Coronavirus Rajasthan Jaipur Kota Cases Live | COVID-19 Lockdown Hindi News; Jodhpur Banswara Bikaner Bhilwara Jaisalmer Bharatpur (Corona) Death Toll Today | आज 51 नए केस आए, यह पिछले सात दिनों में सबसे कम; भरतपुर में 15 साल से कम उम्र के 9 बच्चे पॉजिटिव मिले


  • राजस्थान में संक्रमितों का आंकड़ा 1131 पर पहुंचा, 14 मरीजों की मौत हो चुकी
  • मॉडिफाइड लॉकडाउन के तहत ग्रामीण औद्योगिक क्षेत्रों में उत्पादन शुरू करने की अनुमति
  • सरकारी दफ्तरों को चरणबद्ध तरीके से शुरू किया जाएगा, ड्यूटी रोटेशन में लगाई जाएगी

दैनिक भास्कर

Apr 16, 2020, 10:57 PM IST

जयपुर. राजस्थान में पिछले सात दिनों में गुरुवार को सबसे कम 55 पॉजिटिव केस आए। इससे पहले राज्य में 8 अप्रैल को संक्रमण के 40 मामले सामने आए थे। गुरुवार को आए 55 नए केस में सबसे ज्यादा 23 भरतपुर जिले के हैं। इनमें 22 पॉजिटिव बयाना कस्बे के हैं। चिंता की बात यह है कि इन 22 संक्रमित में से 9 बच्चे हैं, जिनकी उम्र 15 साल से कम है। इसके अलावा टोंक और जोधपुर में 11-11, जयपुर में तीन, झुंझुनू और कोटा में दो-दो, नागौर, बीकानेर और अजमेर में एक-एक संक्रमित मिला है। इसे मिलाकर राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1131 पर पहुंच गया है। जयपुर में बुधवार रात 65 साल के बुजुर्ग की मौत हुई। वह 11 अप्रैल से आईसीयू में एडमिट था। मंगलवार की आई रिपोर्ट में वह पॉजिटिव आया था। इसके दो बेटे भी आइसोलेशन में भर्ती है। यह राज्य में 14वीं मौत है।

उधर, भरतपुर में सार्वजनिक जगह पर गुटखा थूकने के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। कोरोना महामारी के बीच राज्य में इस तरह की कार्रवाई का पहला मामला सामने आया है। पुलिस ने बताया कि दोनों युवक लॉकडाउन होने के बावजूद बिना मास्क लगाए बेवजह सड़क पर घूम रहे थे। दोनों गुटखा खाए हुए थे और जगह-जगह थूक रहे थे। यह कार्रवाई राजस्थान महामारी रोग अधिनियम 1957 की धारा (2) के तहत की गई। इसके तहत छह महीने तक की सजा और जुर्माना या दोनों लगाया जा सकता है। राज्य सरकार ने कोरोना महामारी को देखते हुए इसे 10 अप्रैल को लागू कर दिया था।

ग्रामीण क्षेत्रों और औद्योगिक क्षेत्रों में औद्योगिक इकाइयों को शुरू करने के निर्देश

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को लॉकडाउन को लेकर बैठक की। इसमें 21 अप्रैल से राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों और औद्योगिक क्षेत्रों में औद्योगिक इकाइयों को शुरू करने के निर्देश दिए गए। इसके तहत, शहरी क्षेत्रों में ऐसे उद्योग जिनमें मजदूरों को ठहराने का इंतजाम है, उन्हें भी खोलने की अनुमति दी गई। हालांकि, मजदूरों को बाहर से लाने की इजाजत नहीं होगी। बैठक में यह भी तय किया गया कि सभी सरकारी ऑफिस को चरणबद्ध तरीके से शुरू किया जाएगा। यहां स्टाफ की ड्यूटी रोटेशन में लगाई जाएगी। इसे गहलोत सरकार का मॉडिफाइड लॉकडाउन कहा जा रहा है।

