Jalandhar News In Hindi : Coronavirus Punjab | Coronavirus Punjab Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Chandigarh Amritsar Ludhiana Amritsar Jalandhar (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | कई शहरों में जरूरी सामानों की किल्लत, प्रशासन की कोशिशों के बाद भी स्थिति सामान्य नहीं

Jalandhar News In Hindi : Coronavirus Punjab | Coronavirus Punjab Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Chandigarh Amritsar Ludhiana Amritsar Jalandhar (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | कई शहरों में जरूरी सामानों की किल्लत, प्रशासन की कोशिशों के बाद भी स्थिति सामान्य नहीं


  • पंजाब में कोरोना संक्रमितों की संख्या 51 पहुंची, अब तक पांच लोगों की मौत हुई 
  • सरकार ने मरकज में शामिल हुए जमातियों की खोज तेज की, मुक्तसर में 14, जालंधर में 18 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया

दैनिक भास्कर

Apr 03, 2020, 07:38 PM IST

जालंधर (पंजाब). पंजाब में लॉकडाउन का आज दसवां दिन है। सख्ती की वजह से लोग इसका पालन कर रहे हैं। प्रशासन और समाजसेवी संस्थाएं जरूरी चीजें उन तक पहुंचाने में लगी हैं। हालांकि, कई शहरों में अब जरूरी सामान की किल्लत शुरू हो गई है। सप्लाई चेन प्रभावित होने के चलते और प्रशासन की कोशिशों के बाद भी स्थिति सामान्य नहीं हो रही है। उधर, लोगों को जरूरतमंद चीजें मुहैया कराने के लिए कई संस्थाएं और प्रशासन लगातर काम कर रहा है। इस बीच, पंजाब में संक्रमितों की संख्या 51 पहुंच गई है। वहीं, पांच लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि 14 अप्रैल के आगे राज्य में कर्फ्यू बढ़ाने का निर्णय राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर निर्भर करेगा।

पंजाब से 200 व्यक्ति निजामुद्दीन मरकज में गए थे: डीजीपी

पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि अलग-अलग समय पर पंजाब से 200 व्यक्ति निजामुद्दीन मरकज में गए थे और वापस लौटे। इस तरह 12 जिलों के प्रभावित होने की आशंका है। उनको ढूंढने के अलावा दूसरे राज्यों के व्यक्तियों को भी ढूंढा जा रहा है जो तबलीगी जमात के काम के लिए पंजाब आए हैं। स्वास्थ्य विभाग को भी बता दिया गया है और उनको ढूंढने की कोशिशें जारी हैं। अब तक कोरोना प्रभावित ऐसा कोई केस सामने नहीं आया। राज्य में कई जगह कर्फ्यू को कामयाब बनाने के लिए पुलिस प्रशासन ने ड्रोन से निगरानी का क्रम शुरू कर दिया है। जालंधर शहर में भी ड्रोन से निगरानी की गई। 

लुधियाना में अब तक संक्रमण के 4 मामले, चारों महिलाएं
लुधियाना में अब तक कुल चार महिलाओं को संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से एक महिला की मौत भी हो गई है। महिला अमरपुरा इलाके में रहती थी। उस इलाके को सील कर दिया गया है। प्रशासन की तरफ से पलायन कर रहे श्रमिकों के लिए जिले के विभिन्न हिस्सों में 50 शेल्टर होम बनाए गए हैं। यहां उनके खाने-पीने, रहने के अलावा मेडिकल सुविधा की व्यवस्था भी की गई है। इसके अलावा कस्बा खन्ना की सब्जी मंडी को दो रोस्टरों में बांट दिया है। एक दिन सब्जी बिकेगी तो दूसरे दिन फलों की बिक्री होगी।

लॉकडाउन की वजह से प्रदूषण कम हुआ है। जालंधर में लोग छतों से शिवालिक की पहाड़ियां देख रहे हैं।

राशन वितरण पर उठ रहे हैं सवाल

  • पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल सिंह चीमा ने प्रदेश में हो रहे राशन वितरण पर सवाल उठाया है। उन्होंने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की तरफ से दिया जा रहा राशन सिर्फ कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़े लोगों को ही दिया जा रहा है। उन्होंने मांग की कि कैप्टन राशन का बंटवारा बूथ लेवल अफसर से ही करवाने की व्यवस्था करवाएं।
  • अमृतसर में जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक लखविदर सिंह ने अधिकारियों को राशन इकट्ठा करने की कहा है। इसमें उन्होंने कहा कि लोगों के लिए आटा, दाल, चीनी व अन्य जरूरत के सामान का इंतजाम किया जाए। 
अमृतसर में राशन और सब्जी के पैकेट।

दिल्ली के मरकज में शामिल लोगों ने भी बढ़ाई दिक्कत

  • लॉकडाउन के बीच बीते दिनों दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल हुए लोगों ने भी पंजाब सरकार की दिक्कतें बढ़ा दी हैं। मुक्तसर में 14, जालंधर में 18 लोगों का पता लगने के बाद इन्हें मस्जिदों में क्वारैंटाइन किया गया है। साथ ही गुरुवार रात पटियाला जिले के कस्बा नाभा में भी एक मस्जिद में उत्तरप्रदेश के फैजाबाद जिले के 18 लोगों को मस्जिद में क्वारैंटाइन किया गया है। 
  • लुधियाना के डीसी प्रदीप अग्रवाल ने बताया कि बताया कि 17 व्यक्तियों के जानकारी मिली है। प्रशासन ने इनमें से आठ लोगों के सैंपल लिए हैं। बाकी की तलाश की जा रही है।  

फिरोजपुर: रेलवे ने कोच में बनाए आइसोलेशन वार्ड
कोरोना की महामारी से निपटने के लिए रेलवे ने भी तेजी से तैयारी शुरू कर दी है। रेलवे कोच को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर रही है। हर कैबिन में नीचे की बर्थ की दो सीटें मरीजों के लिए उपलब्ध होंगी, यानि हर कोच में 8 केबिन के हिसाब से कुल 16 मरीजों को रखा जा सकेगा। फिरोजपुर डिविजन के अधिकारियों ने बताया कि टॉयलेट के नजदीक एक केबिन को स्वास्थ्य विभाग के इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है। ऊपर की बर्थ पर मरीजों का सामान रखने के लिए उपलब्ध रहेंगी। वहीं, बीच की बर्थ को हटा दिया गया है।    

Leave a Reply