IIT Admission 2020| There will no change in the syllabus of IIT JEE Advanced, IIT Delhi denied the news going viral by tweeting | जेईई एडवांस के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं होगा, IIT दिल्ली ने वायरल हो रही खबरों को गलत बताया

IIT Admission 2020| There will no change in the syllabus of IIT JEE Advanced, IIT Delhi denied the news going viral by tweeting | जेईई एडवांस के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं होगा, IIT दिल्ली ने वायरल हो रही खबरों को गलत बताया


  • Hindi News
  • Career
  • IIT Admission 2020| There Will No Change In The Syllabus Of IIT JEE Advanced, IIT Delhi Denied The News Going Viral By Tweeting

10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आईआईटी में एडमिशन के लिए अब कैंडिडेट्स को 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में कम से कम 75% अंक लाना जरूरी नहीं है। सिर्फ जेईई- एडवांस के स्कोर पर ही IIT में एडमिशन मिल सकेगा।

  • कोरोना की वजह से मई और जुलाई में परीक्षा पर रोक लगा दी गई थी, अब 27 सितंबर को होगी
  • इस साल IIT में एडमिशन के लिए बोर्ड परीक्षा में 75% मार्क्स लाना जरूरी नहीं

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) दिल्ली ने जेईई एडवांस के सिलेबस में बदलाव को लेकर बड़ी जानकारी दी है। संस्थान ने बताया कि जेईई एडवांस के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। इस बारे में इंस्टीट्यूट ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट के जरिए जानकारी दी। संस्थान ने पाठ्यक्रम में बदलाव को लेकर मीडिया में आ रही खबरों गलत बताया है। 

27 सितंबर को होगी परीक्षा

इसके साथ ही संस्थान ने यह भी बताया कि सिलेबस में बदलाव को लेकर जॉइंट एडमिशन बोर्ड (JAB) की बैठक में भी अब कोई चर्चा करने की योजना नहीं है। जेईई एडवांस का IIT दिल्ली की तरफ से कराई जाती है। इस साल कोरोना की वजह से यह परीक्षा 17 मई और फिर 26 जुलाई को होना टाल दी गई थी। अब यह 27 सितंबर को होगी।

क्या है पूरा मामला?

जेईई एडवांस के सिलेबस में बदलाव को लेकर सोशल मीडिया पर काफी खबरें वायरल हो रही थीं। दरअसल, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि सीबीएसई और राज्यों के बोर्ड में बारहवीं के पाठ्यक्रम में कटौती के बाद JAB ने जेईई एडवांस 2020 के लिए योग्यता मानदंडों (एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया) में छूट देने का फैसला किया है। केंद्रीय मंत्री के इस ट्वीट के बाद से ही परीक्षा के सिलेबस में बदलाव की खबरों ने जोर पकड़ लिया था।

इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने जानकारी दी थी कि आईआईटी में एडमिशन के लिए अब कैंडिडेट्स को 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में कम से कम 75% अंक लाना जरूरी नहीं है। सिर्फ जेईई- एडवांस के स्कोर पर ही स्टूडेंट्स को IIT में एडमिशन मिल सकेगा।

0


Leave a Reply