जयपुर: एसएमएस की नर्स और वॉर्ड बॉय के बाद अब डॉक्टर पॉजिटिव

  • जयपुर के एसएमएस के डॉक्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अस्पताल के सभी डॉक्टर्स, रेजीडेंट और अन्य स्टाफ डरा हुआ है। डॉक्टर के संपर्क में आए  उनके संपर्क में आए सभी स्टाफ ने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है। 
  • केंद्र ने राजस्थान के जिन 11 शहरों को हॉटस्पॉट में शामिल किया गया उसमें जयपुर भी है। कारण यहां अब तक संक्रमितों की संख्या 488 (2 इटली के नागरिक) तक पहुंच चुकी है। इसमें से 422 लोग शहर के एक इलाके रामगंज के रहने वाले हैं। 
यह तस्वीर धौलपुर के धोल्लूर की है। स्काउट के शिक्षक अपने परिवार के साथ घर पर मास्क बना रहे हैं। इन्हें ड्यूटी कर रहे लोगों को बांटा जाता है।

कोरोना अपडेट्स 

जोधपुर: जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 156 पर पहुंचा। इनमें 40 ईरान से एयरलिफ्ट किए गए लोग भी शामिल हैं। मरीजों में 14 माह की बच्ची से लेकर 90 साल का बुजुर्ग भी शामिल हैं।

सीकर: यहां मिले पहले 60 साल के कोरोना पॉजिटिव को हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई है। यह व्यक्ति 20 मार्च को दुबई से जयपुर एयरपोर्ट आया था। एयरपोर्ट पर हुई स्क्रीनिंग के बाद उसे जयपुर के अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसका जयपुर में इलाज हुआ। आखिरी तीन की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और वह अपने घर सीकर में होम क्वारैंटाइन में रखा गया है। 

बीकानेर: यहां बुधवार को आई रिपोर्ट में एक नर्सिंग होम का कर्मचारी पॉजिटिव मिला। यह कर्मचारी कोरोना संक्रमित जिस महिला की मौत हुई थी उसके साथ एंबुलेंस में गया था। 15 दिन बाद उसमें बीमारी की पुष्टि हुई है। हालांकि, संक्रमित महिला की मौत के बाद से ही नर्सिंग हाेम को बंद कर दिया गया था।

यह तस्वीर जयपुर के सटे शाहपुरा के बाड़ीजोड़ी गांव की है। लॉकडाउन के दौरान पुलिस यहां पहुंची तो गांववालों ने फूल बरसाए। 

राजस्थान: बुधवार को 71 मरीज मिले थे, दो की मौत हुई थी; 25 जिलों तक पहुंचा कोरोना

  • इससे पहले बुधवार को राजस्थान में कोरोना के चलते दो बुजुर्ग महिलाओं की मौत हुई थी। पहली जयपुर में और दूसरी कोटा में। वहीं, दिनभर में 71 नए रोगी मिले थे। इसमें जयपुर में 30, कोटा में 27, जोधपुर में 10, दौसा, झुंझुनूं, टोंक व नागौर में एक-एक रोगी पॉजिटिव मिला था।
  • राज्य के  33 जिलों में से अब तक कोरोना 25 तक पहुंच गया है।  सबसे ज्यादा जयपुर में 488 (2 इटली के नागरिक) पॉजिटिव मिले हैं। इसके अलावा जोधपुर में 156 (इसमें 40 ईरान से आए), कोटा में 86, टोंक में 71, बांसवाड़ा में 59, जैसलमेर में 44 (इसमें 14 ईरान से आए), भरतपुर में 43, बीकानेर में 35, झुंझुनूं में 35 और भीलवाड़ा में 28 मरीज मिले हैं। उधर, झालावाड़ में 17, चूरू में 14, दौसा में 12, अलवर और नागौर में सात-सात, अजमेर में 6, डूंगरपुर में 5, उदयपुर में 4, करौली में 3, हनुमानगढ़, प्रतापगढ़, सीकर और पाली में 2-2, जबकि बाड़मेर और धौलपुर में 1-1 व्यक्ति को इस बीमारी ने अपनी चपेट में लिया है।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 13 लोगों की मौत हुई। इसमें सबसे ज्यादा 6 मौतें जयपुर में हुई। वहीं, भीलवाड़ा और कोटा में दो-दो की जान जा चुकी है। इसके अलावा बीकानेर, जोधपुर और टोंक में एक-एक की मौत हुई है।

यह तस्वीर चूरू के बयाना कस्बे की है। चूरू में अब तक 14 संक्रमित मिल चुके हैं। इसके बाद यहां घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है।