Kota Sutdents Lockdown Update, Ashok Gehlot Rajasthan Government Arrangements For Uttar Pradesh 7500 Coaching Students | कोटा में फंसे 7 हजार 500 छात्रों को लेने के लिए उत्तर प्रदेश से 252 बसें रवाना, छात्रों को पहले आगरा और झांसी लाया जाएगा


  • 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना हुईं, इन्हें कोटा में 6 अलग-अलग जगहों पर खड़ा किया जाएगा
  • सभी छात्रों के आज रात ही उत्तर प्रदेश लौट जाने की संभावना, आगरा-झांसी से उन्हें घर भेजने के इंतजाम किए जाएंगे
  • देशभर से छात्र आईआईटी की तैयारी करने कोटा आते हैं, अभी कोटा में 40 हजार छात्र हॉस्टल और पीजी अकोमोडेशन में रह रहे

दैनिक भास्कर

Apr 17, 2020, 07:07 PM IST

कोटा. शहर में फंसे कोचिंग छात्रों को लेने के लिए शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने 252 बसें कोटा भेजी हैं। यहां यूपी के 7 हजार 500 छात्र हैं, जिन्हें बसों से उनके घरों तक पहुंचाया जाएगा। राजस्थान और यूपी सरकार ने गुरुवार को यह फैसला लिया था। छात्रों के लिए शुक्रवार को 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना की गईं। रात में ही छात्र बसों से रवाना हो जाएंगे।

बसें कोटा में उन 6 जगहों पर खड़ी की जाएंगी, जहां कई कोचिंग सेंटर हैं। यहां पहुंचने के लिए कोचिंग और प्रशासन छात्रों की मदद करेगा। एक बस में करीब 25 से 30 बच्चों को ले जाया जाएगा। इन्हें सबसे पहले झांसी और आगरा ले जाया जाएगा। इसके बाद सरकार इन्हें आगे ले जाने का प्रबंध करेगी। 

मध्य प्रदेश से भी छात्रों को लाने की योजना
कोटा में देशभर से छात्र आईआईटी की तैयारी करने आते हैं। यहां अभी 40 हजार छात्र हॉस्टल और पीजी अकोमोडेशन में रह रहे हैं। कोटा के अलावा यूपी सरकार मध्यप्रदेश में फंसे छात्रों को भी घर वापस लाने के लिए बातचीत कर रही है। बिहार के बच्चों के लिए भी वहां की सरकार से बात की जाएगी।

कोटा में यूपी की बसें उन 6 स्पॉट पर खड़ी की जाएंगी, जहां कोचिंग की संख्या ज्यादा है।

मास्क, सैनिटाइजर, पानी और खाने की भी व्यवस्था की गई
बच्चों को भेजने की पूरी व्यवस्था एडीएम प्रशासन एनके गुप्ता कर रहे हैं। उनके साथ पुलिस भी बच्चों को बसों तक लाने और शांति बनाए रखने में मदद करेगी। बच्चों के बसों में बैठने से पहले मास्क, सैनिटाइजर, पानी और खाना भी दिया जाएगा।