने NDTV को बताया कि आने वाले इस ईद-उल-अजहा को लेकर सभी ग्राम प्रधान जम्मू-कश्मीर में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं. न केवल वे त्योहार के दौरान लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए कह रहे हैं, बल्कि सभी को अपने घर में नमाज अदा करने के लिए भी कह रहे हैं. उन्होंने कहा दक्षिण और मध्य कश्मीर में, पुलिस ने इमामों और गैर-सरकारी संगठनों की सहायता भी ली है. उन्होंने कहा, “इन दो जिलों में लोग इमामों को सुनने के लिए जाते हैं इसलिए हमने उनसे मस्जिद से घोषणा करने का अनुरोध किया है ताकि भीड़ मस्जिद में इकट्ठा न हो. 

यह भी पढ़ें

जम्मू कश्मीर की रिपोर्ट कार्ड, जो दिल्ली तक पहुंचती है, यह भी बताती है कि इस महामारी के दौरान कश्मीर में जमीनी स्तर पर शासन ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चुने हुए प्रतिनिधि अपने कर्तव्यों को एक अनोखे तरीके से निर्वहन करने के लिए नए जोश से उत्साहित हैं. उनके अनुसार ये प्रतिनिधि लोगों के बीच संपर्क के एक नए युग में प्रवेश करने में सक्षम हैं. उन्होंने कहा, “शासन के प्रत्येक स्तर को पर्याप्त धन दिया गया है ताकि वे अपने क्षेत्रों का विकास कर सकें.”

Eid al-Adha 2020: जम्मू-कश्मीर में 1 और 2 अगस्त को होगी ईद-उल-अजहा की छुट्टी, जानिए डिटेल

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम के दौरान, जम्मू और कश्मीर की दो महिला सरपंचों द्वारा उनके संबंधित क्षेत्रों में कोरोनोवायरस नियंत्रण उपायों के प्रति समर्पण के लिए के लिए किये गए प्रयासों की सराहना की थी.

जम्मू जिले के अरनिया में ग्राम पंचायत त्रेवा की सरपंच बलबीर कौर, जो पाकिस्तान के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा के करीब हैं, के प्रयासों से पंचायत में 30-बेड का क्वॉरंटीन सेंटर बनाया गया. इतना ही नहीं, सरपंच के प्रयासों के कारण पंचायत को जाने वाली सड़कों पर पानी की उचित व्यवस्था भी की गयी है.

पीएम मोदी ने सरपंच जैतुन बेगम के समर्पण के बारे में भी बताया था, जिन्होंने खेती और बागवानी गतिविधियों में किसी भी कठिनाई और असुविधा को कम करने के लिए उन्हें फसल के बीज और सेब के पौधे प्रदान करके ग्रामीणों के आय के अवसरों का ख्याल रखने का फैसला किया. उन्होंने आसपास के क्षेत्रों में लोगों के बीच मुफ्त मास्क और मुफ्त राशन की व्यवस्था और वितरण भी की थी. पीएम ने अपने पूरे पंचायत के स्वच्छता अभियान के लिए अपने कंधों पर पंप ले जाने के लिए सरपंच के प्रयासों की भी सराहना की थी .

जिला कलेक्टर (उधमपुर) पीयूष सिंगला ने NDTV को बताया, “कोविड के समय में वे हमारी आंखें और कान रहे हैं. अब भी वे हमें महत्वपूर्ण मुद्दों की जानकारी दे रहे हैं.” सिंगला अपने जिले के धनोरी के सरपंच का उदाहरण देते हैं. उन्होंने कहा, कोविड महामारी के दौरान अनुराधा रानी ने जरूरतमंद लोगों को राशन मुहैया कराया और 900 से अधिक फंसे मजदूरों के लिए सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की. महामारी के बीच स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए, जम्मू और कश्मीर प्रशासन ने भी प्रत्येक ब्लॉक स्तर पर एक क्वॉरंटीन सेंटर बनाने का निर्णय लिया है और इसके लिए यूटी प्रशासन सीधे खंड विकास पार्षदों को धन दे रहा है.

