Nag Panchami 2020: Naagin Dies, After Snake Killed In Truck Road Accident In Madhya Pradesh Gwalior | ट्रक से कुचलकर मर गया था नाग तो नागिन ने भी उसी जगह जान दे दी थी, सिर्फ 5 साल पुरानी है ये सच्ची कहानी

Nag Panchami 2020: Naagin Dies, After Snake Killed In Truck Road Accident In Madhya Pradesh Gwalior | ट्रक से कुचलकर मर गया था नाग तो नागिन ने भी उसी जगह जान दे दी थी, सिर्फ 5 साल पुरानी है ये सच्ची कहानी


  • Hindi News
  • National
  • Nag Panchami 2020: Naagin Dies, After Snake Killed In Truck Road Accident In Madhya Pradesh Gwalior

ग्वालियर19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ट्रांसपोर्ट नगर के समीप हाईवे के पास स्थानीय लोगों ने नाग-नागिन की याद में मंदिर बनवाया है। मंदिर में हर वर्ग के लोग आते हैं। -फाइल फोटो

  • ग्वालियर के ट्रांसपोर्ट नगर में 2015 में घटी थी ये घटना, ट्रक से कुचलकर हो गई थी नाग की मौत

साल 2015 में ग्वालियर के ट्रांसपोर्ट नगर में गेट नंबर एक के पास नाग-नागिन रोड पार कर रहे थे। इसी बीच अचानक ट्रक के नीचे आ जाने से नाग की मौत हो गई। नाग की मौत के बाद नागिन वहीं रोड पर बैठ गई। कई लोगों ने नागिन को हटाने का प्रयास किया पर नागिन टस से मस नहीं हुई। घटना से आगरा-मुंबई राजमार्ग के दोनों ओर लंबा जाम लग गया।

प्रशासन ने मशक्कत के बाद सांप पकड़ने वालों की मदद से नागिन को वहां से हटाया। बाद में नागिन को जंगल में ले जाकर छोड़ दिया। लेकिन, दूसरे दिन नागिन ने भी नाग के मरने की जगह पर आकर दम तोड़ दिया। यह कहानी नहीं, एक हकीकत है। नाग-नागिन के इस प्रेमी जोड़े का मंदिर भी बनाया गया है। जहां हिंदू मुस्लिम एक साथ पूजा करते हैं।

विधि-विधान से अंतिम संस्कार किया गया था

जैसे ही लोगों को शहर में इस घटना की सूचना मिली, हजारों की संख्या में लोग जमा हो गए। नाग-नागिन का विधि-विधान से अंतिम संस्कार किया गया। लोग भस्म को गंगा नदी में विसर्जित करने के लिए ले गए। उसके बाद वहां से श्रद्धालुओं ने सती नागिन का मंदिर बनवाया। जहां रोज़ाना उनकी पूजा की जाती है। वहीं, हर साल नागपंचमी के दिन उनकी बड़ी धूम-धाम से मेले का आयोजन किया जाता है। लेकिन इस बार लॉकडाउन के चलते सिर्फ पूजा करने की इजाजत प्रशासन द्वारा दी गई है।

0

Leave a Reply