Nalini Sriharan, Convict In Assassination Case Of Rajiv Gandhi Attempted Suicide In Prison | 29 साल से जेल में बंद नलिनी ने जेलर से कहासुनी के बाद कपड़े से अपना गला घोंटा, जेल के स्टाफ ने रोका

Nalini Sriharan, Convict In Assassination Case Of Rajiv Gandhi Attempted Suicide In Prison | 29 साल से जेल में बंद नलिनी ने जेलर से कहासुनी के बाद कपड़े से अपना गला घोंटा, जेल के स्टाफ ने रोका


  • Hindi News
  • National
  • Nalini Sriharan, Convict In Assassination Case Of Rajiv Gandhi Attempted Suicide In Prison

16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

नलिनी तमिलनाडु की वेल्लोर जेल में है। उसका पति मुरुगन भी राजीव हत्याकांड में सजा काट रहा है। (फाइल फोटो)

  • नलिनी चाहती है कि उसकी सेल में बंद दूसरी कैदी को कहीं और शिफ्ट किया जाए
  • 1991 में चुनावी रैली में लिट्टे ने आत्मघाती हमला कर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की थी

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की दोषी नलिनी श्रीहरन ने सोमवार रात खुदकुशी की कोशिश की। उसके वकील पी पुगाझेंडी के मुताबिक नलिनी चाहती है कि उसकी सेल में बंद दूसरी कैदी को कहीं और शिफ्ट किया जाए, क्योंकि दोनों के बीच झगड़ा है। इस मुद्दे पर बीती रात नलिनी की जेलर से बहस हो गई। उसके बाद नलिनी ने कपड़े से अपना गला घोंटकर जान देने की कोशिश की। जेल स्टाफ ने उसे रोक लिया।

राजीव हत्याकांड में नलिनी के पति समेत 6 दोषी सजा काट रहे
नलिनी तमिलनाडु की वेल्लोर जेल में उम्रकैद की सजा काट रही है। वह 1991 से यानी 29 साल से जेल में है। उसकी बेटी का जन्म भी जेल में ही हुआ था। उसके साथ ही राजीव गांधी हत्याकांड के 6 अन्य दोषी भी सजा काट रहे हैं। उनमें नलिनी का पति मुरुगन भी शामिल है।

20 साल पहले नलिनी की फांसी की सजा उम्रकैद में बदली गई थी
तमिलनाडु के श्रीपेरमबुदूर में एक चुनावी रैली के दौरान 21 मई 1991 में लिट्टे के आत्मघाती हमले में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या हुई थी। इस मामले में नलिनी को मौत की सजा सुनाई गई थी, लेकिन तमिलनाडु सरकार ने 24 अप्रैल 2000 को उसकी सजा उम्रकैद में बदल दी।

0

Leave a Reply