सचिव (ग्रामीण विकास) शीतल नंदा ने NDTV  को बताया, “प्रत्येक बीडीसी को पर्याप्त धनराशि दी जा रही है ताकि वे अपने ब्लॉकों में एक उचित स्वच्छ केंद्र का संचालन कर सकें.” केवल JioSaavn.com पर नवीनतम गीतों को प्रचारित करें इसके अलावा, लोकतंत्र में उनके साहस और प्रतिबद्धता के बारे में मान्यता के रूप में, केंद्र ने किसी भी निर्वाचित सरपंच / पंच / बीडीसी चेयरपर्सन के लिए 25 लाख रुपये का कवर दिया है, जो आतंकवाद से संबंधित घटना के कारण मर जाते हैं, ताकि उनके परिवारों को वंचित होने का सामना करना पड़े. और किसी भी अप्रिय घटना के मामले में गरीबी. एक अधिकारी बताते हैं, “इससे इन चुने हुए प्रतिनिधियों को सुरक्षा की बहुत जरूरी समझ है.” गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर प्रशासन का यह फैसला एक महीने बाद आता है जब कांग्रेस सरपंच अजय पंडिता की दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

Noida। Building Collapsed In Noida 4 People Rescued Uttar Pradesh Today News And Updates | फैक्ट्री की इमारत गिरी, मलबे में दबे पांच मजदूर रेस्क्यू, दो की मौत


नोएडा5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

नोएडा के सेक्टर-11 में जो इमारत ढही है, उसें निर्माण कार्य चल रहा था। फंसे हुए लोगों को निकालने की कोशिशें जारी हैं।

  • नोएडा के सेक्टर-11 में थी इमारत, इसमें अभी निर्माण कार्य चल रहा था
  • एनडीआरएफ, फायरब्रिगेड और पुलिस की टीमें बचाव कार्य में जुटी हैं

उत्तर प्रदेश के नोएडा जिले में शुक्रवार शाम एक इमारत ढह गई। हादसे में 5 लोगों को बचा लिया गया जबकि 2 लोगों की मौत हो गई। पुलिस, फायर ब्रिगेड और एनडीआरएफ की टीमें बचावकार्य में जुटी हैं। जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने बताया कि यह फैक्ट्री 1994 से यहां चल रही थी। इमारत का एक हिस्सा ढह गया। इसकी वजह यहां किया जा रहा निर्माणकार्य हो सकता है। इसकी अनुमति प्राधिकरण से ली गई थी या नहीं, इसकी भी जांच की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, सेक्टर-11 के एफ-62 स्थित इंडस्ट्रियल इमारत में कई दिनों से कंस्ट्रक्शन जारी था। शुक्रवार शाम कंपनी में काम करने वाले कर्मचारी शिफ्ट समाप्त होने के बाद चले गए। कुछ मजदूर पहली मंजिल पर बने एक कमरे में काम कर रहे थे। जर्जर हालत के चलते इमारत का एक हिस्सा गिर गया और कई मजदूर इसमें दब गए।

फैक्ट्री में पैनल बनाने का काम किया जाता है
फैक्ट्री आरके भारद्वाज की है, जो कि एक राजनीतिक दल से जुड़े हैं। फैक्ट्री में पैनल बनाने का काम किया जाता है। इसकी जानकारी औद्योगिक विभाग को नहीं थी। कोविड-19 के चलते कंपनी के आधे से भी कम कर्मचारी काम पर थे।

0

Coronavirus Update: Three more deaths in Jharkhand, 915 new cases of infections were reported – coronavirus: झारखंड में तीन और लोगों की मौत, संक्रमण के सर्वाधिक 915 नये मामले आए सामने  


coronavirus: झारखंड में तीन और लोगों की मौत, संक्रमण के सर्वाधिक 915 नये मामले आए सामने  

