4 positive patients of Tricity report negative, hospital leave | चंडीगढ़ में चार मरीजों ने कोरोना को हराया; घर जाने से पहले डॉक्टरों को शुक्रिया कहा, सैल्यूट भी किया

4 positive patients of Tricity report negative, hospital leave | चंडीगढ़ में चार मरीजों ने कोरोना को हराया; घर जाने से पहले डॉक्टरों को शुक्रिया कहा, सैल्यूट भी किया


  • चंडीगढ़ के 3 और मोहाली के एक मरीज को ठीक होने पर घर भेजा गया

  • ब्रिटेन से लौटीं डॉक्टर पारुल और उनकी मां दोनों इलाज के बाद घर लौटीं

दैनिक भास्कर

Apr 04, 2020, 06:32 PM IST

चंडीगढ़/मोहाली. देश में कोरोनावायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3 हजार के पार हो चुकी है। शनिवार को मौतों का आंकड़ा भी 100 के करीब पहुंच गया। महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच क्वारैंटाइन सेंटर और आइसोलेशन वार्ड में इलाज के बाद कुछ मरीजों के ठीक होने की खबरें भी आ रही हैं। चंडीगढ़ में 4 मरीज कोरोना से जंग जीतकर घर लौटे हैं। वहीं, राजस्थान के सबसे ज्यादा प्रभावित इलाके भीलवाड़ा में भी 9 मरीज ठीक हुए। घर लौट रहे मरीज डॉक्टरों और अस्पताल स्टाफ का शुक्रिया अदा कर रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए उन्हें सैल्यूट कर रहे हैं।

चंडीगढ़ में 15 संक्रमित, 4 ठीक हुए
1. शहर में कोरोना को मात देकर घर लौटने वाले मरीजों में पहला नाम डॉ. पारूल का है। वह 14 मार्च को ब्रिटेन से लौटी थीं। 15 मार्च को तबीयत खराब हुई। खांसी-बुखार होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया। 18 मार्च को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इलाज चला और दो दिन पहले उन्हें हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई। 

2. इसी तरह 42 साल के अमनदीप भी इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। वह इंग्लैंड से चंडीगढ़ लौटे थे। यहां उन्हें खांसी और बुखार की शिकायत पर हॉस्पिटल ले जाया गया। सैंपल की जांच पॉजिटिव आई थी। 14 दिनों से ज्यादा समय तक इलाज के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गई। अमनदीप डॉक्टरों का शुक्रिया अदा करना चाहते थे। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए उन्होंने बैनर दिखाकर डॉक्टरों और नर्सिंग स्टॉफ को थैंक यू कहा।

3. इस लिस्ट में तीसरा नाम है मनप्रीत का। वह दुबई से लौटे थे। खांसी-जुकाम हुआ तो डॉक्टर को दिखाया। रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई। लेकिन, मनप्रीत डरे नहीं और डॉक्टर इलाज में जुटे रहे। नतीजा अब मनप्रीत भी घर जा चुके हैं। उन्होंने डॉक्टरों का शुक्रिया अदा किया।

4. कोरोना को हराने वालीं चौथी मरीज हैं डॉक्टर पारुल की मां। बेटी के ब्रिटेन से लौटने पर उन्हें भी घर में क्वारैंटाइन किया गया था। उनकी रिपोर्ट में भी संक्रमण की पुष्टि हुई। इलाज चला और उन्होंने भी करोनो को मात दी। चार मरीजों के डिस्चार्ज होने पर चंडीगढ़ के प्रशासक मनोज परिदा ने भी डॉक्टर्स को सैल्यूट किया।

उधर, भीलवाड़ा में 9 मरीजों ने कोरोना को हराया

राजस्थान के भीलवाड़ा में कुल 26 संक्रमित मिले थे। इनमें से 17 की रिपोर्ट अब निगेटिव है। इसमें से शुक्रवार को 9 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। जब कोरोना के मरीजों को डिस्चार्ज किया जा रहा था तब भीलवाड़ा के कलेक्टर राजेंद्र भट्ट खुद मौजूद थे। जिन्होंने घर लौट रहे मरीजों को गुलाब के फूल दिए। वहीं, मरीजों ने हॉस्पिटल के डॉक्टरों और दिन-रात मेहनत करने वाले स्टाफ का शुक्रिया अदा किया।

भीलवाड़ा में शुक्रवार को 9 संक्रमितों को इलाज के बाद छुट्टी दी गई। कलेक्टर ने घर लौट रहे लोगों को गुलाब बांटे।

Leave a Reply