Effect of lockdown on the functioning of parliamentary committees, meeting could not take place – संसदीय समितियों के कामकाज पर लाकडाउन का असर, नहीं हो सकी बैठक

Effect of lockdown on the functioning of parliamentary committees, meeting could not take place – संसदीय समितियों के कामकाज पर लाकडाउन का असर, नहीं हो सकी बैठक


संसदीय समितियों के कामकाज पर लाकडाउन का असर, नहीं हो सकी बैठक

संसद भवन.

नई दिल्ली:

देश में बढ़ते कोरोना संकट और संक्रमण रोकने के लिए अलग-अलग राज्यों में फिर से लगाए जा रहे लॉकडाउन का असर संसदीय समितियों के कामकाज पर पड़ रहा है. शुक्रवार को विदेश मामलों की स्थाई समिति की बैठक कोरम नहीं होने की वजह से नहीं हो पाई. संसदीय नियमों के मुताबिक समिति की बैठक होने के लिए कुल 31 सदस्यों में से कम से कम 10 सदस्य मौजूद होने चाहिए. लेकिन जब बैठक से पहले 10 सांसदों का कोरम पूरा नहीं हो सका तो चेयरमैन पीपी चौधरी ने बैठक स्थगित कर दी. 

यह भी पढ़ें

गुरुवार को भी संसदीय समिति की बैठक में सिर्फ 7 ही सांसद पहुंचे थे जिस वजह से बैठक नहीं हो सकी थी. शुक्रवार को बैठक में संसद की स्थायी समिति को ‘The Registration of Marriage of Non-Resident Indian Bill, 2019′ पर चर्चा के बाद अपनी ड्राफ्ट रिपोर्ट को फाइनल करना था. 

इस समिति के अहम सदस्य और बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने एनडीटीवी को बताया है कि मुख्य वजह कुछ राज्यों में लगाया गया लॉकडाउन है जिसकी वजह से सांसदों को लॉजिस्टिकल प्रॉब्लम झेलना पड़ रही है.

एनडीटीवी ने संसदीय समिति के सदस्य और लेफ्ट पार्टी के संसद से जब बात की तो उन्होंने बताया कि वे फिलहाल केरल के त्रिवेंद्रम में हैं और लॉकडाउन की वजह से फ्लाइट शेड्यूल गड़बड़ाने की वजह से दिल्ली नहीं आ पाए. एक बीजेपी संसद शुक्रवार को तेलंगाना के ट्राइबल इलाकों में कोविड-19 के खतरे से गांव वालों को आगाह करने के लिए दौरा कर रहे थे.

Leave a Reply