Lucknow News In Hindi : Coronavirus Lucknow Noida | Coronavirus Uttar Pradesh Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Lucknow Varanasi Agra Ghaziabad (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | गाजियाबाद में नर्सों से जमातियों की अभद्रता पर योगी बोले- यह जघन्य अपराध, इन पर रासुका के तहत कार्रवाई करेंगे

Lucknow News In Hindi : Coronavirus Lucknow Noida | Coronavirus Uttar Pradesh Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Lucknow Varanasi Agra Ghaziabad (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | गाजियाबाद में नर्सों से जमातियों की अभद्रता पर योगी बोले- यह जघन्य अपराध, इन पर रासुका के तहत कार्रवाई करेंगे


  • यूपी में 172 लोग कोरोना संक्रमित; 44 नए मरीज मिले, इनमें 42 जमाती दिल्ली के मरकज से लौटे थे
  • गाजियाबाद प्रशासन ने 6 जमातियों पर केस कराया, अभद्रता करने पर अस्पताल से शिफ्ट करना पड़ा

सुनील चौधरी

Apr 03, 2020, 04:01 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार तब्लीगी जमात के मरकज से लौटे लोगों की पहचान करने में जुटी है। शुक्रवार को कानपुर और सहारनपुर में तब्लीगी जमात से जुड़े 65 विदेशी नागरिक पकड़े गए। इससे पहले अधिकारियों ने 429 जमातियों के सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजे थे। आज 42 जमातियों के संक्रमित होने की रिपोर्ट आई। इसके साथ प्रदेश में कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 172 हो गई है। वहीं, गाजियाबाद में क्वारैंटाइन में रखे गए जमातियों के द्वारा नर्सों के साथ अभद्रता करने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत केस दर्ज करने का आदेश दिया है। योगी ने कहा, ‘‘ये लोग मानवता के दुश्मन हैं, जो कानून-व्यवस्था को नहीं मानेंगे। इन्होंने महिला स्वास्थ्यकर्मियों के साथ जो किया है, वह जघन्य अपराध है। हम इन्हें नहीं छोड़ेंगे।’’

उधर, अलीगढ़ में मस्जिद में नमाज पढ़ने से रोकने पर पुलिस पर पथराव के मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया। मौलाना रशीद फिरंगी महली ने फतवे में कहा कि दूसरों की जान खतरे में डालना इस्लाम के खिलाफ है। इसलिए सब लोग सरकार का सहयोग करें। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को 44 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 172 हो गई है। इनमें से 42 तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल हुए थे, जो पिछले दिनों यूपी के अलग-अलग जिलों में लौटे हैं। संक्रमित 6 जमाती कानपुर के अस्पताल में भर्ती हैं। इनके संपर्क में कौन-कौन लोग आए हैं। उन्हें तलाशना बड़ी चुनौती है। सभी संक्रमित लोगों के परिजन को क्वारैंटाइन किया गया है।

गाजियाबाद: 6 जमामियों को एमएमजी अस्पताल से दूसरी जगह भेजा

यहां के एमएमजी असपताल में रखे गए छह लोगों को अब वहां से हटाकर राज कुमार गोयल इंस्टीटयूट में क्वारैंनटाइन किया गया है। इनके खिलाफ एमएमजी अस्पताल के कर्मचारियों ने दुर्व्यवहार करने पर एफआईआर दर्ज कराई है। गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल के सीएमएस डॉ. रविंद्र राणा ने बताया कि तब्लीगी जमात से जुड़े कोरोना संदिग्धों का व्यवहार बहुत गलत है। जमाती लगातार अश्लील हरकतें कर रहे हैं। ये लोग अस्पताल स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार करते हैं, नर्सों के सामने ही कपड़ा बदलने लगते हैं और छोटी-छोटी बात पर हंगामा करते हैं। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि जमातियों पर महिला कर्मचारियों के साथ अभद्रता का आरोप है। ये लोग अनैतिक मांग भी कर रहे थे। इस घटना के बाद जमातियों की सुरक्षा और इलाज के लिए केवल पुरुष कर्मचारियों को ही तैनात किए जाएंगे।

जमातियों की शिकायत मिलने के बाद उन्हें वहां से हटाया गया
जमातियों के खिलाफ शिकायत मिलने के बाद उन्हें वहां से हटाया गया।

कानपुर: बाबूपुरवा मस्जिद से पकड़े गए 8 जमाती

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से लौटे तब्लीगी जमात से जुड़े 8 विदेशी नागरिकों को यहां बाबूपुरवा मस्जिद से पकड़ा गया।। इनमें 6 अफगानिस्तान,1 ईरान और 1 ब्रिटेन का है। एसपी अपर्णा गुप्ता का कहना है कि सभी को क्वारैंटाइन में रखा गया है। इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई।