प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची:

झारखंड में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण से तीन और व्यक्तियों की मौत हो गयी, जिन्हें मिलाकर राज्य में इस संक्रमण से मारे गए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 106 तक पहुंच गयी है. इसके अलावा राज्य में संक्रमण के सर्वाधिक 915 नये मामले सामने आये, जिन्हें मिलाकर राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 11,314 हो गयी. स्वास्थ्य विभाग की शुक्रवार देर रात्रि जारी रिपोर्ट के अनुसार राज्य में पिछले 24 घंटे में तीन और संक्रमितों की मौत हो गयी, जिन्हें मिलाकर राज्य में कोरोना वायरस के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 106 तक पहुंच गयी है.

यह भी पढ़ें

झारखंड: ‘Unlock-3’ के लिए गाइडलाइंस जारी, 31 अगस्त तक लागू रहेंगे लॉकडाउन से जुड़े प्रतिबंध         

इसके अलावा, राज्य में संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 915 नये मामले दर्ज किये गये, जिन्हें मिलाकर अब राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 11,314 हो गयी है. राज्य के 11,314 संक्रमितों में से 4,314 लोग अब तक ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. इसके अलावा 6,894 अन्य संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है और 106 लोगों की मौत हो चुकी है.

 

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: झारखंड में कितना कामयाब रहा है लॉकडाउन?

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

30 people dead in Punjab due to poisonous liquor, one SHO suspended; Judicial inquiry order | तरनतारन में 15, अमृतसर में 9 और बटाला में 6 लोगों की जान गई; सीएम ने न्यायिक जांच के आदेश दिए


  • Hindi News
  • National
  • 30 People Dead In Punjab Due To Poisonous Liquor, One SHO Suspended; Judicial Inquiry Order

अमृतसर4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

तरनतारन के के श्मशानघाट में जलती चिताएं। इस मामले में पंजाब सरकार ने न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।।

  • अमृतसर के एसएसपी देहात विक्रमजीत दुग्गल ने थाना प्रभारी बिक्रमजीत सिंह को सस्पेंड किया, तरनतारन के डीसी कुलवंत सिंह धूरी बोले-होगी गहनता से जांच
  • जालंधर के डिविजनल कमिश्नर के नेतृत्व में ज्वाइंट एक्सरसाइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर और संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षक करेंगे न्यायिक जांच

जहरीली शराब पीने से अमृतसर, तरनतारन और बटाला में दो दिन में 30 लोगों की मौत हो गई। गुरुवार को जहां अमृतसर जिले के गांव मुच्छल में 5 लोगों की मौत हो गई थी, वहीं शुक्रवार को और 4 लोगों ने दम तोड़ दिया। इनमें से अमृतसर में मरने वालों की संख्या 9 हो गई है, वहीं 15 लोग अकेले तरनतारन तो 6 गुरदासपुर के बटाला में भी मौत के मुंह में चले गए। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

मामले में अमृतसर के एसएसपी विक्रमजीत दुग्गल ने कहा कि मामले की पूरी जांच करवाई जाएगी। दुग्गल ने थाना प्रभारी बिक्रमजीत सिंह को सस्पेंड करते हुए एसपी (डी) गौरव तुर्रा की अध्यक्षता में 4 मेंबरी एसआईटी बना दी है। वहीं, तरनतारन के डीसी कुलवंत सिंह धूरी का कहना है कि मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं, तीन जिलों में जहरीली शराब से मौत का मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जालंधर के डिविजनल कमिश्नर को न्यायिक जांच करने के आदेश दिए हैं। इस जांच में ज्वाइंट एक्सरसाइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर और संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षक भी शामिल होंगे।

