Jaipur News In Hindi : Rajasthan took the highest number of samples in the country per one million population, where only 4 patients tested more than 900 even there | राजस्थान ने प्रति दस लाख आबादी पर देश में सबसे ज्यादा सैंपल लिए, जहां सिर्फ 4 रोगी वहां भी 900 से अधिक जांचें


  • दो हाॅटस्पाॅट भीलवाड़ा और जोधपुर को देखें तो भीलवाड़ा में अब तक 28 पाॅजिटिव सामने आए, जबकि 4809 सैंपल टेस्ट किए 
  • बांसवाड़ा भी कोरोना एपिसेंटर बन चुका है, यहां कुल 59 पाॅजिटिव आए और 731 सैंपल लिए गए हैं

दैनिक भास्कर

Apr 17, 2020, 06:07 AM IST

जयपुर. कोरोना को लेकर सबसे ज्यादा सैंपल लेने के मामले में राजस्थान देश में महाराष्ट्र के बाद दूसरे नंबर पर है। हालांकि, यदि प्रति दस लाख आबादी के लिहाज से देखें तो राजस्थान सैंपल लेने में देश में पहले स्थान पर है। प्रति दस लाख लोगों पर राजस्थान की सैंपलिंग 360 है, जबकि दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 10 लाख आबादी पर 290 सैंपल ही लिए गए हैं।

अब तक राजस्थान में कुल 40,778 सैंपल लिए गए। इस सूची में महाराष्ट्र 52 हजार सैंपल्स के साथ पहले पर है। प्रदेश में जहां 2-4 मरीज भी पॉजिटिव आए, वहां भी अच्छी खासी संख्या में सैंपल लिए गए हैं। जैसे- उदयपुर में सिर्फ 4 रोगी मिले, वहां 910 सैंपल लिए जा चुके हैं।

जोधपुर में 116 पाॅजिटिव आए हैं, यहां 3865 लोगों की जांच हो चुकी

दो हाॅटस्पाॅट भीलवाड़ा और जोधपुर को ही देखें तो भीलवाड़ा में अब तक 28 पाॅजिटिव सामने आए हैं और वहां 4809 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। क्योंकि, अगर कम जांचें होतीं तो हालात बिगड़ सकते थे। जोधपुर में भीलवाड़ा से 4 गुना ज्यादा 116 कोरोना पाॅजिटिव सामने आ चुके हैं। यहां भी अब तक 3865 लोगों की जांच हो चुकी है।

बांसवाड़ा और टोंक में सैंपलिंग की रफ्तार बढ़ाने की जरूरत है

बांसवाड़ा भी बड़ा कोरोना एपिसेंटर बन चुका है। यहां कुल 59 पाॅजिटिव आए और 731 सैंपल लिए गए हैं। हालांकि, मरीजों की संख्या के लिहाज से यहां जांचें तेज करने की जरूरत है। क्योंकि, झुंझुंनूं में 35 केस ही आए हैं, लेकिन 3585 सैंपल लिए जा चुके हैं। टोंक में भी 71 मरीज सामने आ चुके हैं और 1683 की सैंपलिंग हो चुकी है।

सबसे ज्यादा सैंपलिंग में राजस्थान देश में दूसरे नंबर पर है : गहलोत

 राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा- प्रति दस लाख आबादी के लिहाज से राजस्थान कोरोना की जांच करने के मामले में देश में पहले नंबर पर है। इतनी ज्यादा संख्या में सैंपल कहीं और नहीं लिए गए। कुल सैंपलिंग के मामले में हम देश में दूसरे नंबर पर हैं। हम ज्यादा से ज्यादा सैंपलिंग करना चाहते हैं ताकि बीमारी फैल न सके।