Ashok Gehlot | Rajasthan Political Crisis Latest Today News Updates: Ashok Gehlot Camp MLA Shift From Jaipur Hotel To SMS Hospital | राजभवन पहुंच रहे गहलोत सोमवार को विधानसभा सत्र बुलाना चाहते हैं, लेकिन कोरोना की वजह से राज्यपाल मंजूरी देने के पक्ष में नहीं

Ashok Gehlot | Rajasthan Political Crisis Latest Today News Updates: Ashok Gehlot Camp MLA Shift From Jaipur Hotel To SMS Hospital | राजभवन पहुंच रहे गहलोत सोमवार को विधानसभा सत्र बुलाना चाहते हैं, लेकिन कोरोना की वजह से राज्यपाल मंजूरी देने के पक्ष में नहीं


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ashok Gehlot | Rajasthan Political Crisis Latest Today News Updates: Ashok Gehlot Camp MLA Shift From Jaipur Hotel To SMS Hospital

जयपुर4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा- जनता राजभवन घेरेगी तो हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी
  • अयोग्यता नोटिस पर राजस्थान हाईकोर्ट में आज सुनवाई हुई, कोर्ट ने कहा- स्पीकर अभी बागी विधायकों पर कार्रवाई नहीं कर सकते

राजस्थान में सियासी घमासान का शुक्रवार को 15वां दिन है। विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्यपाल कलराज मिश्र के आमने-सामने आने की खबर है। मुख्यमंत्री ने आज सख्त लहजे में इसे लेकर नाराजगी जताई और कहा कि विधानसभा का सत्र बुलाने के लिए उन्होंने राज्यपाल को चिट्ठी लिखी थी। लेकिन उन्होंने अभी तक जवाब नहीं दिया। अब हम सभी विधायकों के साथ राजभवन जाएंगे।

भास्कर के सूत्रों के मुताबिक, कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से राज्यपाल अभी विधानसभा सत्र बुलाने के पक्ष में नहीं हैं। हालांकि, उन्होंने अभी इस बारे में आखिरी फैसला नहीं लिया है। गहलोत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- हमें उम्मीद थी कि रात को आदेश जारी कर देंगे। अब तक इंतजार किया, लेकिन जवाब नहीं आया है। यह बात समझ से परे है, क्योंकि गवर्नर साहब को मानना ही पड़ता है। अनुरोध को रोकने का कोई कारण नहीं है। ऊपर से दवाब के चलते तो वे ऐसा नहीं कर रहे हैं?

गहलोत ने कहा- सोमवार को सत्र बुलाना चाहते हैं 

  • मुख्यमंत्री ने कहा- राजस्थान में परंपरा नहीं रही है सरकार गिराने की। हमने टेलीफोन से भी राज्यपाल से बात की। हम सोमवार से सत्र बुलाना चाहते हैं। पूरा देश देखेगा। प्रदेश देखेगा कि किस तरह का दबाव पड़ रहा है। किन कारणों से सत्र नहीं बुला रहे हैं। मैं बार-बार कह रहा हूं कि मेरे पास बहुमत है। हमारे कुछ लोगों को बीजेपी के लोगों ने बंधक बनाकर रखा है, वे हमारे साथी हैं। वे रो रहे हैं। टेलीफोन कर रहे हैं कि हमें यहां से छुड़ाओ।
  • उन्होंने कहा- यह पूरा खेल। साजिश है। कर्नाटक, मध्यप्रदेश के बाद वे राजस्थान में यही करना चाहते हैं। जनता हमारे साथ है। इनकम टैक्स, ईडी के सीबीआई के छापे डाले जा रहे हैं। ऐसे नंगा नाच कभी देखा नहीं है देश के अंदर। आप अंतरआत्मा के आधार पर फैसला करें, वरना राजभवन को घेरने के लिए अगर जनता आ गई, तो हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी।

अपडेट्स

  • मुख्यमंत्री गहलोत ने फेयरमोंट होटल में विधायक दल की बैठक।
  • गहलोत खेमे के विधायक बाबूलाल की तबीयत आज बिगड़ गई। उन्हें फेयरमोंट होटल से अस्पताल में शिफ्ट किया गया। बाबूलाल अजमेर जिले के कठूमर से विधायक हैं।
  • खबर है कि गहलोत खेमे के विधायक होटल के खाने से परेशान हो गए हैं। जिसके कारण अब विधायकों के घर से खाना मंगाया जा रहा है। साथ ही विधायकों को होटल के अंदर के फोटो बाहर शेयर करने के लिए भी मना किया गया है। 
  • केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने आज कांग्रेस पर तंज कसा। 

​​​​​पूनिया ने कहा- अब पायलट को तय करना है
इस बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा, ‘यदि हालात अच्छे रहे तो सचिन पायलट मुख्यमंत्री बन सकते हैं। उन्होंने इसे ध्यान में रखते हुए एक बड़ा कदम उठाया है। मामला फिलहाल कोर्ट में और इसलिए कोई बयान देना जल्दबाजी होगी। सबसे पहले, यह पायलट को तय करना है कि उनका अगला कदम क्या होगा और उसके बाद फिर हम विचार करेंगे।’ न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में पूनिया से उन हालात के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि राजनीति में कई समीकरण बनते हैं। छोटे दल के लोग भी मुख्यमंत्री बनते हैं। हालांकि, भाजपा ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है।

राजस्थान के सियासी घटनाक्रम से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें  

1. राजस्थान में अब सीएम बनाम गवर्नर:गहलोत बोले- राजभवन घेरने जनता आ गई तो हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी, राज्यपाल किसी के दबाव में आए बिना फैसला करें

2. राजस्थान में सियासी घमासान/राजस्थान के सीएम गहलोत बोले- हमारे पास बहुमत है, विधानसभा सत्र जल्द बुलाएंगे; केंद्र की जांच एजेंसियों के छापों से डरने वाले नहीं

3. राजस्थान की सियासी लड़ाई/ सुप्रीम कोर्ट ने कहा- लोकतंत्र में असहमति को नहीं दबाया जा सकता, विधायकों की अर्जी पर फैसला सुनाने से हाईकोर्ट को नहीं रोकेंगे; अगली सुनवाई सोमवार को

4. राजस्थान की राजनीति/सीएम, पूर्व डिप्टी सीएम, केंद्रीय मंत्री, पूर्व मंत्री और 19 विधायकों समेत 48 को मिले नोटिस; 9 दिन में यह मामला हाईकाेर्ट फिर सुप्रीम कोर्ट जा पहुंचाम कोर्ट जा पहुंचा

0


Leave a Reply