Coronavirus China Italy | Coronavirus Outbreak China Italy Iran USA Japan France Live Today News Updates World Cases Novel Corona COVID-19 Death Toll | अब तक 21 लाख 15 हजार 360 मामले: 53 देशों में 3 हजार 336 भारतीय संक्रमित, कुवैत में सबसे ज्यादा 785 मरीज पॉजिटिव


  • सिंगापुर में 634, कतर में 420, ईरान में 320 और ओमान में 297 भारतीय कोरोना संक्रमित पाए गए हैं
  • यूरोप में 90 हजार लोगों की जान गई, यह कुल मृतकों का 65%, इटली में सबसे ज्यादा 21 हजार 645 मौत
  • दुनियाभर में इस वायरस से अब तक 1 लाख 41 हजार से ज्यादा की मौत, अमेरिका में मृतकों का आंकड़ा 30 हजार

दैनिक भास्कर

Apr 16, 2020, 09:14 PM IST

वॉशिंगटन. कोरोनावायरस से दुनिया के अलग-अलग देशों में रह रहे भारतीय भी प्रभावित हैं। जानकारी के मुताबिक, 53 देश में 3 हजार 336 भारतीय इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। कुवैत में इनकी संख्या सबसे ज्यादा 785 है। इसके अलावा सिंगापुर(634), कतर(420), ईरान(308), ओमान(297), यूएई(238), सऊदी अरब(186), बहरीन(135), इटली(91), मलेशिया(37), पुर्तगाल(36), घाना(29), अमेरिका(24), स्विटजरलैंड (15) और फ्रांस में 13 भारतीय इससे संक्रमित मिले हैं।

इधर, इस वायरस से अब तक एक लाख 41 हजार से ज्यादा की मौत हो चुकी है। राहत की बात ये कि इसी दौरान पांच लाख 27 हजार से ज्यादा मरीज स्वस्थ भी हुए। वहीं, यूरोप में सबसे ज्यादा प्रभावित देश इटली, स्पेन और फ्रांस हैं। महाद्वीप में अब तक 90 हजार जान गई है, जो कुल मौतों का 65% है। यहां सबसे ज्यादा मौतें इटली (21 हजार 645) में हुई। जबकि संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले स्पेन (1 लाख 82 हजार 856) में हैं।

अमेरिका वायरस का पता लगाने में जुटा: पॉम्पियो

अमेरिका समेत कई देश कोरोना संक्रमण फैलने के लिए चीन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इस बीच, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने चीन के शीर्ष राजनयिक से फोन पर बात की। पॉम्पियो ने चीन से कोरोनावायरस की उत्पत्ति और उसके फैलने से जुड़ी जानकारी देने में पारदर्शिता बरतने की मांग की है। पॉम्पियो के मुताबिक, चीन कह रहा है कि वह सहयोग करना चाहता है। इसका सबसे अच्छा तरीका यही हो सकता है कि वह दुनिया के वैज्ञानिकों के लिए अपने दरवाजे खोल दे। ताकि वह यह पता लगा सकें कि आखिर यह वायरस कैसे अस्तित्व में आया और कैसे इसके फैलने की शुरुआत हुई। 

रूस में गुरुवार को 3 हजार से ज्यादा नए केस
रूस में भी कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। गुरुवार को यहां 3 हजार 448 नए मामले सामने आए। एक दिन पहले यहां 3 हजार 388 नए मरीज मिले थे। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की संख्या 27 हजार 938 हो गई है। बीते 24 घंटे में यहां 34 लोगों की मौत हुई है। अब तक देश में 232 मरीजों ने दम तोड़ा है। इस बीच, रूस ने कहा कि वे अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मदद की पेशकश को मंजूर करेंगे। ट्रम्प ने रूस में वेंटिलेटर भेजने को कहा था। इससे पहले, रूस ने राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और ट्रम्प के बीच हुई बातचीत के बाद अमेरिका को वेंटिलेटर के साथ प्रोटेक्टिव सूट भेजे थे। 

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश

देश कितने संक्रमित कितनी मौतें कितने ठीक हुए
अमेरिका 6 लाख 50 हजार 569 32 हजार 700 49 हजार 100
स्पेन 1 लाख 82 हजार 856 19 हजार 130 74 हजार 797
इटली  1 लाख 65 हजार 155 21 हजार 645 38 हजार 092
फ्रांस 1 लाख 47 हजार 863  17 हजार 167 30 हजार 955
जर्मनी 1 लाख 34 हजार 753 3 हजार 804 77 हजार 
ब्रिटेन 98 हजार 476 12 हजार 868 उपलब्ध नहीं
चीन 82 हजार 341 3 हजार 342 77 हजार 892
ईरान 76 हजार 389 4 हजार 777 49 हजार 933
तुर्की  69 हजार 392 1 हजार 518 5 हजार 674
बेल्जियम 33 हजार 573 4 हजार 440 7 हजार 107

