Coronavirus Punjab Case Live | Corona Cases In Jalandhar Pathankot Ludhiana Amritsar Faridkot Patiala Barnala Lockdown Latest Today News | लुधियाना में कोरोना से 58 वर्षीय कानूनगो की मौत, उद्योगपतियों ने केंद्र से पूछा- इंडस्ट्री बंद है, मजदूरों को वेतन कैसे दें


  • पंजाब में कोरोना संक्रमण के अब तक 211 मामले, प्रदेश में 15 लोगों की संक्रमण से जा चुकी है जान
  •  पंजाब में चार जिले रेड जोन में; मोहाली में 56 तो जालंधर में 35 लोग कोरोना संक्रमित

दैनिक भास्कर

Apr 17, 2020, 10:47 PM IST

जालंधर. लॉकडाउन फेज-2 के तीसरे दिन शुक्रवार को लुधियाना में 58 वर्षीय कानूनगो की कोरोना से मौत हो गई।जिले के कस्बा पायल निवासी गुरमेल दिल की बीमारी के अलावा खांसी-बुखार से पीड़ित हो 14 अप्रैल से डीएमसी अस्पताल में भर्ती थे। इसी के साथ पंजाब में कोरोना संक्रमण के अब तक 211 मामलों में 15 लोगों की जान संक्रमण के चलते गई है। पंजाब में सबसे ज्यादा चिंता की स्थिति मोहाली और पंजाब में है। मोहाली में 56 और जालंधर में 35 कोरोना संक्रमित हैं। लुधियाना के एसीपी नॉर्थ अनिल कोहली के ड्राइवर में भी शुक्रवार को संक्रमण की पुष्टि की गई। शुक्रवार सुबह जालंधर, अमृतसर, तरनतारन व अन्य कई जिलों में बूंदाबांदी हुई है। इसके चलते अनाज मंडी में पहुंचे लोगों को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा।

पंजाब में उद्योगों की संस्था लघु उद्योग भारती ने केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। उद्योगपतियों ने वेतन का मुद्दा उठाया और कहा कि इंडस्ट्री पूरी तरह से बंद है। ऐसे में मजदूरों को वेतन कैसे दिया जाए। उद्योगपतियों ने केंद्र से मांग किया कि बैंक के ब्याज खत्म किए जाएं।

अमृतसर: पाकिस्तान से आई 14 युवतियों को जम्मू भेजा गया
18 मार्च को अटारी बॉर्डर के रास्ते पाकिस्तान से आई जम्मू-कश्मीर की 14 युवतियों को 28 दिन के बाद घर भेज दिया गया है। इनमें आठ पाकिस्‍तान में मेडिकल स्‍टूडेंट हैं और छह युवतियां वहां रिश्‍तेदारों से मिलने गई थीं। इन्हें यहां क्‍वारैंटाइन किया गया था। एक बस में इन्हें अमृतसर से जम्‍मू-कश्‍मीर भेजा गया। इन युवतियों ने रवाना होने से पहले स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का धन्यवाद किया।

यह तस्वीर पाकिस्तान की रहने वाली युवती की है। जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से राज्य में प्रवेश की अनुमति देने के बाद यहां फंसी 14 युवतियों को जम्मू भेजा गया।

पठानकोट: मामून में संक्रमित व्यक्ति के 7 परिजन आइसोलेट
शहर के वार्ड-19 के कोरोना पॉजिटिव मिले ऑटो चालक के सात परिजनों के सैंपल जांच को भेजे गए हैं। परिजनों को क्वारैंटाइन करने के साथ ही च भी की गई है। कोरोना पीड़ित को चार महीने से खांसी और लिवर की समस्या थी और वह कम्युनिटी हेल्थ सेंटर से दवा खा रहा था। अब विभाग ने हेल्थ सेंटर के तीन हेल्थ कर्मचारी, एक कम्युनिटी हेल्थ अफसर, एक एएनएम कर्मचारी, एक आशा वर्कर को भी होम क्वारैंटाइन करने के आदेश दिए हैं।

क्वारैंटाइन किए गए 109 लोगों ने कहा- साधन नहीं दिया तो पैदल घर जाएंगे

पठानकोट में क्वारैंटाइन किए जम्मू-कश्मीर के 109 लोगों का 14 दिन का क्वारैंटाइन पूरा होने के बाद भी घर नहीं भेजा गया तो इन लोगों ने प्रदर्शन किया। इन लोगों ने कहा कि 17 दिन के बाद भी उन्हें घर नहीं भेजा जा रहा। इन लोगों ने कहा कि अगर जाने का कोई साधन नहीं है तो वे पैदल ही चले जाएंगे। प्रशासन ने कहा कि पंजाब और जम्मू-कश्मीर सरकार से बातचीत कर रहे हैं कि इन लोगों को घर जाने की अनुमति दी जाए।

यह तस्वीर पठानकोट जिले के शाहपुर में क्वारैंटाइन किए गए जम्मू-कश्मीर के लोगों की है। घर नहीं भेजे जाने की वजह से इन लोगों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।