Latest News Updates; Indian naval ships conduct passage exercise with USS Nimitz carrier strike group | भारत-अमेरिका की नौसेनाएं बंगाल की खाड़ी में जॉइंट मिलिट्री एक्सरसाइज कर रहीं, अमेरिकी एयरक्राफ्ट कैरियर के साथ 3 वॉरशिप भी पहुंचे

Latest News Updates; Indian naval ships conduct passage exercise with USS Nimitz carrier strike group | भारत-अमेरिका की नौसेनाएं बंगाल की खाड़ी में जॉइंट मिलिट्री एक्सरसाइज कर रहीं, अमेरिकी एयरक्राफ्ट कैरियर के साथ 3 वॉरशिप भी पहुंचे


  • Hindi News
  • National
  • Latest News Updates; Indian Naval Ships Conduct Passage Exercise With USS Nimitz Carrier Strike Group

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

चीन की हिंद महासागर में बढ़ती दखल रोकने के लिए अमेरिका ने अपने तीन एयरक्राफ्ट कैरियर्स को इस इलाके में तैनात किया है। -फाइल फोटो

  • अमेरिकी बेड़े की आगुआई एयरक्राफ्ट कैरियर यूएसएस निमित्ज कर रहा है
  • दोनों देशों की सेनाओं की एक्सरसाइज को पासेक्स नाम दिया गया गया है

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सीमा विवाद के कारण पैदा हुए तनाव के बीच भारत और अमेरिका ने बंगाल की खाड़ी में मिलिट्री एक्सरसाइज शुरू की है। यह एक्सरसाइज अंडमान-निकोबार आईलैंड के पास हो रही है। अमेरिकी बेड़े की आगुआई एयरक्राफ्ट कैरियर यूएसएस निमित्ज कर रहा है। तीन वॉरशिप भी शामिल हैं।

दोनों सेनाओं की इस एक्सरसाइज को पासेक्स (पासिंग एक्सरसाइज) नाम दिया गया गया है। इससे चीन को सीधा जवाब मिलेगा कि अगर उसने साउथ चाइना सी पर दबाव बनाया तो भारत और अमेरिका मिलकर हिंद महासागर में उसका रास्ता ब्लॉक कर सकते हैं। चीन का खाड़ी और अफ्रीकी देशों से व्यापार इसी रास्ते से होता है। भारतीय नौसेना इसी तरह की एक्सरसाइज जापान और फ्रांस की नौसेना के साथ कर चुकी है।

अमेरिकी बेड़े में ये वॉरशिप भी शामिल
एक्सरसाइज में अमेरिका के एयरक्राफ्ट कैरियर निमित्ज के साथ ही यूएसएस प्रिंसटन, यूएसएस स्टरेट और यूएसएस राफ जॉनसन शामिल हैं। चीन की हिंद महासागर में बढ़ती दखल को रोकने के लिए अमेरिका ने अपने तीन एयरक्राफ्ट कैरियर्स को इस इलाके में तैनात किया है। इनमें निमित्ज के अलावा  यूएसएस रोनाल्ड रीगन साउथ चाइना सी में, जबकि यूएएसएस थियोडोर रुजवेल्ट फिलीपींस सागर के पास मौजूद है।

परमाणु ऊर्जा से चलता है यूएसएस निमित्ज
निमित्ज अमेरिका के सातवें बेड़े में शामिल है। परमाणु ऊर्जा से चलने वाले इस जहाज को 3 मई 1975  को अमेरिकी नौसेना में शामिल किया गया था। 332 मीटर लंबे इस एयरक्राफ्ट कैरियर पर 90 लड़ाकू विमान और हेलिकॉप्टर्स के अलावा 3000 के आसपास नौसैनिक तैनात होते हैं। यूएसएस निमित्ज चीन के नजदीक साउथ चाइना सी में एक्सरसाइज खत्म करने के बाद यहां आया है।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं…

1. साउथ चाइना सी में चीनी दादागिरी नहीं चलेगी:विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा- चीन के दावों का कोई आधार नहीं, दुनिया उसे वहां अपना जल साम्राज्य मानने की इजाजत नहीं देगी

0

Leave a Reply