Arvind Kejriwal: Arvind Kejriwal Delhi Government On Coronavirus Novel Corona COVID-19 Quarantine Facility | राज्य सरकार ने कहा- तीन होटलों के 192 कमरों में क्वारैंटाइन सुविधा, प्रत्येक दिन कमरे का किराया 3100 रु.होगा


  • दिल्ली सरकार ने क्वारैंटाइन सुविधा के लिए कमरे अलग रखने का आदेश दिया, महामारी बीमारी कोविड-19 अधिनियम के तहत जारी किया
  • दिल्ली के आईबिस होटल के 92 कमरे, लेमन ट्री के 54 कमरे और रेड फॉक्स होटल के 36 कमरे क्वारैंटाइन सुविधा के लिए इस्तेमाल होंगे

दैनिक भास्कर

Mar 16, 2020, 10:39 PM IST

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास स्थित तीन होटलों को कुल 182 कमरे क्वारैंटाइन सुविधा के लिए रिजर्व रखने का आदेश दिया है। इन कमरों में विदेश से आने वाले उन संदिग्ध लोगों को रखा जाएगा, जिनमें संक्रमण की आशंका है। यह जानकारी नई दिल्ली की मजिस्ट्रेट तन्वी गर्ग ने अंग्रेजी अखबार से बातचीत में दी। उन्होंने बताया कि यह आदेश महामारी बीमारी, कोविड-19 अधिनियम के तहत जारी किया गया है। क्वारैंटाइन सुविधा के लिए दिल्ली के आईबिस होटल के 92 कमरे, लेमन ट्री के 54 कमरे और रेड फॉक्स होटल के 36 कमरे लिए जाएंगे। दिल्ली सरकार ने यह फैसला तीनों होटल के प्रबंधन से विचार-विमर्श के बाद लिया गया है।

एक कमरे का टैक्स समेत हर दिन का किराया 3,100 रु. तय किया गया है। क्वारैंटाइन रहने के दौरान लक्झरी सुविधाओं की इच्छा रखने वाले विदेशी नागरिक को अपना बिल खुद चुकाना होगा। इन होटलों में जिन संदिग्धों को रखा जाएगा, उन्हें नाश्ता, दिन-रात का भोजन, दो बोतल मिनरल वाटर, चाय और कॉफी के अलावा टीवी-वाईफाई की सुविधा भी होटल की ओर से ही दी जाएगी। 

होटल में रहने वाले संदिग्धों पर भी नजर रखी जाएगी

दिल्ली सरकार ने होटलों को निर्देशित किया है कि यह सुनिश्चित करें कि अलग-थलग रखे गए लोगों के कपड़ों को दूसरे लोगों के कपड़ों के साथ न रखा जाए। सभी को डिस्पोजेबल प्लेट या डिब्बों में खाना दिया जाए। बचे हुए खाने को बायो-मेडिकल वेस्ट हटाने के प्रोटोकॉल के तहत नष्ट किया जाए। होटल में रहने वाले संदिग्धों पर सुरक्षाकर्मी लगातार नजर बनाकर रखेंगे। होटल प्रबंधन भी सीसीटीवी से इन लोगों की गतिविधियों पर नजर रखेगा।