For better performance in JEE Advanced, learn how to prepare | JEE Advanced में बेहतर प्रदर्शन के लिए, जानें कैसे करें तैयारी


Dainik Bhaskar

Jan 14, 2020, 02:31 PM IST

किसी भी व्यक्ति का भविष्य आगे किस तरफ जाएगा यह उसके द्वारा चुने गए करियर पर निर्भर करता है। इसलिए ये माना जाता है कि 10वीं और 12वीं में की गयी तैयारी व पढ़ाई आपके भविष्य की नींव रखने में आपकी बहुत मदद करती है। आधुनिक समय में शायद ही कोई ऐसा छात्र हो जिसे इंजीनियरिंग के करियर के बारे में न पता हो। ऐसे में हर दूसरे विद्यार्थी का ये सपना होता है कि वो इंजीनियरिंग में अपना करियर स्थापित करे। लेकिन इसमें अपना करियर बनाने के लिए इससे जुड़ी परीक्षाओं को भी पास करना जरूरी होता है। 

इंजीनियरिंग में एडमिशन लेने के लिए कई प्रकार की परीक्षाएँ आयोजित की जाती हैं जिसमें  JEE की परीक्षा नेशनल लेवल पर होने वाली कुछ परीक्षाओं में से एक है| बीते कुछ वर्षों से JEE की परीक्षाओं को 2 भागों में बाँट दिया गया है; JEE Main और JEE Advanced। JEE Main क्वालफाइ करने वाले छात्र ही JEE Advanced की परीक्षा दे सकते हैं। ऐसे में अगर आप भी इन परीक्षाओं के लिए तैयारी कर रहे हैं तो ये टिप्स आपको JEE की परीक्षाओं में सफलता दिला सकती हैं। 

परीक्षा से पहले की तैयारी- 

शारीरिक और मानसिक तौर पर रहें स्वस्थ-
किसी भी प्रकार की परीक्षा या सामान्य जीवन में शारीरिक और मानसिक रूप में स्वस्थ होना बेहद जरूरी है। खासकर विद्यार्थियों के लिए ये कहा जाता है कि उन्हें अपने खान- पान और सेहत का ज्यादा ध्यान रखना चाहिए ताकि वे सही ढंग से पढ़ाई कर सकें। ऐसे में जब बात हो JEE जैसी नेशनल परीक्षाओं की तो सेहत का ज्यादा ध्यान देना पड़ता है क्योंकि इस राष्ट्रीय स्तर वाली परीक्षा में हर वर्ष लाखों छात्र परीक्षा देते हैं। ऐसे में अगर छात्र शारीरिक और मानसिक रूप में सेहतमंद रहता है तब ही वो परीक्षा के लिए बेहतर तैयारी कर पाता है।

लास्ट मिनट की तैयारी से बचें –
कई बार ये देखा गया है कि घबराहट में आकर विद्यार्थी पेपर के कुछ समय पहले सब कुछ याद और समराइज़ करने में लग जाते  हैं। इस तरह की तैयारी से छात्रों को कुछ भी हासिल नहीं होता बल्कि स्ट्रेस लेवल बढ़ जाता है। मनोविज्ञानिको की मानें तो “Last Minute Preparation” से मिलने वाला ज्ञान स्ट्रेस लेवल को बढ़ा देता है, जिससे पहले से तैयार किया हुआ कांसेप्ट पूरी तरह से याद नहीं रह पाता। इस वजह से इसका असर परीक्षा के बेहतर प्रदर्शन पर पड़ता है। इसलिए परीक्षा के कुछ दिन पहले से ही ऐसा रूटीन बना लेना चाहिए कि उस दौरान पहले से पढ़े हुये कांसेप्ट ही रिवाइज़ करें। इसके अलावा किसी भी नए सबजेक्ट या टॉपिक को न हाथ लगाएँ। 

