Bhopal News In Hindi : Coronavirus Madhya Pradesh (MP) Lockdown Live: Corona Virus Cases in MP Bhopal Gwalior Ujjain Vidisha Seoni Chhatarpur, Jabalpur (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates | ग्वालियर में जमातियों ने डॉक्टरों पर थूका, भोपाल में कॉलोनियों के गेट पर ताले लगे; इंदौर में कलेक्टर ने बाहर दिखने पर गिरफ्तारी के आदेश दिए


  • भोपाल में निजामुद्दीन मरकज से लौटे 20 जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए, एक हजार लोगों में संक्रमण का खतरा
  • भोपाल, इंदौर, उज्जैन और ग्वालियर में टोटल लॉकडाउन, उज्जैन में सिर्फ होम डिलीवरी से सामाना मंगाया जा सकेगा

दैनिक भास्कर

Apr 06, 2020, 04:14 PM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में लॉकडाउन का आज 13वां दिन है। यहां कोरोना संक्रमित बढ़ रहे हैं। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शिरकत के बाद लौटे जमातियों के संपर्क में आने वाले कई लोग संक्रमित हो चुके हैं। कुछ पर यह खतरा मंडरा रहा है। भोपाल में 20 जमाती पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। यहां टोटल लॉकडाउन है। ग्वालियर में क्वारैंटाइन किए गए जमातियों द्वारा डॉक्टरों से बदसलूकी और उन पर थूकने की शिकायतें मिली हैं। भोपाल और इंदौर कलेक्टर ने नियमों का उल्लंघन करने वालों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं।

भोपाल में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा बढ़ गया है। कलेक्टर तरुण पिथोड़े के निर्देश पर एडीएम सतीश कुमार ने धारा 144 के पहले से लागू आदेश में संशोधन कर दिया। नए आदेश के मुताबिक, नियमों का उल्लंघन करने पर गिरफ्तारी की जाएगी। सोमवार से सिर्फ मेडिकल स्टोर, दूध पार्लर और होम डिलीवरी की सुविधा रहेगी। पेट्रोल पंप, किराना और अन्य दुकानें की छूट खत्म कर दी गई है। सड़क पर घूमते पाए जाने पर गिरफ्तार किया जाएगा। आपातकालीन सेवाओं के अतिरिक्त अन्य सभी कारणों के लिए दिए गए पास भी सस्पेंड कर दिए गए हैं। पुराने भोपाल में पुलिस को नियमों का पालन कराने में मशक्कत करनी पड़ रही है।

भोपाल : 20 जमातियों के संपर्क में आए 1000 लोगों पर संक्रमण का खतरा

भोपाल में पुराने शहर में जमातों के संपर्क में आए लोगों के घर-घर जाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम स्कैनिंग कर रही है।

निजामुद्दीन से लौटे 20 जमातियों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शहर में एक हजार लोगों में संक्रमण का खतरा है। इसमें से 300 लोग ऐसे हैं जो सीधे इन 20 जमातियों के संपर्क में थे। इनकाे होम क्वारैंटाइन किया गया है। पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम 700 लोगों की तलाश कर रही है। इसके चलते ही लॉकडाउन में सख्ती की गई है। लोगों से भी यह अपील की जा रही है कि जो भी इन जमातियों के संपर्क में रहा है उसकी जानकारी पुलिस और प्रशासन को दें। माना जा रहा है कि इनके संपर्क में आने से ही सब्जी कारोबारी अब्दुल गफ्फार और उनके बेटे सरफराज संक्रमित हुए। स्वास्थ्य विभाग के अफसर और कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद 172 लोगों को होम क्वारेैंटाइन करा दिया गया है।

ग्वालियर: जमातियों ने डॉक्टरों पर थूका, खाने में नॉनवेज मांगा

महाराष्ट्र, तेलंगाना, गुजरात और बिहार से आकर ग्वालियर के सिस गांव में रह रहे 9 जमातियों समेत 10 लोगों को क्वारैंटाइन सेंटर में भेजा गया। यहां इन लोगों ने हंगामा किया। डॉक्टरों से बदतमीजी की और उन पर थूका। यहां मिलने वाला खाना खाने से इनकार कर दिया।  इन्होंने नॉनवेज मांगा। हंगामा बढ़ने पर पुलिस तैनात की गई। हालांकि, जमातियों पर फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