जमातियों पर कार्रवाई
कानपुर में बाबू पुरवा स्थित मस्जिद से विदेशी जमातियों को पकड़ा गया।

सहारनपुर: 57 विदेशी जमातियों के खिलाफ केस दर्ज 
तब्लीगी जमात में शामिल होने वाले 57 विदेशी जमातियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया। एसएसपी दिनेश कुमार के मुताबिक, ये सभी विदेशी नागरिक यहां देवबंद में रह रहे थे। इनमें इंडोनेशिया, कजाकिस्तान और सूडान के लोग शामिल हैं। सभी लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है। मरकज में शामिल होने वाले सहारनुपर के 20 लोगों को दिल्ली में ही आइसोलेट किया गया।

अलीगढ़: मस्जिद में नमाज पढ़ने से रोकने पर पुलिस पर पथराव

लॉकडाउन के दौरान गश्त करने वाले पुलिसकर्मियों पर पथराव का मामला सामने आया। मामले में 3 लोगों को पकड़ा गया। पुलिस अधिकारी पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि ये लोग बन्नादेवी मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए एकत्र हुए थे। जब पुलिस वहां पहुंची और उन्हें समझाने की कोशिश की तो इन लाेगों ने पुलिस के उपर पथराव शुरू कर दिया। 

लॉकडाउन के दौरान पुलिसकर्मियों पर पथराव के बाद पहुंचे अधिकारी
लॉकडाउन के दौरान पुलिसकर्मियों पर पथराव के बाद अधिकारी पहुंचे।

गोंडा: मुनाफाखोरी को लेकर पुलिस की कार्रवाई 

लॉकडाउन के दौरान मुनाफाखोरी करने की शिकायतों को लेकर गोंडा की जिलाधिकारी वंदना त्रिपाठी ने पुलिस के साथ मिलकर एक अभियान चलाया। गुरुवार को एक दुकानदार को ऊंची कीमतों पर सामान बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। डीएम ने हिदायत दी है कि मुनाफाखोरी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी।

मुनाफाखोरी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ हुई कार्रवाई
मुनाफाखोरी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है।

हाथरस: अधिकारी गया तो क्वारैंटाइन से भाग निकले 35 लोग

जिले के एक गांव से जुड़े 35 लोगों को क्वारैंटाइन में रखा गया, लेकिन जैसे ही उनकी निगरानी में तैनात अधिकारी वहां से गया तो सभी लोग अपने घर भाग गए। जिलाधिकारी प्रवीण लक्सर ने बताया कि पंचायत सचिव के खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है और उसे निलंबित कर दिया गया है। क्वारैंटाइन से भागे सभी लोगों को दोबारा वापस लाकर आसोलेशन में रखा जाएगा।

अधिकारी के जाने के बाद हुए फरार
हाथरस में अधिकारी के जाने के बाद क्वारैंटाइन किए गए लोग भाग गए।

लखनऊ: फिरंगी महली ने फतवा जारी कर सहयोग की अपील की

राशिद फिरंगी महली ने की अपील
राशिद फिरंगी महली ने कोरोना टेस्ट कराने की अपील की।

लखनऊ के मौलाना राशिद फिरंगी महली ने एक फतवा जारी किया है। उन्होंने फतवे में कहा कि कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर सबको जांच कराने की आवश्यकता है। इस बीमारी को छुपाना एक अपराध है। मौलाना महली ने कहा है कि दूसरों की जान को खतरे में डालना इस्लाम के खिलाफ है। इसलिए सब लोग सरकार का सहयोग करें।

यूपी सरकार कोरोना टेस्ट कराने का दायरा बढ़ाएगी  

विदेश से आए तब्लीगी जमात के लोगों के जांच का दायरा बढाया जाएगा

विदेश से आए तब्लीगी जमात के लोगों को चिह्नित कर कोरोना टेस्ट कराया जाएगा।

कोरोना से संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या और दो लोगों की मौत के बाद योगी सरकार ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है। स्वास्थ्य विभाग ने नया प्रोटोकॉल जारी कर संक्रमित और हाई रिस्क ग्रुप के लोगों की जांच के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के तहत 28 दिन के अंदर विदेश यात्रा और मरकज में शामिल हुए सभी लोगों का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। इन लोगों के नमूने प्रदेशभर में सात लैब में भेजे जाएंगे। मरकज से लौटकर उत्तर प्रदेश आए तब्लीगी जमात के लोगों की जांच में गुरुवार को 11 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें मेरठ में चार, फिरोजाबाद में चार, जौनपुर में दो और गाजीपुर में एक व्यक्ति संक्रमित मिला।

Leave a Reply