परीक्षा के दौरान रखें इन बातों का ध्यान- 

रखें खुद पर भरोसा-
राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले इस परीक्षा को लेकर विद्यार्थियों का घबराना कुछ हद तक लाज़मी भी है क्यूंकी यही परीक्षा आगे चल कर उनके करियर की राह को मजबूत करती है। लेकिन कई बार ये देख गया है कि बढ़ती प्रतिस्पर्धा के चलते कई छात्र परीक्षा के दौरान तनाव में आ जाते हैं जिस कारण कई बार आते हुये प्रश्नों के भी सही उत्तर नहीं दे पाते। इस तनाव की वजह से इसका असर उनकी परफ़ोर्मेंस पर पड़ता है। ऐसी स्थिति में छात्रों को खुद को शांत रखते हुए काम करना चाहिए। इसलिए हमेशा परीक्षा के दौरान व तैयारी करते समय सकारात्मक सोच रखनी चाहिए और शांत मन से परीक्षा में बैठना चाहिए। इस तरह के प्रयास से परीक्षा में भाग लेने वाले छात्रों को निश्चित रूप से सकारात्मक नतीजे प्राप्त करने में सहायता मिलती है। 

टाइम मैनेजमेंट का रखें खास ध्यान-
टाइम मैनेजमेंट काफी हद तक आपकी अच्छी तैयारी को पूरा करता है। अगर आपको सभी प्रश्नों के उत्तर आते है लेकिन टाइम मैनेजमेंट में कमजोर हैं तो आपको विफलता का मुँह देखना पड़ सकता है। क्योंकि टाइम मैनेजमेंट की मदद से छात्र ज्यादा से ज्यादा प्रश्नों के उत्तर देने में सक्षम हो पाते हैं। ऐसे में अगर हम JEE ADVANCED के सिलेबस को ध्यान से देखें तो हर प्रश्न के लिए स्टूडेंट को लगभग 2 मिनट का समय मिलता है। इसलिए किसी एक प्रश्न पर ज्यादा समय लगे तो उसे छोड़ कर बाकी प्रश्नों पर ध्यान दें ताकि आपका समय ठीक ढंग से मैनेज हो सके।

मजबूत पहलू को पहले हल करें- 
JEE की परीक्षा के दौरान अगर आप सफलता पाना चाहते हैं तो तैयारी के साथ परीक्षा देनें की कुछ खास टिप्स को भी समझना जरूरी है। पेपर को हल करते समय हमेशा उस सबजेक्ट को पहले चुनें जिसमें आपकी तैयारी सबसे अच्छी हो। इस तरह आप पेपर सही समय पर कर पाते हैं और जो विषय आपका मजबूत रहता है उस विषय के प्रश्न छूटने की संभावनाएँ भी कम हो जाती हैं। इसके साथ ही छात्र का आत्मविश्वास लंबे समय तक बरकरार रहता है जिससे परीक्षा में छात्र का प्रदर्शन बेहतर हो जाता है। 

ऐसे में एक बेहतर तैयारी के लिए न केवल छात्र की लगन व मेहनत काम आती है बल्कि सफलता प्राप्त करने में एक कोचिंग या शिक्षण संस्थान का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है जिससे छात्र के सफल होने की संभावनाएँ प्रबल हो जाती हैं। इसलिए बेहतर तैयारी के लिए हमेशा ऐसे इंस्टीट्यूट को चुनें जो आपकी कमजोरियों को दूर कर के आपको सभी विषयों में श्रेष्ठतर तैयारी करवाए और साथ ही आपके आत्मबल को भी मजबूत करे।

जहां JEE परीक्षा की बात आती है वहाँ छात्रों की जुबान पर सबसे पहले FIITJEE का ही नाम आता है जो बीते 28 वर्षों से सफल छात्रों की सौगात भारत की इंजीनियरिंग क्षेत्र को देता आ रहा है। आइए जानें क्या है खास इस इंस्टीट्यूट में जो इसे बाकी इंस्टीट्यूट से बेहतर बनाता है। 

