Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel is angry at senior leader Jyotiraditya Scindia leaving Congress – ज्योतिरादित्य के पार्टी छोड़ने पर भूपेश बघेल ने कसा तंज, कहा

रायपुर:

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर तंज किया कि कांग्रेस से लोग गुर्राते हुए जाते हैं और दुम दबा कर वापस आते हैं. राजधानी रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल में संवाददाताओं ने बघेल से मध्य प्रदेश के ताजा राजनीतिक हालात पर सवाल किया तो उन्होंने कहा, ‘कुछ तो मजबूरियां रही होंगी वरना कोई यूं ही बेवफा नहीं होता है.’ बघेल ने कहा, ‘हमने देखा है कि कांग्रेस से लोग गुर्राते हुए जाते हैं और दुम दबाकर आते हैं. बड़े जोर-शोर से जाने और दुम दबाकर वापस आने के अनेक उदाहरण हैं.’ मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में कम विधायकों की उपस्थिति के बाद भी मुख्यमंत्री कमलनाथ के सरकार बचा लेने के विश्वास के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘भाजपा विधायक दल की बैठक में कितने लोग थे. कांग्रेस आंकड़े दिखा रही है लेकिन भाजपा के आंकड़े का क्या है. अभी फ्लोर टेस्ट होने दीजिए कमलनाथ की सरकार बच जाएगी.’

मुख्यमंत्री ने इस दौरान बताया कि राज्य में राज्यसभा के लिए प्रत्याशी चयन के लिए वह दिल्ली जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि राज्यसभा का प्रत्याशी तय करना और नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 13 मार्च है. छत्तीसगढ़ से दो नए राज्यसभा सदस्य चुने जाने हैं और दोनों कांग्रेस से चुने जाएंगे. इसलिए वह हाईकमान से चर्चा करने दिल्ली जा रहे हैं. छत्तीसगढ़ में राज्यसभा के पांच सदस्यों में से कांग्रेस के मोतीलाल वोरा और भारतीय जनता पार्टी के रणविजय प्रताप सिंह जूदेव का कार्यकाल इस वर्ष अप्रैल में समाप्त हो रहा है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कांग्रेस का ‘इमोशनल’ ट्वीट, लिखा- ‘घर छोड़कर मत जाओ, कहीं घर न मिलेगा…’

राज्य में भाजपा से सरोज पांडेय, रामविचार नेताम और कांग्रेस से छाया वर्मा भी राज्यसभा सदस्य हैं. छाया वर्मा और रामविचार नेताम का कार्यकाल जून 2022 तक है तथा सरोज पांडेय का कार्यकाल अप्रैल 2024 तक है. छत्तीसगढ़ के 90 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 69, भारतीय जनता पार्टी के 14, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के पांच और बहुजन समाज पार्टी के दो सदस्य हैं.

VIDEO: बीजेपी ज्वॉइन करने पर बोले सिंधिया, ‘नए मोड़ का सामना करके लिया फैसला’

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)