कोरोना अपडेट्स:

  • प्रिंस विलियम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ब्रिटेन में कोरोनावायस मरीजों के लिए दूसरे फील्ड अस्पताल का उद्घाटन किया। इसका नाम एनएचएस नाइटिंगेल होगा। देश में ऐसे सात फील्ड हॉस्पिटल खोले जाएंगे।

  • संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि वैक्सीन ही एक ऐसी चीज है जो स्थिति सामान्य कर सकती है। इसका वैक्सीन साल के अंत तक विकसित किए जाने की उम्मीद है।

  • अमेरिकी वैज्ञानिकों का कहना है कि 2022 तक सोशल डिस्टेंसिंग बनी रह सकती है। कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगाया जाता रहेगा। इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग जैसे कदम कुछ सालों तक रुक-रुक कर लगाना पड़ सकता है। महामारी का वैक्सीन न होने की वजह से इसका प्रसार बढ़ता रहेगा। हार्वर्ड एटी.एच. चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के रिसर्चर्स ने ये जानकारी दी है।

  • ईरान ने एक ऐसी डिवाइस बनाई है जिससे कहीं भी कोरोना का टेस्ट किया जा सकेगा। यह डिवाइस केवल पांच सेकंड में ही रिजल्ट बताएगी। इस्लामिक रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स के कमांडर जनरल हुसैन सलामी ने कहा कि मरीजों को अब किसी दूसरे टेस्ट की जरूरत नहीं होगी।

  • बीबीसी के मुताबिक, संक्रमण के 13 दिन में 10 लाख मरीज बढ़ गए हैं। दो अप्रैल को यह संख्या 10 लाख थी, जो 15 अप्रैल तक बढ़कर 20 लाख हो गई। वहीं, ब्रिटेन में बुधवार को 761 लोगों की मौत हो गई। देश में अब कुल आंकड़ा 12 हजार 868 हो गया है। यहां संक्रमण के 98 हजार 476 मामले सामने आ चुके हैं।

  • दक्षिण कोरिया में 22 नए मामले सामने आए हैं। यहां अब तक 10 हजार 613 केस हो गए हैं। अब तक 7,757 लोग ठीक हो चुके हैं।

  • निकारागुआ के राष्ट्रपति एक महीने से ज्यादा समय के बाद सार्वजनिक रूप से नजर आए। देश को संबधित करते हुए उन्होंने कहा- कोरोना के खतरे के बावजूद देश काम करना जारी रखेगा। उन्होंने माना कि इससे कुछ निवेश और पूंजी प्रभावित हो सकते हैं।

  • बीबीसी के मुताबिक, लॉकडाउन के चलते भारत में फंसे 41 पाकिस्तानी नागरिक गुरुवार को अपने घर लौट गए। पाकिस्तान के उच्चायोग ने 14 अप्रैल को भारत सरकार से यहां फंसे नागरिकों को अटारी-वाघा बॉर्डर से जाने देने का अनुरोध किया था। इसके भारत सरकार ने नागरिकों के जाने की सारी व्यवस्थाएं कर दी। इस समय 205 भारतीय पाकिस्तान में और करीब 100 पाकिस्तानी भारत में फंसे हैं।

इमरान खान ने अपने स्वास्थ्य सलाहकार को फटकार लगाई

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोरोना को लेकर सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई को लेकर संजीदगी नहीं दिखाने वाले अपने स्वास्थ्य सलाहकार को फटकार लगाई है। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट कोरोनावायरस से निपटने के इमरान सरकार की कोशिशों से नाखुश है। देश में गुरुवार को संक्रमितों की संख्या 6 हजार 500 के पार पहुंच गई। 

अमेरिका: 30 हजार 206 नए केस मिले

जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, अमेरिका में 24 घंटे में 2,600 लोगों ने दम तोड़ा है। यहां अब तक कुल 30 हजार हजार 844 जान गई है। देश में बुधवार को 30 हजार 206 केस मिले हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की कुल संख्या छह लाख 44 हजार 348 हो गई है। सबसे ज्यादा संक्रमित न्यूयॉर्क में कुल 11 हजार 586 मौतें हो चुकी हैं, जबकि यहां दो लाख 14 हजार 648 केस की पुष्टि हो चुकी है। बीबीसी के मुताबिक, ट्रम्प ने व्हाइट में मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा- डब्ल्यूएचओ का फंड रोके जाने की आलोचना की गई। दूसरे देशों ने संगठन का साथ दिया और उस पर भरोसा जाताया। किसी और देश ने कोई पाबंदी नहीं लगाई। सभी जानते हैं कि इटली, स्पेन और फ्रांस में क्या हुआ। संगठन से गलती हुई है और शायद इसे वे जानते हैं।