उज्जैन: 8वां मरीज मिलने के बाद सख्ती 
सोमवार से शहर की किराना, ग्रोसरी, ब्रेड, फल, सब्जी दुकानें और दूध डेयरियां पूरी तरह से बंद कर दी गईं। अब गैस एजेंसियों तक भी लोग नहीं जा सकेंगे। यदि लोगों को इनमें से किसी चीज की जरूरत है तो वे होम डिलीवरी के लिए ऑर्डर कर सकते हैं। संबंधित दुकानदार रात 8 बजे तक होम डिलीवरी करेंगे। कलेक्टर शशांक मिश्रा ने बताया धारा-144 के तहत रविवार देर रात ये आदेश जारी किए हैं। एसएसपी सचिन अतुलकर ने कहा- आदेश का लोगों से सख्ती से पालन कराया जाएगा। यदि कोई बेवजह सड़क पर मिला तो धारा-188 के तहत केस दर्ज किया जाएगा। उज्जैन में रविवार को आठवां पॉजिटिव सामने आया। दो दिन पहले जिस महिला की अस्पताल में खड़ी एंबुलेंस में मौत हुई थी, उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब तक यहां 3 संक्रमितों की मौत हो गई है। 5 पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। 

विदिशा : एक पॉजिटिव जो असम से आया था 
जिले की सिरोंज तहसील में असम से आए एक जमाती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि असम से 10 लोगों की जमात निजामुद्दीन की मरकज होते हुए यहां पहुंची थी। इन सभी लोगों को एक निजी स्कूल में क्वारैंटाइन कर दिया गया है। 9 जमातियों की रिपोर्ट नहीं आई है। पॉजिटिव मरीज को सिरोंज के सरकारी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया। सिरोंज में कर्फ्यू लगा दिया गया है। ये जमाती करीब दस दिन से शहर में हैं। पांच दिन पहले सभी को एक स्कूल में क्वारैंटाइन किया गया था। इससे पहले इन जमातियों ने पूरे शहर में धार्मिक प्रचार किया था।

सिवनी: बांग्लादेशी युवक भी कोरोना संदिग्ध

बांग्लादेश से भारत आया युवक इमरान अभी पुलिस हिरासत में है। उसे क्वारैंटाइन कर जांच के लिए ब्लड सैंपल भोपाल एम्स भेजे। इधर, अजमेर से लौटे पिपरिया (समनापुर) के 22 वर्षीय कोरोना संदिग्ध युवक की रिपोर्ट नहीं आई। जिले में अब तक कोरोना के 14 संदिग्ध सामने आए हैं। 12 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई। दो रिपोर्ट आना बाकी है। सिवनीमालवा टीआई संजय चौकसे ने बताया कि बांग्लादेशी युवक इमरान करीब तीन माह पहले बॉर्डर पार कर भारत में घुस आया था। 

छतरपुर: मस्जिदों में मिले 14 जमाती, 4 सैंपल भेजे गए

सिटी कोतवाली क्षेत्र की दो मस्जिदों में रह रहे 14 जमातियों की जिला अस्पताल में जांच कराई गई। 10 लोगों का टेम्परेचर सामान्य था। 4 लोगों का टेम्परेचर ज्यादा पाया गया। इन्हें आईसोलेट किया गया है। सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। 

मप्र में 223 कोरोना संक्रमित

मध्य प्रदेश में 223 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इनमें इंदौर 135, भोपाल 46, मुरैना 12, जबलपुर 8, उज्जैन 8, खरगोन 4, बड़वानी 3, ग्वालियर, शिवपुरी और छिंदवाड़ा में 2-2, विदिशा में एक संक्रमित मिला। अब तक इंदौर में 10, उज्जैन में 3, भोपाल, छिंदवाड़ा, खरगोन में एक-एक की मौत हो गई। इसमें जबलपुर 3, भोपाल 2, शिवपुरी और ग्वालियर में एक-एक मरीज स्वस्थ्य होने पर घर भेज दिया गया।