IPL 2020 Coronavirus | Coronavirus IPL 2020 Latest News, Foreign Player Visa Restriction After 60 India Positive Cases | वीजा सस्पेंड होने की वजह से 15 अप्रैल तक नहीं आ सकेंगे 60 विदेशी खिलाड़ी, गवर्निंग बॉडी 14 मार्च को कर सकती है लीग पर फैसला

IPL 2020 Coronavirus | Coronavirus IPL 2020 Latest News, Foreign Player Visa Restriction After 60 India Positive Cases | वीजा सस्पेंड होने की वजह से 15 अप्रैल तक नहीं आ सकेंगे 60 विदेशी खिलाड़ी, गवर्निंग बॉडी 14 मार्च को कर सकती है लीग पर फैसला


  • आईपीएल 2020 का पहला मैच 29 मार्च को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाना है
  • खिलाड़ियों का वीजा बिजनेस कैटेगरी में आता है, 13 मार्च से 35 दिन तक वो भारत यात्रा नहीं कर सकेंगे
  • सौरव गांगुली ने कहा था, आईपीएल 2020 तय वक्त पर होगा; 14 मार्च को गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2020, 01:59 PM IST

खेल डेस्क. कोरोनावायरस का असर इस साल 29 मार्च से होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर भी पड़ने लगा है। केंद्र सरकार ने वीजा को लेकर जो नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं, उनके चलते कोई विदेशी खिलाड़ी अब 15 अप्रैल तक भारत यात्रा नहीं कर सकेगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि प्लेयर्स का वीजा बिजनेस कैटेगरी में आता है। वहीं, भारत ने सिर्फ डिप्लोमैटिक और एम्प्लॉयमेंट वीजा होल्डर्स को ही यात्रा का अनुमति दी है। ताजा स्थिति के मद्देनजर 14 मार्च शनिवार को आईपीएल गवर्निंग बॉडी की मीटिंग होगी। इसमें लीग पर अहम फैसला लिया जा सकता है। 
आईपीएल रद्द करने की मांग को लेकर एक याचिका सुप्रीम कोर्ट तो दूसरी मद्रास हाईकोर्ट में दायर की गई हैं। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को इस पर फौरन सुनवाई की मांग खारिज कर दी। वहीं, मद्रास हाईकोर्ट ने बीसीसीआई से 23 मार्च तक जवाब मांगा है।

आईपीएल में 60 विदेशी खिलाड़ी
आईपीएल 2020 में कुल 60 विदेशी खिलाड़ी आएंगे। 29 मार्च से 24 मई तक दुनिया की सबसे महंगी और बड़ी लीग प्रस्तावित है। बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने कुछ दिन पहले कहा था कि आईपीएल शेड्यूल के मुताबिक होगा, हेल्थ एडवाइजरी जारी की जा सकती है। दूसरी तरफ, महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्टर ने इसे टालने का सुझाव दिया। बीसीसीआई की दिक्कत केंद्र सरकार के वीजा संबंधित नए नियमों से बढ़ गई। सरकार ने डिप्लोमैटिक और एम्प्लॉयमेंट छोड़कर सभी कैटेगरी के वीजा 13 मार्च से 35 दिन के लिए सस्पेंड कर दिए। खिलाड़ियों के वीजा बिजनेस कैटेगरी में आते हैं। जाहिर सी बात है विदेशी खिलाड़ी 15 अप्रैल तक भारत नहीं आ सकेंगे। दूसरे शब्दों में कहें तो ताजा हालात के मुताबिक, फॉरेन प्लेयर्स 15 अप्रैल तक आईपीएल नहीं खेल सकेंगे।  

अब सिर्फ एक विकल्प
चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ विश्वनाथन ने न्यूज एजेंसी से कहा कि अगर बीसीसीआई विदेशी खिलाड़ियों को सरकार से विशेष अनुमित दिलाए तो ये प्लेयर्स आईपीएल खेल सकते हैं। उन्होंने कहा, “आईपीएल में विदेशी खिलाड़ी बिजनेस वीजा पर आते हैं। उनके लिए तब तक आईपीएल से जुड़ना असंभव है जब तक कि बीसीसीआई उन्हें विशेष अनुमति न दिलवाए। हम सरकार के खिलाफ नहीं जा सकते।” 

14 मार्च को गवर्निंग काउंसिल मीटिंग
सौरव गांगुली ने भले ही पहले आईपीएल तय वक्त पर कराने का भरोसा दिलाया हो। लेकिन, वर्तमान स्थिति में यह मुश्किल लग रहा है। 15 मार्च तक विदेशी खिलाड़ी नहीं आ सकेंगे। सनराईजर्स हैदराबाद का तो कप्तान ही विदेशी है। केन विलियम्सन के बिना हैदराबाद को दिक्कत होना स्वाभाविक है। खेल मंत्रालय ने भी कह दिया है कि सभी खेल संस्थानों को हेल्थ मिनिस्ट्री की एडवाइजरी माननी होगी। एक विकल्प बिना दर्शकों के मैच कराने का था लेकिन विदेशी खिलाड़ियों के बिना वो भी मुमकिन नहीं लगता। रोड सेफ्टी लीजेंड्स टी-20 में भी दर्शकों के आने पर रोक लगा दी गई है। अब नजरें 14 मार्च को होने वाली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग पर हैं। माना जा रहा है कि इस बैठक में आईपीएल पर अहम और अंतिम फैसला लिया जा सकता है। 

Leave a Reply