  • ट्रम्प ने कहा- अगर रूस को कोरोनावायरस मरीजों के उपचार के लिए वेंटिलेटर की जरूरत पड़ती है वह उसकी मदद करेगा। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि रूस को वेंटिलेटर की जरूरत है। वे कठिन समय से गुजर रहे हैं। हम उनकी मदद करने जा रहे हैं।
  • उन्होंने कहा- अमेरिका में जल्द ही वेंटिलेटर का भंडार होगा, जो अन्य देशों की जरूरतों को पूरा करेगा।” ट्रम्प ने कहा- हम अन्य राष्ट्रों की मदद करेंगे। हम इटली, स्पेन, फ्रांस, अन्य राष्ट्रों की मदद करने जा रहे हैं। कोरोना का प्रकोप झेल रहे अमेरिका के लिए रूस ने चिकित्सा आपूर्ति का एक प्लैनलोड भेजा है।
  • मिशिगन के गवर्नर ग्रेचेन व्हिटमर के स्टे-एट-होम ऑर्डर का सैकड़ों लोगों ने विरोध किया। बुधवार को सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने राज्य की राजधानी लांसिंग में सड़कों पर विरोध जताया। यहां अब तक 28 हजार 59 संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 1,921 लोगों की मौत हो चुकी है।
  • जॉर्जिया पावर ने सीएनएन को बताया कि वेनबोरो में एक निर्माण स्थल पर 42 वर्कर कोरोनो पॉजिटिव मिले हैं। 57 अन्य कर्मचारियों के रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, जॉर्जिया में 552 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 14 हजार 987 मामले सामने आए हैं।
अमेरिका: चिकित्साकर्मियों ने मैनहट्टन में बेलेव्यू अस्पताल के बाहर कोरोनावायरस का टेस्ट किया। यहां अब तक 6 लाख 44 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

जी-20 का कोरोना पीड़ित गरीब देशों की मदद का फैसला सराहनीय: आईएमएफ/ विश्व बैंक

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) और विश्व बैंक ने कोरोना से पीड़ित दुनिया के गरीब देशों के लिए अस्थायी ऋण प्रदान करने के जी-20 समूह के फैसले का स्वागत किया है। विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष डेविड मैलाग और आईएमएफ के प्रबंध निदेशक क्रिस्टलिना जॉर्जीवा ने बुधवार को एक संयुक्त बयान में कहा, “यह एक शक्तिशाली, तेजी से काम करने वाली पहल, दुनिया के गरीब देशो के लाखों लोगों के जीवन और आजीविका को सुरक्षित रखने में बहुत मदद करेगी।” उन्होंने कहा, “हम इस ऋण पहल का समर्थन करते हैं। हम गरीब देशों की मदद के लिए हर संभव कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

‘100 से ज्यादा देशों ने इमरजेंसी फंड मांगा’

आईएमएफ की प्रबंध निदेशक क्रिस्टलिना जॉर्जीवा ने बुधवार को कहा- हमें अप्रत्याशित ढंग से 100 से ज्यादा देशों से इमरजेंसी फंडिंग के लिए कॉल आ रहे हैं। हम इसका जवाब दे रहे हैं। हमने अपनी आपतकालीन सुविधाओं की पहुंच दोगुनी कर दी है। इससे हम 100 बिलियन डॉलर की वित्तीय मदद की मांग को पूरा कर पाएंगे। आईएमएफ के सदस्य जरूरतमंद देशों को फंड मुहैया कराने पर चर्चा करेगा। उन्होंने कहा कि वास्तविकता यही है कि वायरस के खिलाफ यह सबकी लड़ाई है। हमें इस समय वैश्विक सौहार्द के साथ मिलकर काम करना होगा। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समन्वित ढंग से कोशिश करनी होगी।

