Jyotiraditya Scindia says I consider myself lucky to join BJP – ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, भाजपा में शामिल होने के लिए स्वयं को भाग्यशाली मानता हूं

Jyotiraditya Scindia says I consider myself lucky to join BJP – ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, भाजपा में शामिल होने के लिए स्वयं को भाग्यशाली मानता हूं


भोपाल:

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के लिए वह स्वयं को भाग्यशाली मानते हैं. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को आश्वासन दिया कि वह उनके लिए पूरे दिल से मेहनत करेंगे. भाजपा में शामिल होने के बाद पहली दफा भोपाल में प्रदेश पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा, ‘‘जिस संगठन, जिस परिवार में मैंने बीस साल गुजारे हैं. मेरे मेहनत, लगन, संकल्प के साथ अपना खून और पसीना वहां दिया. उस सब को छोड़कर मैं अपने आप को आपके हवाले कर रहा हूं.” उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा में शामिल होने के लिए मैं अपने का भाग्यशाली मानता हूं. पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने इस पार्टी के दरवाजे मेरे लिए खोल दिए.”

MP के सियासी घमासान के बीच बोली शिवसेना- महाराष्ट्र में BJP दिन में सपने देखना छोड़ दे

उन्होंने कहा कि वह अपने साथ केवल एक चीज लाए हैं और वह है उनकी कड़ी मेहनत. प्रदेश भाजपा कार्यालय में सिंधिया के स्वागत कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे. सिंधिया ने कहा, ‘‘आज का दिन मेरे लिए भावुक दिन है. मैं स्वयं को भाग्यशाली समझता हूं कि इस परिवार (भाजपा) ने मेरे लिए अपने दरवाजे खोल दिए.” उन्होंने कहा, ‘‘मैं गर्व से कहता हूं कि अटल बिहारी वाजपेयी, नरेन्द्र मोदी, सिंधिया परिवार की मेरी दादी राजमाता विजयाराजे सिंधिया हों या मेरे पिताजी, और वर्तमान में सिंधिया परिवार का मुखिया होने के नाते मैं, हमारा लक्ष्य राजनीति नहीं. हमारा लक्ष्य जन सेवा है.”

राहुल पद छोड़ना चाहते हैं, उन्हें क्या सलाह दे रहीं सोनिया और प्रियंका

सिंधिया ने कहा कि वह सब कुछ छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं और पूरे दिल के साथ आए हैं. उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य राजनीति नहीं बल्कि जनसेवा करना है. उन्होंने शिवराज की ओर देखते हुए कहा कि हमने दिसंबर 2018 में विधानसभा चुनाव में एक दूसरे के खिलाफ लड़ाई लड़ी लेकिन आज हम साथ हैं. चौहान की तारीफ करते हुए सिंधिया ने कहा कि इस प्रदेश में केवल दो नेता है जो अपनी गाड़ी में एसी में नहीं चलाते हैं… एक हैं शिवराज सिंह चौहान और दूसरे हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया. सिंधिया ने कहा कि जब उन्होंने मंदसौर गोलीकांड में किसानों पर दायर मुकदमों और अतिथि विद्वानों जैसे अन्याय के मुद्दे उठाए और सड़क पर उतरने के बात कही तो कांग्रेस नेताओं ने कहा, ‘‘आपकी मर्जी है, उतर जाएं.”

राजनीति में कोई ‘सगा’ नहीं! उन्हीं ज्योतिरादित्य के स्वागत में बिछी बीजेपी जिन्होंने कभी कहा था शिवराज..

उन्होंने कहा कि जब सिंधिया परिवार को कोई ललकारता है तो वह (सिंधिया) चुप नहीं रहता. सिंधिया ने कहा कि उनका केवल एक उद्देश्य है ‘हर भाजपा कार्यकर्ता की दिल में जगह बनाना.’ सिंधिया का स्वागत करते हुए केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने उन्हें आश्वासन दिया कि उन्हें भाजपा परिवार में कोई परेशानी नहीं होगी. चौहान ने कहा कि विधानसभा चुनाव में हमारे सामने तो सिंधिया जी थे लेकिन पद (मुख्यमंत्री) कोई और ले गया. मुख्यमंत्री कमलनाथ पर तंज करते हुए चौहान ने कहा कि बॉलीबुड के आईफा आयोजन के लिए उनके पास धन है लेकिन किसानों के लिए उनके पास पैसे नहीं हैं.

VIDEO: ‘सिंधिया ने अपनी विचारधारा जेब में रख ली है’ : राहुल गांधी

Leave a Reply