coronavirus china wuhan hubei first confirmed covid 19 case traced back to 17 november 2019 | कोरोनावायरस का पहला मरीज 17 नवंबर हो ट्रेस हो गया था, लेकिन चीन ने 21 दिन बाद 8 दिसंबर को बताया


  • चीन की वेबसाइट साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट में दावा- 31 दिसंबर तक चीन में 366 मामले आ गए थे
  • डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, चीन में 8 दिसंबर को कोरोनावायरस का पहला कन्फर्म केस मिला था

दैनिक भास्कर

Mar 15, 2020, 07:16 PM IST

बीजिंग. चीन के वुहान शहर से दुनियाभर में फैले कोरोनावायरस को लेकर चीनी मीडिया ने एक अलग ही दावा किया है। चीन की वेबसाइट साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने सरकारी दस्तावेजों के हवाले से खुलासा किया है कि हुबेई प्रांत में पिछले साल 17 नवंबर को ही कोरोनावायरस का पहला मरीज ट्रेस कर लिया गया था। वुहान, हुबेई की राजधानी है। हालांकि, चीन ने पहला मरीज ट्रेस होने के 21 दिन बाद यानी 8 दिसंबर 2019 को कोरोनावायरस के पहले मरीज की जानकारी दी थी। वेबसाइट ने ये भी दावा किया है कि दिसंबर 2019 तक ही चीनी अधिकारियों ने कोरोनावायरस के 266 मरीजों की पहचान कर ली थी। 1 जनवरी 2020 तक 381 मामले सामने आ चुके थे।

55 साल का था पहला मरीज
साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, 17 नवंबर को वुहान की राजधानी हुबेई में कोरोनावायरस से संक्रमित जिस पहले मरीज का पता चला था, उसकी उम्र 55 साल थी। 17 नवंबर को पहला केस सामने आने के बाद हर दिन ऐसे 1 से लेकर 5 मामले रिपोर्ट किए गए। 15 दिसंबर तक संक्रमित मरीजों की संख्या 27 हो गई थी। 17 नवंबर के दिन पहली बार 10 से ज्यादा मामले सामने आए थे। इसके बाद 20 दिसंबर तक संक्रमित मरीजों की संख्या 60 पहुंच गई। 27 दिसंबर को हुबेई के एक अस्पताल के डॉक्टर जैंग जिक्सियन ने बताया कि कोरोना नाम के वायरस की वजह से लोग संक्रमित हो रहे हैं। 27 तारीख तक चीन में 180 लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके थे, लेकिन डॉक्टरों को इस वायरस के बारे में पता ही नहीं था।

पहले कन्फर्म केस की तारीख को लेकर कन्फ्यूजन
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, चीन में कोरोनावायर (कोविड-19) का पहला कन्फर्म केस 8 दिसंबर को रिपोर्ट किया गया था। हालांकि, मेडिकल जर्नल द लैंसेट की रिपोर्ट के मुताबिर, वुहान के झिंयिंतान अस्पताल में कोरोनावायरस का पहला कन्फर्म केस 1 दिसंबर को रिपोर्ट किया गया था। इसके अलावा चीनी वेबसाइट ने इस बात की संभावना भी जताई है कि हो सकता है कि संक्रमण के मामले बहुत पहले ही सामने आ गए हों, लेकिन उन्हें अलग तारीख को रिपोर्ट किया गया हो।

कोरोनावायरस कैसे फैला, इस बारे में जानकारी जुटा रहे डॉक्टर
रिपोर्ट के मुताबिक, वैज्ञानिक अब उस मरीज की जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे हैं, जिसमें सबसे पहले कोरोनावायरस के लक्षण देखे गए थे। ताकि पता लगा सकें कि कोरोनावायरस कहां से आया? नवंबर में आए पहले 9 केस में से 4 पुरुष और 5 महिलाएं थीं। इनकी उम्र 39 से 79 साल के बीच थी। हालांकि, इनमें से एक भी मरीज ऐसा नहीं है, जिसमें सबसे पहले कोरोनावायरस के लक्षण मिले थे।

चीन में कोरोनावायरस के 80 हजार से ज्यादा मामले, करीब 3200 लोगों की मौत
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, 14 मार्च तक चीन में कोरोनावायरस के 81 हजार 21 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि, 3 हजार 194 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन में सबसे ज्यादा 3 हजार 75 मौतें हुबेई प्रांत में हुई है। वहीं, दुनियाभर में कोरोनावायरस के 1 लाख 42 हजार 539 मामले सामने आ गए हैं और अब तक 5 हजार 393 लोग मारे जा चुके हैं।