Bihar News In Hindi : Patna Janata Curfew Coronavirus Live | Read Janata Curfew News In Bihar Patna Darbhanga Buxar Hospital BUS Railway Train Latest Today Updates | बिहार में कोरोना की पहली खबर मौत से आई; पटना-रांची समेत प्रमुख शहरों में सड़कों पर सन्नाटा, मॉल और दुकानें बंद

Bihar News In Hindi : Patna Janata Curfew Coronavirus Live | Read Janata Curfew News In Bihar Patna Darbhanga Buxar Hospital BUS Railway Train Latest Today Updates | बिहार में कोरोना की पहली खबर मौत से आई; पटना-रांची समेत प्रमुख शहरों में सड़कों पर सन्नाटा, मॉल और दुकानें बंद


  • कोरोना से मरने वाला सैफ अली मुंगेर का रहने वाला था, पिछले दिनों कतर से लौटा था
  • धनबाद, जमशेदपुर, मुजफ्फरपुर और भागलपुर समेत अन्य शहरों में सड़कें सुनसान
  • पटना में जरूरी समान खरीदने के लिए इक्का-दुक्का लोग ही बाहर निकल रहे

दैनिक भास्कर

Mar 22, 2020, 12:52 PM IST

पटना/ रांची. बिहार-झारखंड में जनता कर्फ्यू का व्यापक असर दिख रहा है। रांची, धनबाद, जमशेदपुर, पटना, मुजफ्फरपुर और भागलपुर समेत अन्य शहरों में सड़कें सुनसान हैं। इस बीच पटना में एक 38 साल के युवक की कोरोना से मौत हो गई। मृतक सैफ अली मुंगेर का रहने वाला था। वह कतर से आया था और 20 मार्च को एम्स में भर्ती हुआ था। वह डायबिटिज का रोगी था और उसे किडनी संबंधित बीमारी भी थी। एम्स में उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। एम्स के डायरेक्टर ने उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि की है। वहीं, बिहार में दो संदिग्ध मामले भी सामने आए हैं। मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि गया में एक कोरोना संदिग्ध की मौत हो गई और एक संदिग्ध महिला एम्स में भर्ती है। मरने वाला संदिग्ध की पहचान बीएमसी (बोधगया टेंपल मैनेजमेंट कमेटी) के ड्राइवर अर्जुन कुमार के तौर पर की गई है। उसे 5 दिन पहले संक्रमण के लक्षण नजर आने के बाद एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया था। तबीयत बिगड़ने पर शनिवार की रात 11:25 बजे उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां12:00 बजे उसकी मौत हो गई । अभी तक उसके काेरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट नहीं आई है।

पटना में लोग जनता कर्फ्यू का समर्थन करते हुए घरों में बंद हैं। जरूरी समान खरीदने के लिए इक्का-दुक्का लोग ही बाहर निकल रहे हैं। पाटलीपुत्र स्थित साईं मंदिर चौराहे पर सुबह सड़क पर सन्नाटा था। कुछ लोग दूध और चाय की दुकान पर खड़े थे। उधर, रांची में भी सभी मॉल, दुकानें और पेट्रोल पंप बंद है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर लोगों से घरों में रहने की अपील की है।

पटना के हाल

  • बेली रोड, डाकबंगला चौराहा, फ्रेजर रोड, गांधी मैदान, कंकड़बाग, राजेंद्र नगर, दानापुर और सगुना मोड़ समेत प्रमुख सड़कों पर आम दिनों में सुबह से ही भारी भीड़ रहती है और आए दिन जाम लगता है। लेकिन जनता कर्फ्यू की वजह से यहां सन्नाटा पसरा है। राजीव नगर, आशियाना नगर, गांधी नगर, बेऊर मोड़ इलाके में भी लोग घरों से नहीं निकल रहे हैं। लोगों का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी की अपील का हम समर्थन करेंगे और बिना किसी जरूरी काम के घरों से नहीं निकलेंगे। 
  • पाटलीपुत्र गोलंबर पर सन्नाटा दिखा। यहां से बोरिंग रोड तक एक-दो बाइक और कारें ही सड़क पर चलती दिखीं। दो-चार लोग मॉर्निंग वाक पर भी निकले। बोरिंग रोड चौराहे पर स्थित दूध की दुकान पर तीन-चार लोग दिखे। यही स्थिति आयकर गोलंबर और डाकबंगला चौराहा पर दिखी। सड़क पर ट्रैफिक न के बराबर था। करगिल चौक और गांधी मैदान इलाके में भी जनता कर्फ्यू के चलते लोग नहीं दिखे। यहां एक-दो सिटी बस चलती दिखीं, लेकिन वे खाली थीं। रविवार सुबह साई मंदिर में पूजा के लिए भी एक-दो लोग पहुंचे। पटना महावीर मंदिर में भक्तों की संख्या कम है।
  • आमदिनों में वाहनों से भरे रहने वाले बेली रोड पर आज सन्नाटा है। एक दो कार और बाइक सड़क पर दिख रही है। राजवंशी नगर चौराहा पर सुबह दूध की दुकान खुली थी बाद में वह भी बंद हो गई। यहां चाय, सब्जी और फल की दुकानें बंद हैं। भट्टाचार्या रोड में भी दुकानें बंद हैं। बाबा चौक से पटना जंक्शन के लिए बसें खुलती हैं, लेकिन वे बसें भी आज स्टैंड में खड़ी हैं। लाल बाबू मार्केट का भी यही हाल है। शहर में कुछ जगह चाय दुकान पर लोग जुटे थे, प्रशासन ने लोगों को जनता कर्फ्यू में सहयोग करने को कहा, जिसके बाद चाय दुकानें भी बंद हो गईं।