ब्रिटेन में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख के पार

ब्रिटेन में भी अब कोरोनावायरस से संक्रमितों की संख्या 1 लाख से ज्यादा पार हो गई है। देश के स्वास्थ्य विभाग ने यह आंकड़े जारी किए। देश में 3 लाख 27 हजार 608 लोगों के कोरोना टेस्ट हुए। इसमें से 1 लाख 3 हजार से ज्यादा पॉजिटिव पाए गए हैं। यूके के अस्पतालों में अब तक 13 हजार 729 लोगों ने दम तोड़ा है। 
जापान ने पूरे देश में इमरजेंसी की घोषणा की
जापान ने कोरोना की वजह से पूरे देश में इमरजेंसी लागू करने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने गुरुवार को मेडिकल एक्सपर्ट की बैठक बुलाई थी। इसके बाद इमरजेंसी को सात राज्यों से बढ़ाकर पूरे देश में लगाने का फैसला किया। जापान में 488 नए मामले सामने आए हैं और 17 मौतें हुई हैं। यहां अब तक 148 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें 12 मामले डायमंड प्रिंसेज शिप के हैं।
इटली: संक्रमण और मौतों में कमी
इटली में कोरोनोवायरस से होने वाली मौतों और संक्रमण के मामलों में बुधवार को फिर से गिरावट आई। यहां 24 घंटे में 578 लोगों की मौत हुई है और 2,667 संक्रमित हुए हैं। देश में संक्रमण के अब तक 1 लाख 65 हजार 155 मामले हो चुके हैं, जबकि 21,645 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा लोगों की जान यहां गई है।

इटली: बोलोग्ना में लेबोरेटरी में वैज्ञानिकों ने सर्जिकल मास्क पर रोगाणुओं की मौजूदगी का मूल्यांकन किया।

स्पेन: मौतों का आंकड़ा 19 हजार 130 हुआ
स्पेन में अब तक 19 हजार 130 लोगों की जान जा चुकी है। वहीं, एक लाख 82 हजार 816 संक्रमित हैं। सरकार ने यहां लॉकडाउन नियमों में थोड़ी ढील दी है। कुछ व्यवसायों को फिर से शुरू किया गया है, जिससे अर्थव्यवस्था को गति मिल सके। इस बीच, स्पेन ने रोज हो रही कोरोना जांच की संख्या को 20 हजार से बढ़ाकर 40 हजार कर दिया है। देश के हेल्थ इमरजेंसी डायरेक्टर ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि देश में संक्रमितों की संख्या इसलिए भी ज्यादा है, क्योंकि हमने टेस्टिंग का दायरा बढ़ा दिया है। 

स्पेन: बार्सिलोना में लोगों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों का आभार जताया।

कनाडा: लॉकडाउन जारी रहेगा
कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बुधवार को चेतावनी देते हुए कहा कि देश में लॉकडाउन अगले कुछ हफ्तों तक जारी रहेगा। उन्होंने कहा- अगर हम लॉकडाउन जल्दी खोलते हैं तो जो भी हम अभी कर रहे हैं, वह नहीं हो पाएगा। कनाडा में अब तक 28 हजार 379 केस सामने आ चुके हैं, जबकि 1,010 मौत हो चुकी है। यहां अमेरिका और यूरोपीय देशों की तुलना में कम मौतें हुई हैं। लेकिन, ट्रूडो ने कहा कि इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं है कि यहां से प्रतिबंध जल्दी हटा दिए जाएं। कम से कम 1 मई तक तो बिल्कुल नहीं।

कनाडा: मॉन्ट्रियल में एक बुजुर्ग कोरोना मरीज को एंबुलेंस से बाहर निकालते स्वास्थ्यकर्मी। यहां 1 मई तक लॉकडाउन लगाए जाने की संभावना है।

जर्मनी: पाबंदियों में ढील दी जाएगी
बीबीसी के मुताबिक, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने घोषणा की है कि कोरोनावायरस को लेकर लगाई गई पाबंदियां अब धीरे-धीरे खत्म की जाएगी। हालांकि, सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन तीन मई तक किया जाएगा। उन्होंने लोगों से दुकानों और पब्लिक ट्रांसपोर्ट में मास्क पहनने की अपील की। अगले हफ्ते से कुछ दुकानें खोल दी जाएंगी। स्कूलें भी चार मई से खोलने शुरू किए जाएंगे।

जर्मनी: कोरोनावायरस को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करती चांसलर एंजेला मर्केल (बीच में)।

सिंगापुर: 447 नए मामले सामने आए
सिंगापुर में बुधवार को 447 नए मामले सामने आए। यह एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि नए मामलों में 404 कम्युनिटी संक्रमण के केस हैं। इसके साथ देश में कुल 3,699 मामले हो गए हैं। यहां अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है।