Coronavirus latest News : Must not do these 5 things during Janta curfew – जनता कर्फ्यू : आज ये 5 काम बिल्कुल न करें, तो कमर टूट जाएगी कोरोना की


नई दिल्ली:

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों की संख्या की संख्या 315 के करीब पहुंच गई है. इसी बीच महानगरों से कामगार अपने की घरों की ओर वापस लौट रहे हैं. उनका कहना है कि जब काम में बंदी रहेगी तो शहरों में रोजी-रोटी कैसे चलेगी. संक्रमण से फैलाने वाली बीमारी के बीच रेलवे स्टेशनों में बढ़ रही भीड़ से समस्या बढ़ती जा रही है. पीएम मोदी को भी इस अपील करनी पड़ी है कि लोगों को शहर छोड़कर जाने की जरूरत नहीं है. इससे गांवों में भी बीमारी फैलने का खतरा है.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए 22 मार्च यानी आज सुबह 7 बजे से लेकर रात 9 बजे तक ‘जनता कर्फ्यू’ का ऐलान किया है. पीएम मोदी ने अपील करते हुए सभी देशवासियों से घर से बाहर न निकलने के लिए कहा है. वहीं शाम को 5 बजे इस बीमारी से लड़ रहे डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के समर्थन में बालकनी और खिड़कियों  में खड़े होकर ताली, थाली या घंटी बजाने की भी अपील की है. दरअसल इस बीमारी के वायरस के लिए अभी  तक कोई दवाई नहीं बनी है और इसके रोकथाम के लिए एक ही उपाय है कि जितनी ज्यादा से ज्यादा दूरी बनाए रखी जा सके ताकि इसका वायरस दूसरे लोगों तक न पहुंचे. जनता कर्फ्यू के दौरान आम नागरिकों को भी अपने कर्तव्य का पालन करना होगा. इस दौरान पांच ऐसी बातें हैं जो किसी को नहीं करना है. 

किसी तरह की अफवाह न फैलाएं

इस बीमारी को लेकर तरह-तरह की अफवाहें सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही हैं. जनता कर्फ्यू के दौरान अगर किसी भी  सूचना को बिना सरकारी जानकारी के न फैलाएं. कोई भी वाट्सएप वीडियो, मैसेज, नंबर जो इस बीमारी से जुड़ी किसी भी सूचना को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर बता रहा हो उसको आगे न बढ़ाएं.

घबराकर ज्यादा खरीददारी के चक्कर में न पड़ें

ऐसा भी देखा जा रहा है कि लोग पैनिक में आकर ज्यादा से ज्यादा खरीददारी कर रहे हैं. जबकि सरकार इस बात को बार-बार कह रही है कि खाने-पीने की सामानों की कोई कमी नहीं है लेकिन अगर लोग इस तरह से बेवजह खरीददारी करेंगे तो निश्चित तौर पर बाजार में चीजों की कमी आ जाएगी और अफरा-तफरी मच सकती है. जरूरी सामान दूध, दवाएं, सब्जी आज ही खरीदकर रखे लें

आज बिलकुल बाहर न निकलें

आज के दिन बिलकुल बाहर न निकलें क्योंकि अगर आप ऐसा करेंगे तो दूसरे भी आपको देखकर ऐसा कर सकते हैं. जिम्मेदारी निभाएं और बाकी लोगों को भी इसके बारे में बताएं.

खुद डॉक्टर न बनें

अगर किसी को फ्लू या बुखार आता है तो खुद डॉक्टर न बनें और न नीम-हकीमों की तरह नुस्खे बताएं. कोरोना वायरस की अभी तक कोई दवा नहीं आई है. इसका इलाज डॉक्टरों की देखरेख में ही संभव है.

घर में पार्टी जैसा माहौल न बनाएं

आज घर का वातावरण सामान्य बनाए रखें ताकि आसपास के लोगों को दिक्कत न हो. तेज धुन में गाने और शोरगुल न करें. छुट्टी मनाने के चक्कर में उल्टा सीधा कुछ भी न खाएं. हल्का और सामान्य भोजन करें.