after kvs and gujarat will CBSE board also Promote School Students to next class know – Coronavirus: क्या दूसरे बोर्ड के बाद CBSE भी करेगा स्टूडेंट्स को पास? जानिए डिटेल में


नई दिल्ली:

CBSE Results 2020: कोरोनावायरस (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए देशभर के सभी स्कूल, कॉलेज और  यूनिवर्सिटी बंद कर दिए गए हैं. कई जगह परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई हैं. वहीं, देश में लॉकडाउन की वजह से कई बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को छोड़कर बाकी सभी कक्षाओं के स्टूडेंट्स को बिना एग्जाम दिए ही पास कर दिया है. वहीं, सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी कि सीबीएसई ने भी कोरोनावायरस के चलते 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षाएं बीच में ही रद्द कर दी हैं, लेकिन पहली क्लास से 9वीं क्लास और 11वीं के स्टूडेंट्स को अगली क्लास में प्रमोट करने के बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है. जबकि दूसरे कई बोर्ड ने पहली से 9वीं और 11वीं क्लास के स्टूडेंट्स को बिना एग्जाम दिए ही पास कर दिया है. 

सीबीएसई से जब स्टूडेंट्स को पास करने के बारे में पूछा गया तो सीबीएसई की प्रवक्‍ता रमा शर्मा ने कहा, “सीबीएसई बोर्ड सिर्फ 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं आयोजित कराता है. इसलिए बोर्ड दूसरी क्लास के एग्जाम और प्रमोशन के लिए जिम्मेदार नहीं है. शिक्षा निदेशालय (DoE) के फैसले के बाद ही इसपर निर्णय लिया जाएगा.”

KVS ने स्कूल स्टूडेंस को  किया पास

कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते देश के सभी केंद्रीय विद्यालय संगठन (KVS) पहली से 8वीं तक सभी स्टूडेंट्स को पास करेंगे, चाहें उन्होंने एग्जाम दिए हों या फिर नहीं. 

टिप्पणियां

गुजरात सरकार 1 से 9वीं और 11वीं क्लास के स्टूडेंट्स को करेगी पास

गुजरात सरकार ने घोषणा की है कि पहली से लेकर 9वीं तक और 11वीं के स्टूडेंट्स को बिना परीक्षा दिए ही पास किया जाएगा और सभी स्कूल फिलहाल बंद रहेंगे. वहीं गुजरात के 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षाएं पहले ही हो चुकी हैं. लेकिन दूसरी क्लासेस के एग्जाम नहीं हो पाए थे, क्योंकि 15 मार्च से कोरोनावायरस के डर से सभी स्कूल बंद कर दिए गए थे. इसी के मद्देनजर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने पहली से 9वीं तक और 11वीं के स्टूडेंट्स को बिना एग्जाम दिए ही पास करने का फैसला किया है. 

तमिलनाडु सरकार ने स्टूडेंट्स को किया पास

तमिलनाडु सरकार ने भी पहली क्लास से 9वीं क्लास तक के स्टूडेंट्स को पास करने का फैसला किया है.