Coronavirus cases reach 236 in India ICMR – भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 236 पहुंची: आईसीएमआर


नई दिल्ली:

कोरोना वायरस संक्रमण के 63 नये मामले सामने आने के बाद शुक्रवार की शाम को देश में इस संक्रमण के कुल मामले आईसीएमआर के अनुसार बढ़कर 236 हो गये जबकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का आंकड़ा 223 है. इस बीच दिल्ली और महाराष्ट्र सरकारों ने इस बीमारी की रोकथाम के लिए सार्वजनिक स्थानों को बंद करने की घोषणा की.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कहा, ‘‘ 14514 व्यक्तियों के कुल 15404 नमूनों का सार्स कोवी 2 को लेकर 20 मार्च शाम छह बजे परीक्षण किया गया. अब तक संदिग्ध मामलों से से कुल 236 मामलों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.”

राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान लोगों से घरों के अंदर ही रहने और अत्यावश्यक होने पर ही बाहर जाने का आह्वान करने के अगले दिन शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉल की और इस महामारी के रोकथाम के उपायों पर चर्चा की.

मंत्रालय ने बताया कि देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों में 32 विदेशी हैं, जिनमें 17 इतालवी, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन और एक-एक कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर का निवासी है. इनमें अब तक दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में हुई चार मौतें भी शामिल है. 

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने लोगों से अपील की कि वे प्रधानमंत्री द्वारा 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सामाजिक मेलजोल से दूरी के लिए जनता कर्फ्यू के आह्वान का अनुपालन करें.

उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वे टोल फ्री नंबर 1075 का इस्तेमाल कोई भी जानकारी प्राप्त करने या किसी अफवाह एवं भ्रमित सूचना को लेकर अपनी आशंका दूर करने के लिए करें,अग्रवाल ने कहा, ‘‘मैं समाज के सभी लोगों से अनुरोध करता हूं कि वे टोल फ्री संख्या 1075 का इस्तेमाल सूचना प्राप्त करने और सभी तरह की भ्रामक सूचनाओं पर अपनी आशंका दूर करने के लिए करें. प्रधानमंत्री ने जनता कर्फ्यू कर आह्वान किया है.  एक दिन के सहयोग से संक्रमण की कड़ी को तोड़ने में मदद मिलेगी.” 

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में किसी भी आवश्यक वस्तु की कोई कमी नहीं है. गायिका कनिका कपूर में कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि होने और उनके संपर्क में आने वालों की पहचान सुनिश्चित होने के सवाल पर अग्रवाल ने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए संपर्क में आए लोगों की पहचान की प्रक्रिया नियमों के तहत शुरू कर दी गई है.

अग्रवाल ने कहा कि जयपुर में शुक्रवार को इटली के जिस व्यक्ति की मृत्यु हुई उसे भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में शामिल नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या चार ही है. 

संयुक्त सचिव ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस से लड़ने में राज्यों की मदद के लिए केंद्रीय टीमें भेजी गई हैं.” उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खतरे का मुकाबला करने को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये चर्चा की.

हॉट टॉपिक: देश में बढ़ा कोरोना का कहर, अब तक 223 लोग हुए संक्रमित