Jalandhar Punjab Crime Gambling Jalandhar Police recovered Rs 1.23 crore from bookie’s house, accused was betting on England-West Indies match while arrested | बुकी के घर से 1.23 करोड़ रुपए बरामद, गिरफ्तारी के वक्त इंग्लैंड-वेस्टइंडीज मैच में सट्टा लगा रहा था आरोपी

Jalandhar Punjab Crime Gambling Jalandhar Police recovered Rs 1.23 crore from bookie’s house, accused was betting on England-West Indies match while arrested | बुकी के घर से 1.23 करोड़ रुपए बरामद, गिरफ्तारी के वक्त इंग्लैंड-वेस्टइंडीज मैच में सट्टा लगा रहा था आरोपी


  • Hindi News
  • National
  • Jalandhar Punjab Crime Gambling Jalandhar Police Recovered Rs 1.23 Crore From Bookie’s House, Accused Was Betting On England West Indies Match While Arrested

जालंधर8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

जालंधर में सट्‌टेबाज सौरव वर्मा उर्फ गगन उर्फ नोनी से बरामद की गई नकदी, लैपटॉप, मोबाइल और दूसरी चीजें।

  • शनिवार को सीआईए स्टाफ-1 के प्रभारी हरमिंदर सिंह को मिली थी वर्कशॉप चौक के पास एक घर में सट्टेबाजी का रैकेट चल रहे होने की सूचना
  • एडीसीपी हरप्रीत सिंह बैनीपाल और सीआईए प्रभारी हरमिंदर सिंह की टीम ने सौरव वर्मा उर्फ गगन उर्फ नोनी को किया गिरफ्तार
  • रविवार को बरामद नकदी को आयकर के तो मोबाइल और लैपटॉप साइबर सेल को सौंप दिया गया

जालंधर में क्रिकेट सट्टेबाजी के ऑनलाइन रैकेट का पर्दाफाश करते हुए बुकी नोनी के घर से पुलिस ने 1 करोड़ 23 लाख रुपए बरामद किए हैं। शनिवार शाम को ही एडीसी हरप्रीत सिंह बैनीपाल और सीआईए प्रभारी हरमिंदर सिंह ने बीएसएफ कॉलोनी में छापा मारकर सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा होल्डर सौरव वर्मा उर्फ गगन उर्फ नोनी को गिरफ्तार किया था। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तारी के वक्त आरोपी इंग्लैंड-वेस्टइंडीज टेस्ट मैच में सट्टा लगा रहा था। फिलहाल उससे बरामद रकम को आयकर विभाग को सौंप दिया गया है। पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर के मुताबिक 25 जुलाई को सीआईए स्टाफ-1 के प्रभारी हरमिंदर सिंह को सूचना मिली थी कि वर्कशॉप चौक के पास एक घर में सट्टेबाजी का रैकेट चल रहा है। इस पर एडीसीपी हरप्रीत सिंह बैनीपाल और सीआईए प्रभारी हरमिंदर सिंह की टीम ने घर पर छापा मारा तो वहां पेशे से आर्किटेक्ट सौरव वर्मा उर्फ गगन उर्फ नोनी इंग्लैंड-वेस्टइंडीज टेस्ट मैच में सट्टा लगा रहा था। वह ऑनलाइन सट्टेबाजी का खेल अकाउंट के नाम से ऑनलाइन अकाउंट बनाकर खिला रहा था। पुलिस ने मौके से लैपटॉप, मोबाइल और 1.23 करोड़ रुपए के साथ सौरव को गिरफ्तार कर लिया। रविवार को बरामद नकदी को आयकर के तो मोबाइल और लैपटॉप साइबर सेल को सौंप दिया है।

लोगों की आंखों में धूल झोंकने को चल रहा था ये दफ्तर
पुलिस कमिश्नर का कहना है कि आरोपी बुकी सौरव ने सट्टेबाजी का धंधा छिपाने और लोगों की आंखों में धूल झोंकने के लिए के लिए कॉलोनी में एक दफ्तर सौरव प्लानर्स नाम से खोला था। पिछले कुछ वर्षों से वह सट्टेबाजी में शामिल था लेकिन दफ्तर में लोगों के इवेंट प्लांट करने का काम करवाता था।
सट्टेबाजी के धंधे में कई और नाम होंगे उजागर
करोड़ों की नकदी के साथ सट्टेबाजी के इस धंधे में पकड़े गए सौरव के साथ कई और नाम उजागर होंगे। जांच में सामने आया है कि सौरव अकेला यह काम नहीं कर रहा था बल्कि उसके साथ और भी कई लोग जुड़े हुए थे। मोबाइल और लैपटॉप के जरिए पुलिस उन लोगों तक पहुंचेगी और उनको भी गिरफ्तार करेगी।

0

Leave a Reply