China ordered closure of American consulate in Chengdu city, canceling license; America closed Chinese consulates in Texas and Houston | चीन ने चेंग्दू शहर में अमेरिकी कॉन्स्युलेट बंद करने के आदेश दिए, लाइसेंस रद्द किया; अमेरिका ने टेक्सास और ह्यूस्टन में चीनी कॉन्स्युलेट बंद किए थे

China ordered closure of American consulate in Chengdu city, canceling license; America closed Chinese consulates in Texas and Houston | चीन ने चेंग्दू शहर में अमेरिकी कॉन्स्युलेट बंद करने के आदेश दिए, लाइसेंस रद्द किया; अमेरिका ने टेक्सास और ह्यूस्टन में चीनी कॉन्स्युलेट बंद किए थे


  • Hindi News
  • International
  • China Ordered Closure Of American Consulate In Chengdu City, Canceling License; America Closed Chinese Consulates In Texas And Houston

बीजिंग34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ये फोटो अमेरिका के ह्यूस्टन स्थित चीनी कॉन्स्युलेट की है। संवेदनशील दस्तावेज जलाने की बात सामने आने के बाद अमेरिका ने चीन से इसे बंद करने को कहा था। शुक्रवार शाम चार बजे तक इसे खाली करना होगा। (फाइल)

  • चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा- अमेरिका के गैरजरूरी कदमों को देखते हुए उसने जैसा किया वैसा करना ही जरूरी और सही है
  • अमेरिका ने शुक्रवार शाम चार बजे तक ह्यूस्टन और सैनफ्रांसिस्को के कॉन्स्युलेट बंदर करने का आदेश जारी किया था

चीन और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। अमेरिका ने ह्यूस्टन और टेक्सास में चीनी कॉन्स्युलेट बंद करने के आदेश जारी किए थे। अब चीन ने जवाब दिया है। शुक्रवार को चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि चेंग्दू शहर में अमेरिकी कॉन्स्युलेट का लाइसेंस वापस ले लिया गया है। अमेरिका का कदम गैरजरूरी था। उसने जैसा किया, वैसा जवाब देना जरूरी और सही है। 

दो कॉन्स्युलेट बंद होने के बाद चीन ने अमेरिका को जवाबी कार्रवाई की धमकी दी थी। चीन के विदेश मंत्रालय ने गुरुवाार को एक बयान में कहा था- यह कदम सियासी वजहों से उठाया गया है। हम इसकी निंदा करते हैं। 

तीन दिन के अंदर दो कॉन्स्युलेट बंद किए गए

अमेरिका में तीन दिन के अंदर चीन के दो कान्स्युलेट बंद करने के आदेश जारी किए गए थे। अमेरिकी विदेश विभाग ने इस बारे में एक बयान जारी किया था। ऑर्डर की एक कॉपी चीन को भेजी गई थी। बयान में कहा गया था- पिछले कुछ साल में चीन के कॉन्स्युलेट अमेरिका में जासूसी करते पाए गए हैं। इसके अलावा भी गैर कानूनी चीजें की जाती रही हैं। अमेरिका इन्हें सहन नहीं कर सकता।

ट्रम्प ने कहा- चीन के दूसरे कॉन्स्युलेट भी बंद करा सकते हैंं

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को कहा था कि वे चीन के दूसरे कान्स्युलेट भी बंद कराएंगे। उन्होंने कहा था, “जहां तक कॉन्स्युलेट बंद करने का सवाल है तो हम अमेरिका में दूसरी जगहों पर भी ऐसा कर सकते हैं।” चीन के जिन दो कॉन्स्युलेट को बंद करने को कहा गया है वहां कुछ संवेदनशील दस्तावेजों को जलाने की बात सामने आई थी। अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई ने यह दावा किया था वीजा फ्रॉड केस का आरोपी चीनी साइंटिस्ट भी चीन के एक कॉन्स्युलेट में छिपा है। 

अमेरिका और चीन के बीच जारी विवाद से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं…

1.चीन पर सख्त कार्रवाई:अमेरिका ने चीन से 72 घंटे में ह्यूस्टन कॉन्स्युलेट बंद करने को कहा; यहां संवेदनशील दस्तावेज जलाए जाने का शक

2.रिश्तों में बढ़ती तल्खी:एफबीआई ने कहा- वीजा फ्रॉड का आरोपी चीनी साइंटिस्ट सैनफ्रांसिस्को के चीनी कॉन्स्युलेट में छुपा है, ट्रम्प की धमकी- चीन की और एम्बेसी बंद कर सकते हैं

0

Leave a Reply