Illegal Sand Mining In Madhya Pradesh; Kamal Nath Twitter Reaction On Shivraj Singh Chouhan Govt Over Policeman Beaten Up In Sheopur | कमलनाथ ने किए तीन ट्वीट, कहा- रेत माफ़ियाओ को खुली छूट, कोई कार्यवाही नहीं, आख़िर अवैध वसूली किसके हिस्से में जा रही है

Illegal Sand Mining In Madhya Pradesh; Kamal Nath Twitter Reaction On Shivraj Singh Chouhan Govt Over Policeman Beaten Up In Sheopur | कमलनाथ ने किए तीन ट्वीट, कहा- रेत माफ़ियाओ को खुली छूट, कोई कार्यवाही नहीं, आख़िर अवैध वसूली किसके हिस्से में जा रही है


  • Hindi News
  • National
  • Illegal Sand Mining In Madhya Pradesh; Kamal Nath Twitter Reaction On Shivraj Singh Chouhan Govt Over Policeman Beaten Up In Sheopur

भोपाल2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ

  • कमलनाथ ने कहा है कि ‘ये क्या हो रहा है प्रदेश को ? पूरे प्रदेश में सरकार बदलते ही अवैध रेत उत्खनन का कार्य वापस ज़ोरों पर
  • जिस रेत माफिया ने एएसआई की पिटाई की थी उसे देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, लेकिन आरोपी रेत माफिया बंटी रावत पुलिस के चंगुल से भाग गया

प्रदेश में हो रहे रेत के अवैध उत्खनन और शुक्रवार को श्योपुर में रेत माफिया द्वारा एक पुलिसकर्मी की पिटाई का मामला सामने आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज एक के बाद एक तीन ट्वीट किए। अपने पहले ट्वीट में कमलनाथ ने कहा है कि ‘ये क्या हो रहा है प्रदेश को ? पूरे प्रदेश में सरकार बदलते ही अवैध रेत उत्खनन का कार्य वापस ज़ोरों पर। प्रदेश की नदियों को छलनी करने का कार्य बेरोकटोक जारी।’ इधर, श्योपुर में जिस रेत माफिया ने एएसआई की पिटाई की थी उसे देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। लेकिन आरोपी रेत माफिया बंटी रावत पुलिस के चंगुल से भाग गया। पुलिस बंटी रावत के ट्रैक्टर की जगह दूसरे किसान का ट्रैक्टर जब्त कर थाने ले आई। 

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि -रेत माफ़ियाओ के हौसले बुलंदी पर। रोकने पर पुलिस अधिकारियों की पिटाई कर रहे है, अवैध वसूली के आरोप लगा रहे है, खुले आम धमका रहे है, जान से मारने की धमकी दे रहे है, हमला कर रहे है। कमलनाथ ने तीसरे ट्वीट में कहा- प्रदेश के श्योपुर, डबरा में रेत माफ़ियाओ द्वारा अधिकारियों पर हमले की घटनाएँ आयी सामने। सरकार मुक़दर्शक बनकर मौन, रेत माफ़ियाओ को खुली छूट, कोई कार्यवाही नहीं, आख़िर अवैध वसूली किसके हिस्से में जा रही है, रेत माफ़ियाओ को आख़िर किसका मिल रहा संरक्षण ..?

क्या है पूरा मामला

  • शुक्रवार की सुबह 6 बजे कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बाहर से आने वालों से पूछताछ के लिए मुरैना-गढ़ी रोड पर पुलिस चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान चंबल नदी से अवैध तरीके से रेत खनन कर ला रहे तीन ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को चेकिंग कर रहे एएसआई राजेंद्र सिंह जादौन ने पकड़ लिया। इन्हें थाने भेज पाते कि इसके पहले ही रेत माफिया बंटी रावत व उसके दो साथी मौके पर आ धमके।
  • माफिया ने यह कहते हुए एएसआई जादौन के साथ मारपीट कर दी कि जब वह उन्हें रेत की एंट्री (रुपए) दे रहे हैं तो फिर क्यों पकड़ा है। इसके बाद एएसआई जादौन को थप्पड़ मारते हुए उसे धक्का दे दिया। इसके बाद भी माफिया नहीं माने और उन्होंने एएसआई को जाते समय जान से मारने की धमकी दे डाली।
  • फिर आरोपी मौके से बड़े आराम से निकल गए। इन्हें पकड़ने के विजयपुर थाना पुलिस ने कोई प्रयास नहीं किए। पुलिस ने एएसआई की शिकायत पर मुरैना जिले के थाना सेंथरा, रायड़ी गांव निवासी बंटी रावत व उसके दो साथियों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट आदि का मामला दर्ज कर लिया है।

15 दिन पहले तहसीलदार को भी दी थी कुचलने की धमकी
रेत माफिया विजयपुर-वीरपुर, ढोढर क्षेत्र में पुलिस संरक्षण के चलते इतने हावी है कि न तो वह पुलिस देख रहे हैं और न ही अफसर। 15 दिन पहले इसी रोड पर तत्कालीन तहसीलदार अशोक गोबड़िया ने भी रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़े। लेकिन माफिया के हौसले इतने बुलंद थे कि उन्होंने तत्कालीन तहसीलदार को ही ट्रैक्टर से कुचलकर मार डालने की धमकी दे डाली और लड़-झगड़कर पकड़ में आए ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को छुड़ा ले गए। इस मामले में तब भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नही की, जबकि पूरी घटना पुलिस के सामने ही हुई थी।

पकड़ने की बजाय जाने कहा

एएसआई पर हाथ उठाने और उसे धक्का देने के बाद माफिया का एक और साथी पुलिस को सड़क पर धमकाने लगा कि दोबारा एंट्री के लिए फोन किया तो अंजाम अच्छा नहीं होगा। इस पर आरोपी को पकड़ने के बजाए मौके पर मौजूद आरक्षक ने उसे जाने के लिए कहा और एएसआई देखते रह गए। इसके बाद भी पुलिस नहीं जागी। आरोपी ट्रैक्टर-ट्रॉली सहित फरार हो गए।

0


Leave a Reply