covaxine human trials delhi private dr dangs lab to partner with bharat biotech – Covaxin के ह्यूमन ट्रायल के लिए भारत बायोटेक से पार्टनरशिप करेगी दिल्ली की यह प्राइवेट लैब

covaxine human trials delhi private dr dangs lab to partner with bharat biotech – Covaxin के ह्यूमन ट्रायल के लिए भारत बायोटेक से पार्टनरशिप करेगी दिल्ली की यह प्राइवेट लैब


Covaxin के ह्यूमन ट्रायल के लिए भारत बायोटेक से पार्टनरशिप करेगी दिल्ली की यह प्राइवेट लैब

COVAXIN के ट्रायल के लिए दिल्ली की डॉ. डैंग्स लैब को चुना गया सेंट्रल लैब.

खास बातें

  • COVAXIN का ह्यूमन ट्रायल शुरू
  • दिल्ली की डॉ. डैंग्स लैब ने किया दावा
  • कहा- ट्रायल के लिए सेंट्रल लैब के तौर पर चुना गया

नई दिल्ली:

दिल्ली की एक प्राइवेट लैब ने कहा है कि उसे कोरोनावायरस के लिए भारत के बने वैक्सीन Covaxin के ह्यूमन ट्रायल के लिए उसे भारत बायोटेक (Bharat Biotech) के साथ काम करने के लिए चुना गया है. डॉ. डैंग्स लैब (Dr. Dangs Lab) की ओर से बुधवार को एक बयान जारी कर कहा गया कि कोवैक्सीन के इंसानों पर क्लीनिकल ट्रायल के लिए उसे सेंट्रल लैब के तौर पर चुना गया है. बता दें कि हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक ने Indian Council of Medical Research (ICMR) और पुणे के National Institute of Virology (NIV) के साथ मिलकर यह वैक्सीन बनाया है. डॉ. डैंग्स लैब की ओर से बुधवार को कहा गया कि उसने ट्रायल कराने के लिए भारत बायोटेक के साथ पार्टनरशिप किया है.

यह भी पढ़ें

लैब की ओर से जारी बयान के मुताबिक कहा गया है कि, ‘हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि दिल्ली की डॉ. डैंग्स लैब को कोविड-19 के लिए भारत बायोटेक की ओर से ICMR और NIV के साथ मिलकर बनाए गए स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन के ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल के लिए सेंट्रल लैब के तौर पर चुना गया है.’ इसमें कहा गया है कि ‘ट्रायल के कई चरणों के स्क्रीनिंग और सेफ्टी के लिए सभी सैंपलों को प्रोसेस किया जा रहा है, जिसके बाद इनके नतीजों का अध्ययन NIV में किया जाएगा.’

इस लैब को सेफ्टी टेस्टिंग के लिए फिलहाल कई परीक्षण स्थलों से हर रोज़ 50 से 100 सैंपल मिल रहे हैं. लैब इस महीने ऐसे 12 परीक्षण स्थलों से तयशुदा वक्त में सैंपल इकट्ठा करने के लिए अपने ऑपरेशन में तेजी लाएगा. लैब की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि ‘संबंधित नियामक संस्थाओं की ओर से जारी किए गए good clinical laboratory practice (GCLP) के तहत पूरी प्रक्रिया में गुणवत्ता का ध्यान रखा जा रहा है. लैब के पास हर फील्ड से जुड़े विशेषज्ञ हैं, जो सुरक्षित और प्रभावी कोविड-19 वैक्सीन के लिए जमकर मेहनत कर रहे हैं.’

Video: Covaxin का इंसानी ट्रायल, 12 केंद्रों पर पहले दौर का ट्रायल शुरू

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Leave a Reply