Mumbai Coronavirus (COVID-19) Cases Death Today Updates; Mumbai Man Dies Of Coronavirus; 5th Death In India | मुंबई में 63 साल, सूरत में 67 साल और पटना में 38 साल के मरीज की जान गई; अब तक 7 की मौत, 6 को डायबिटीज थी


  • 17 मार्च को मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में कोरोनावायरस के मरीज की मौत हो गई थी
  • कर्नाटक के कलबुर्गी, दिल्ली और पंजाब के नवांशहर में भी कोरोना से 1-1 जान जा चुकी है

दैनिक भास्कर

Mar 22, 2020, 04:03 PM IST

मुंबई/पटना. देश में कोरोनावायरस की स्थिति गंभीर होती जा रही है। पहली बार एक दिन में 3 मौतों का मामला सामने आया है। मुंबई में शनिवार रात 63 साल के एक मरीज की मौत हो गई। उन्हें डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारी थी। शनिवार रात ही पटना में 38 साल के सैफ अली की मौत हो गई। मुंगेर का रहने वाला सैफ हाल ही में कतर से आया था। 20 मार्च को एम्स में भर्ती हुआ था। सैफ डायबिटीज का मरीज था, उसकी किडनी भी खराब थी। 60 साल से कम उम्र में मौत का यह पहला मामला है। रविवार को गुजरात के सूरत में 67 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। वे अस्थमा के मरीज थे और दोनों किडनी फेल हो गई थीं। देश में अब तक कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 7 हो गई है।

पटना एम्स के सुपरिंटेंडेंट सीएम सिंह ने बताया, ‘‘सैफ को पहले से ही किडनी की बीमारी थी। वह डायलिसिस पर था। इसके साथ ही उसमें कोरोना के सिम्टम्स डेवलप हुए, सैंपल आरएमआरआई भेजा गया। शनिवार को उसकी मौत हो गई। रविवार को मिली रिपोर्ट में पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव था। एम्स में कोरोना के फिलहाल 6 संदिग्ध हैं। उनके सैंपल में भी जांच के लिए भेजे गए हैं।’’

6 मृतकों डायबिटीज थी

  • 10 मार्च: कर्नाटक के कलबुर्गी में 75 साल के संदिग्ध की मौत हुई थी। एक दिन बाद संक्रमित होने की पुष्टि हुई।
  • 13 मार्च: दिल्ली में 68 साल की बुजुर्ग की मौत। बेटे से संक्रमित हुई थीं।
  • 17 मार्च: मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 64 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। पति-पत्नी और बेटी दुबई से लौटे थे।
  • 18 मार्च: पंजाब के नवांशहर के पठलावा गांव में 70 साल के बुजुर्ग की मौत हुई। इटली-जर्मनी से लौटे थे। 
  • 21 मार्च की रात: मुंबई में 63 साल के मरीज की मौत हो गई।
  • 21 मार्च की रात: पटना एम्स में 38 साल के सैफ अली की मौत। कतर से आया था।

महाराष्ट्र में स्थिति गंभीर, अब तक 74 केस
राज्य में कोरोनावायरस की स्थिति गंभीर हो गई है। 24 घंटे में 10 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 6 मुंबई और 4 पुणे में हैं। अब तक यहां 74 मरीजों में कोरोनावायरस की पुष्टि हो चुकी है, जिनका राज्य के अलग-अलग हॉस्पिटल में इलाज जारी है। राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज, जिम और स्वीमिंग पूल बंद कर दिए गए हैं। निजी क्लासेस, परीक्षाएं टालने का भी आदेश दिया गया है। सरकार ने किसी भी तरह के धार्मिक या सामाजिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी है। राज्य के कई मंदिरों को भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है। हाईकोर्ट में सिर्फ 2 घंटे और जिला अदालतों में 3 घंटे ही काम होगा। पुणे में सबसे ज्यादा मरीज मिलने के बाद अब यहां के शनिवारवाड़ा किले को भी अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। महाराष्ट्र में आइसोलेशन में रखे गए मरीजों के बाएं हाथ पर मुहर लगाई जा रही है।

17 मार्च को मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 64 साल के एक बुजुर्ग की मौत हो गई थी। 1 मार्च को पुणे के पति-पत्नी और उनकी बेटी दुबई से मुंबई लौटे थे। मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उन्होंने पुणे के लिए टैक्सी बुक की थी। पति-पत्नी और उनकी बेटी बाद में कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए। बाद में उस उसी टैक्सी में ट्रेवल करने वाले 2 और लोग और ड्राइवर भी संक्रमित हो गए।महाराष्ट्र के बुलढाणा में भी एक बीमार बुजुर्ग ने दम तोड़ा था, लेकिन बाद में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी।