Ladakh Galwan Valley Martyr Colonel Santosh Babu Wife Appoints Deputy Collector By Telangana CM K Chandrashekhar Rao | भारत-चीन हिंसक झड़प में शहीद संतोष बाबू की पत्नी को डिप्टी कलेक्टर बनाया गया, तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव ने नियुक्ति पत्र सौंप

Ladakh Galwan Valley Martyr Colonel Santosh Babu Wife Appoints Deputy Collector By Telangana CM K Chandrashekhar Rao | भारत-चीन हिंसक झड़प में शहीद संतोष बाबू की पत्नी को डिप्टी कलेक्टर बनाया गया, तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव ने नियुक्ति पत्र सौंप


  • Hindi News
  • National
  • Ladakh Galwan Valley Martyr Colonel Santosh Babu Wife Appoints Deputy Collector By Telangana CM K Chandrashekhar Rao

हैदराबाद8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शहीद कर्नल संतोष के परिवार में पत्नी, एक बेटा और एक बेटी हैं। (फाइल फोटो)

  • तेलंगाना के सीएम ने अपनी सचिव को ट्रेनिंग पूरी होने तक संतोषी के साथ रहने को कहा
  • गलवान घाटी में 15 जून को भारत-चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 जवान शहीद हुए थे

भारत और चीन के बीच 15 जून को हुई हिंसक झड़प में शहीद होने वाले कर्नल संतोष बाबू की पत्नी संतोषी को सरकारी नौकरी मिली है। उन्हें डिप्टी कलेक्टर के रूप में नियुक्त किया गया है।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बुधवार को संतोषी को नियुक्ति पत्र दिया। साथ ही अधिकारियों से कहा कि उनकी पोस्टिंग हैदराबाद क्षेत्र में किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार हमेशा शहीदों के परिवारों के साथ खड़ी है।

शहीद कर्नल संतोष बाबू की पत्नी संतोषी को नियुक्ति पत्र सौंपते सीएम राव।

परिवार से भी मिले सीएम

मुख्यमंत्री ने अपनी सचिव स्मिता सभरवाल को तब तक संतोषी के साथ रहने के लिए कहा है, जब तक कि वह पूरी ट्रेनिंग नहीं कर लेती। राव ने संतोषी के परिवार के 20 सदस्यों से प्रगति भवन में मुलाकात की और उनके साथ दोपहर का खाना खाया।

शहीद कर्नल के परिवार से मिलते मुख्यमंत्री।

कर्नल संतोष 18 महीने से लद्दाख में तैनात थे

लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को भारत और चीन के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई थी। इसमें 18 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू समेत 20 जवान शहीद हो गए थे। कर्नल संतोष 18 महीने से लद्दाख में भारतीय सीमा की सुरक्षा में तैनात थे। कर्नल संतोष के परिवार में पत्नी, एक बेटा और एक बेटी हैं। शहीद संतोष ने हैदराबाद के सैनिक स्कूल में पढ़ाई की थी, फिर वे एनडीए के लिए चुने गए थे।

ये भी पढ़ें

विवाद का इतिहास, चीन की विस्तारवादी नीतियां, मोदी सरकार के सच्चे-झूठे दावों समेत भारत-चीन विवाद पर भास्कर की 10 खास रिपोर्ट्स…

कर्नल संतोष 18 महीने से लद्दाख में थे; कुंदन 17 दिन पहले पिता बने थे, लेकिन बेटी का चेहरा तक नहीं देख पाए

0

Leave a Reply