Newborn death from infection for the first time; A child under the age of one year was killed in Chicago | शिकागो में एक साल से कम उम्र के बच्चे की जान गई, 24 घंटे पहले संक्रमित हुआ था


  • अमेरिका के शिकागो में कोरोना से संक्रमित नवजात बच्चे ने दम तोड़ दिया, हालांकि, उसकी वास्तविक उम्र का खुलासा नहीं किया गया
  • अमेरिकी स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इस तरह का पहला मामला है, हालांकि दुनिया में इस दावे को लेकर मतभेद हैं

दैनिक भास्कर

Mar 29, 2020, 09:59 AM IST

वॉशिंगटन. कोरोनावायरस महामारी की वजह से अमेरिका में पहली बार किसी नवजात की मौत का मामला सामने आया है। शनिवार को अमेरिका के शिकागो में इस महामारी से संक्रमित नवजात बच्चे ने दम तोड़ दिया। उसकी वास्तविक उम्र का खुलासा नहीं किया गया है। स्वास्थ्य विभाग का दावा  है कि दुनिया में इस तरह का यह पहला मामला है। हालांकि, बच्चों की मौतों को लेकर कई दावे किए जा रहे हैं। कुछ दिन पहले न्यू इंग्लैंड जर्नल में चायनीज शोधकर्ताओं का एक लेख प्रकाशित हुआ था, जिसमें 10 महीने के नवजात की मौत का जिक्र किया गया था। इसमें बताया गया था कि अस्पताल में भर्ती होने के चार हफ्ते बाद उसकी मौत हो गई थी। बच्चे के संक्रमण की वजह से ऑर्गन फेल हो गए थे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में गवर्नर जेबी प्रित्जकर ने कहा, ‘नवजात को 24 घंटे पहले कोरोनावायरस का संक्रमण हुआ था। उसकी मौत की खबर ने मुझे हिलाकर रख दिया। उसके मौत की पूरी जांच की जा रही है।’ उन्होंने बताया, ‘मैं जानता हूं, एक नवजात की मौत की खबर कितनी दुखदायी हो सकती है। यह पूरे परिवार के बेहद दुखभरा समय है, जो पूरे साल भर से बच्चे के आने की खुशियां संजो रहा था।’

इलिनॉय में अब तक 13 मौतें हुई हैं, इनमें नवजात भी शामिल है। 

वायरस युवाओं के अपेक्षा बुजुर्गाें को ज्यादा प्रभावित करता है
यूएस के हेल्थ डायरेक्टर नेगोजी एजिक ने भी माना कि ऐसा मामला पहली बार देखा गया। उन्होंने कहा, ‘वैश्विक महामारी का रूप ले रहे कोरोनावायरस से अब तक किसी नवजात की मौत का मामला उनके सामने नहीं आया था।’ हालांकि, फ्रांस के स्वास्थ्य अधिकारी जेरोम सॉलोमन ने पिछले हफ्ते बताया था कि पेरिस के इले-द-फ्रांस इलाके में एक 16 साल की लड़की की मृत्यु कोरोनावायरस से हुई है। उन्होंने दावा किया था कि युवाओं में कोरोनावायरस के मामले दुर्लभ हैं, लेकिन जिनमें भी देखे गए हैं वे गंभीर हुए हैं।

3 महीने में चीन में 2100 बच्चे संक्रमित हुए

एक शोध के मुताबिक, चीन में तीन महीनों में कोरोनावायरस बीमारी से 2100 बच्चे संक्रमित हुए थे, लेकिन मौत सिर्फ एक बच्चे की हुई। इसकी उम्र 14 साल थी। अध्ययन ने पाया कि संक्रमित 6% बच्चे ही गंभीर रूप से बीमार हुए। कई अध्ययनों में पाया गया है कि कोरोनावायरस बुजुर्गों, शारीरिक रूप से कमजोर और दूसरी बीमारियों से ग्रसित रोगियों को ज्यादा प्रभावित करता है, क्योंकि ऐसे लोगों की रोग प्रतिरोधी क्षमता कम होती है और उन्हें इस वायरस से निपटने का मौका नहीं मिलता। 

अमेरिका में न्यूयॉर्क बना एपिसेंटर
अमेरिका में संक्रमितों की संख्या एक लाख 23 हजार से ज्यादा हो गई है। 2,221 लोगों की मौत हुई है। देश में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले न्यूयॉर्क से सामने आए हैं। यहां 53 हजार से ज्यादा संक्रमित हैं, जबकि 782 लोगों की मौत हुई है। इलिनॉय में अब तक 13 मौतें हुई हैं, इनमें नवजात भी शामिल है।