सक्षम व अनुभवी शिक्षकों की उपलब्धता-

FIITJEE की सफलता का मुख्य कारण सक्षम, अनुभवी और फुल-टाइम शिक्षकों की उपलब्धता है। जो यहाँ पढ़ने वाले छात्रों को सभी विषयों में एक बेहतर और सटीक शिक्षा प्रदान करती है। यहाँ पर पढ़ाने वाले सभी शिक्षकों को FIITJEE फैकल्टी का हिस्सा बनने से पहले एक व्यवस्थित और मजबूत प्रशिक्षण प्रक्रिया को पार करना पड़ता है। इस कारण यहाँ पर पढ़ाने वाले सभी फैकल्टी मेम्बर न केवल सही ढंग से प्रशिक्षित होते हैं बल्कि छात्रों को भी एक मजबूत और व्यवस्थित शिक्षा देने में सक्षम होते हैं।

पैटर्न प्रूफ टीचिंग-

FIITJEE हमेशा छात्रों को मौलिक रूप से तैयार करता रहा है। FIITJEE एक व्यापक तरीके से पढ़ाने में विश्वास करता है ताकि छात्र IIT-JEE (पैटर्न के बावजूद), बोर्ड, NTSE, KVPY, ओलंपियाड और अन्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन करें। इस तरह से यहाँ पर पढ़ने वाले छात्र न केवल बेहतर शिक्षा प्राप्त कर पाते हैं बल्कि फंडामैंटल कान्सैप्ट को समझ कर हर लेवल की परीक्षा में सफलता हासिल कर पाते हैं। इसके साथ ही उन छात्रों से आगे निकल जाते हैं, जो अपनी तैयारी को केवल पैटर्न तक सीमित रखते हैं न कि फंडामैंटल कान्सैप्ट को समझने की कोशिश करते हैं। 

पर्सनालाइज्ड कोचिंग-
FIITJEE में पढ़ने वाले सभी बच्चों को एक सामान शिक्षा देने के उद्देश्य से यहाँ छात्रों के विभिन्न बैच बनाए जाते हैं। इन सभी बैच में छात्रों की संख्या कम होती हैं ताकि ट्रेनिंग और पढ़ाई  के दौरान शिक्षक द्वारा सभी छात्रों पर एक  समान ध्यान दिया जा सके। इस तरह सभी स्टूडेंट्स को पर्सनालाइज्ड कोचिंग की सुविधा मिलती है और प्रत्येक छात्र हर विषय को बेहतर ढंग से समझ पाता है व सवालों में मुश्किल आने पर तुरंत समाधान प्राप्त कर पाता है।

उत्कृष्ट स्टडी मटेरियल-
FIITJEE में न केवल बेहतर शिक्षकों द्वारा शिक्षा प्रदान की जाती है बल्कि यहाँ छात्रों को अनुभवी शिक्षकों द्वारा तैयार किए गए स्टडी मटेरियल भी उपलब्ध करवाए जाते हैं। इसी स्टडी मटेरियल के बल पर कई छात्र हर परीक्षा में अपना बेहतर प्रदर्शन दे पाते हैं। यहाँ से पढ़ कर सफलता प्राप्त करने वाले छात्रों का ये मानना है कि FIITJEE में सभी विषयों के लिए शोध की गयी अध्ययन सामग्री मुहैया कराई जाती है। जिसकी बदौलत परीक्षा के समय घर बैठे भी सही तैयारी की जा सकती है। 

तनाव मुक्त व सकारात्मक वातवरण-
FIITJEE में पढ़ाई के साथ यहाँ के वातावरण पर भी खास ध्यान दिया जाता है ताकि बढ़ती प्रतिस्पर्धा में भी छात्र तनाव मुक्त वातावरण में पढ़ाई कर सके। इसके साथ ही यहाँ छात्रों की कमज़ोरी पर ध्यान देते हुए उनकी कमजोर कड़ी को दूर किया जाता है ताकि मानसिक रूप से छात्र सकारात्मक रहे और अपनी समस्याओं को उजागर कर उसका हल प्राप्त कर सके। 

तो अगर आप भी आने वाले JEE परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन के साथ सफलता हासिल करना चाहते हैं तो परीक्षा से पहले और परीक्षा के दौरान कुछ विशेष बातों का ध्यान रखें । इसके साथ ही अपनी बेहतर तैयारी की नींव मजबूत करने के लिए अपनी सूझबूझ से एक सही कोचिंग संस्थान को चुने जो आपको सफलता दिलाने में आपकी मदद करे।