Chhattisgarh : Policemen did not allow sick woman to be taken to hospital – बेरहम पुलिस ! बीमार महिला को पुलिसवालों ने नहीं ले जाने दिया अस्पताल, रास्ते में तोड़ा दम

Chhattisgarh : Policemen did not allow sick woman to be taken to hospital – बेरहम पुलिस ! बीमार महिला को पुलिसवालों ने नहीं ले जाने दिया अस्पताल, रास्ते में तोड़ा दम


बेरहम पुलिस ! बीमार महिला को पुलिसवालों ने नहीं ले जाने दिया अस्पताल, रास्ते में तोड़ा दम

अस्पताल की पर्ची दिखाता महिला के परिवार का एक सदस्य

रायपुर:

छत्तीसगढ़ में कथित तौर पर पुलिसवालों की बेरहमी का मामला सामने आया है, जहां एक बीमार महिला को अस्पताल नहीं ले जाने दिया. जिसकी वजह से महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में एक शख्स कथित तौर पर पुलिसवालों के सामने विनती करता रहा. उसने अस्पताल की पर्ची दिखाई लेकिन उसकी गाड़ी को पुलिसवालों ने बैरियर से आगे नहीं जाने दिया गया. उसके बाद वह युवक अपनी पत्नी को लेकर वापस लौट गया और गांव से 10 किलोमीटर दूर उसकी पत्नी ने दम तोड़ दिया. ये शिकायत पीड़ित परिवार की है.

यह भी पढ़ें

बलरामपुर जिले के गैना गांव की बिहानी देवी कुछ दिनों से बीमार थीं, पति किराये पर गाड़ी लेकर उन्हें अंबिकापुर के सरकारी अस्पताल लेकर जा रहे थे लेकिन सूरजपुर जिले की सीमा से उन्हें आगे नहीं जाने दिया गया. महिला के पति और परिवार के सदस्यों का दावा है कि उन्होंने बीमार महिला की पर्ची और अपनी मजबूरी भी बताई लेकिन ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने अंतरजिला पास नहीं होने का हवाला देकर उन्हें अंबिकापुर के लिए रवाना होने नहीं दिया.

VIDEO: गांव तक नहीं पहुंचती एंबुलेंस, गर्भवती महिला को टोकरी में बैठाकर की नदी पार

वापस लौटते हुए गाड़ी का ड्राइवर भी उन्हें सड़क पर छोड़कर भाग गया, लगभग घंटे भर बाद एक ट्रैक्टर का इंतजाम हुआ तब पीड़ित परिवार शव को लेकर गांव लौटे. मामले में जांच के लिये जिले के पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा ने एक अधिकारी को नियुक्त कर दिया है. वहीं कलेक्टर ने भी जांच के आदेश दिया हैं और कहा है कि अगर कोई दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

महिला को गांव में पीटते हुए घुमवाया, पति सहित 7 आरोपी गिरफ्तार कर भेजे गये जेल

Leave a Reply