गांव मुच्छल के करीब तीस घरों में अवैध शराब का धंधा करते हैं लोग

मुच्छल गांव के गुरप्रीत सिंह की मां जागीर कौर के अलावा मंगल सिंह, दलबीर सिंह, बलदेव सिंह और बलविंदर सिंह के परिजनों ने आरोप लगाया कि गांव में 30 से अधिक घर अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं। सस्ती शराब के चक्कर में युवाओं की जिंदगी से खेला जा रहा है। हालांकि इन सभी का पुलिस को सूचित किए बिना ही अंतिम संस्कार कर दिया गया था। अब जबकि आरोप है कि पुलिस की मिलीभगत के चलते गांव के कई घरों में देसी शराब निकालकर बेची जाती है तो इस बारे में सब इंस्पेक्टर अनूप सिंह ने बताया कि पुलिस पीड़ितों के बयान ले रही है।

अमृतसर के गांव मुच्छल में पुलिस की मिलीभगत से अवैध शराब के कारोबार संबंधी बात करते मृतकाें के परिजन।

मृतकों के नाम
मृतकों में अमृतसर जिले के जंडियाला गुरु इलाके के मुच्छल गांव के मंगल सिंह, बलविंदर सिंह, दलबीर सिंह, गुरप्रीत सिंह, कश्मीर सिंह ,काका सिंह ,कृपाल सिंह ,जसवंत सिंह , जोगा सिंह के अलावा कांगड़ा गांव के बलदेव सिंह शामिल हैं। वहीं, बटाला शहर में बूटा राम, भिंडा, रिंकू सिंह, काला, कालू , बिल्ला और जितेंद्र की मौत हुई है।

उधर, तरनतारन जिले में मारे गए लोगों में गांव नौरंगाबाद निवासी धर्म सिंह, साहिब सिंह, तेजा सिंह, हरबंस सिंह, सुखदेव सिंह, गांव मल्लमोहरी निवासी मिट्ठू सिंह, नाजर सिंह (पिता-पुत्र), जोधपुर निवासी मिट्ठू सिंह, भुल्लर निवासी प्रकाश सिंह, गांव बचड़े गुरमेल सिंह के नाम हैं। साथ ही तरनतारन निवासी रणजीत सिंह, हरजीत सिंह, हरजीत सिंह हीरा, भाग मल्ल सिंह, अमरीक सिंह शामिल है।

0

CBI should take up Sushants suicide case: Sushil Modi – सुशांत की आत्महत्या के मामले को CBI को अपने हाथ में ले लेना चाहिए: सुशील मोदी


सुशांत की आत्महत्या के मामले को CBI को अपने हाथ में ले लेना चाहिए: सुशील मोदी

सुशील मोदी (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और राज्य भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले से निपटने को लेकर मुंबई पुलिस की शुक्रवार को आलोचना की. सुशील मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘मुंबई पुलिस सुशांत की मौत के मामले में बिहार पुलिस की निष्पक्ष जांच के रास्ते में रुकावट डाल रही है. बिहार पुलिस पूरी कोशिश कर रही है, लेकिन मुंबई पुलिस सहयोग नहीं कर रही है. भाजपा को लगता है कि यह मामला सीबीआई को अपने हाथ में ले लेना चाहिए.”

यह भी पढ़ें

इस बीच, मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने राजपूत की आत्महत्या के मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा. लोकसभा में पश्चिम चंपारण का प्रतिनिधित्व करने वाले जायसवाल ने एक बयान जारी करके कहा, ‘‘इस बात का हमेशा संदेह रहा है कि मुंबई पुलिस चीजों को दबाने की कोशिश कर रही है और दौरे पर गए बिहार पुलिस दल के साथ सहयोग नहीं करने की खबरों के मद्देनजर ये आशंकाएं और बढ़ गई हैं.” उन्होंने पूरे मामले की जांच बिहार पुलिस को सौंपे जाने की मांग की. 

VIDEO: सुशील मोदी ने वित्त मंत्री को लिखा, ‘केंद्र प्रायोजित 66 योजनाओं का खर्च वहन करे केंद्र सरकार’