सभी जरूरी सामान उपलब्ध, कालाबाजारी पर प्रशासन की पैनी नजर
कोरोना के कहर से शहर के ज्यादातर शॉपिंग मॉल बंद कर देने के बाद लोगों में असमंजस है। वे रोजमर्रा की जरूरतों का सामान जमा कर लेना चाहते हैं। हालांकि, डीएम कुमार रवि  ने कहा है कि मोहल्लों के दुकानों पर दूध, दवा और किराना का सामान उपलब्ध रहेगा। इसकी कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। सामान को स्टॉक करने की कोई जरूरत नहीं है। जरूरत के हिसाब से लोग खरीदारी करें। इसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है, ताकि संकट की स्थिति पैदा न हो। कंट्रोल रूम नंबर 0612-2219810 पर किसी तरह की परेशानी होने की सूचना देने पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। स्टोर संचालकों का भी कहना है कि हर चीज की सप्लाई जारी है। सभी खाद्य पदार्थों के रेट सामान्य हैं। कालाबाजारी पर प्रशासन की पैनी नजर है।

कर्फ्यू के बीच बिहार के लोगों को लेकर विशेष ट्रेन दानापुर पहुंची

पुणे से बिहार के यात्रियों को लेकर विशेष ट्रेन दानापुर पहुंचीं। डीएम कुमार रवि और पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा की मौजूदगी में यहां सभी यात्रियों की जांच की गई। एनएमसीएच के डॉक्टरों की टीम सुबह से ही स्टेशन पर यात्रियों की जांच के लिए तैनात है। हर यात्री को जांच के बाद ही आगे जाने की इजाजत दी जा रही है। जांच के बाद यात्रियों को वाहन से क्वारैंटाइन सेंटर पर भेजा जा रहा है। इस बीच दूसरी ट्रेन से यहां पहुंचे दो विदेशी नागरिकों की भी दानापुर स्टेशन पर स्क्रीनिंग की गई।

दानापुर स्टेशन पर दो विदेशियों की स्क्रीनिंग की गई।

रांची के हाल

  • रांची में राजभवन के पास लगने वाला बाजार पूरी तरह से बंद है। आम दिनों में यहां भारी भीड़ रहती है। शहर का सेंटर माने जाने वाले फिरायाल चौक पर भी जनता कर्फ्यू का समर्थन देखने को मिल रहा है। यहां सभी दुकानें बंद हैं। फुटपाथ पर लगने वाला बाजार भी नहीं लगा। रांची स्टेशन और खादगढ़ा बस स्टैंड के बाहर कुछ यात्री दिखे जो दूसरे जिलों से यहां पहुंचे थे, लेकिन ऑटो न चलने की वजह से वे पैदल ही घरों की ओर निकले। 
  • जनता कर्फ्यू को लेकर पुलिस नियमित गश्ती में जुटी है। सड़कों पर निकलने पर पुलिस लोगों को समझा रही है और घरों में रहने की अपील कर रही है।  इस बीच जनता कर्फ्यू को लेकर मंदिरों के कपाट भी नहीं खुले। रांची के पहाड़ी मंदिर समेत तमाम छोटे-बड़े मंदिर बंद हैं। मंदिरों के आसपास लगने वाली दुकानें भी नहीं खुली हैं। शहर के सभी पेट्रोल पंप बंद हैं।
  • बोकारो, धनबाद, गोड्डा, गढ़वा, लोहरदगा, पलामू, चतरा, गोमा, जमशेदपुर के आदित्यपुर इंडस्ट्रियल एरिया में भी सड़कें सुनसान रही। दुकानें भी बंद है।

झारखंड ने बाहर से आने वाली ट्रेनों पर रोक लगाने की मांग की

झारखंड सरकार ने रेलवे से बाहर से आने वाली ट्रेनों के राज्य में आने पर रोक लगाने के लिए कहा है। मुख्य सचिव डीके तिवारी ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन चिट्‌ठी लिखकर यह मांग की है। उन्होंने चिट्‌ठी में लिखा है कि झारखंड सरकार ने लोगों के एक जगह जुटने पर कड़ी पाबंदी लगाई है। रेलवे भी इसमें सहयोग करे और सुनिश्चित करे कि 22 मार्च से 31 मार्च तक बाहर की ट्रेनें राज्य में न आएं।

आपका अपने घर पर रुकना महामारी रोकने का अचूक हथियार: सोरेन

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर कहा- आप का अपने अपने घरों मे रहना इस महामारी को रोकने का सबसे अचूक हथियार है। और सबसे जरूरी बात, अपने आस पास रह रहे गरीबों की यथा सम्भव मदद करें। याद रखें साथियों की आपके सहयोग से हम इस महामारी से जल्द पार पा सकते हैं। अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान ना दें। आपकी सरकार हर एक झारखंडी की सुरक्षा हेतु हर ज़रूरी कदम उठा रही है। राज्य में बसों के आवागमन पर आज रात्रि 12 बजे से पूर्ण रोक लगा दी गई है।  साथ ही हर पंचायत में आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए है।

सांस लेने में दिक्कत होने के बाद युवक को अस्पताल पहुंचाया गया

गोलमुरी के एक युवक को एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह जमशेदपुर के साकची किसी काम से आया था। सांस लेने में दिक्कत होने के बाद वह सड़क पर ही बैठ गया। आसपास के लोगों ने इसकी जानकारी मेडिकल टीम को दी। थोड़ी देर बाद मेडिकल टीम एंबुलेंस लेकर मौके पहुंची और युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

Leave a Reply