Narendra Modi Live | PM Modi Coronavirus (COVID-19) Video-Conference With All Chief Minister Amid Coronavirus (COVID-19) Cases Death Rise In India | संक्रमण रोकने के लिए प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से बात की, बीमारी पर काबू पाने के लिए लोगों और प्रशासन के बीच तालमेल पर जोर


  • प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्रियों से संक्रमण रोकने के उपायों पर चर्चा की
  • चर्चा के दौरान राज्यों में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा भी की गई

दैनिक भास्कर

Mar 20, 2020, 06:05 PM IST

नई दिल्ली. देश में कोरोनावायरस के मामले बढ़ने के बाद शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से संक्रमण रोकने के उपायों पर चर्चा की। शुक्रवार शाम 4 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मोदी ने राज्यों के हालात जाने। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों को संबोधित करते हुए संक्रमण रोकने में लोगों और स्थानीय प्रशासन के बीच तालमेल पर जोर दिया।

सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री की चर्चा में राज्यों में ट्रेंड स्टाफ बढ़ाने और स्थानीय स्वास्थ्यकर्मियों को ट्रेनिंग देने के मुद्दे पर विचार किया गया। बैठक में बीमारी के इलाज के लिए राज्यों में उपलब्ध सुविधाओं की समीक्षा की गई।

कोरोना पर मोदी ने गुरुवार को देश को संबोधित किया
इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को कोरोना संकट को लेकर देश को संबोधित भी किया था। मोदी ने अपने संबोधन में कोरोनावायरस के व्यापक असर के बारे में बताया था। साथ ही यह भी कहा था कि दुनिया में महामारी बनकर उभरे कोरोनावायरस से बचाव की कोशिश करने की बजाय सबकुछ ठीक है, जैसी मानसिकता से निकलना होगा। उन्होंने कहा था कि यह जरूरी है कि हर भारतीय सचेत और सावधान रहे।

प्रधानमंत्री की अपील- इस रविवार घर से न निकलें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से ऐसा भी लग रहा है जैसे हम संकट से बचे हुए हैं, सब कुछ ठीक है। वैश्विक महामारी कोरोना से निश्चिंत हो जाने की ये सोच सही नहीं है। पीएम ने लोगों से अपील की कि वे ‘जनता कर्फ्यू’ लगाएं। इसके तहत रविवार यानी 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक देशवासी जनता कर्फ्यू का पालन करें। इसका मतलब है कि जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू। उन्होंने कहा कि यह कोरोना जैसी लड़ाई के लिए भारत कितना तैयार है, यह देखने-परखने का भी प्रयास होगा। जनता कर्फ्यू की कामयाबी और इसके अनुभव हमें आने वाली चुनौतियों के लिए भी तैयार करेंगे। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि रविवार शाम 5 बजे अपने-अपने घरों में ताली बजाकर, थाली बजाकर, घंटी बजाकर एक दूसरे का आभार जताएं और इस वायरस से लड़ने के लिए एकजुटता दिखाएं।

कोरोनावायरस पर आयोजित वीडियो बैठक में प्रधानमंत्री के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री मौजूद रहे।