Nirbhaya Convicts Hanging Jallad Pawan hands over black box key to Tihar officers updates  | निर्भया के दोषियों की फांसी से पहले आखिरी डमी ट्रायल, जल्लाद पवन ने जेल अधिकारियों को ‘ब्लैक बॉक्स’ की चाबी सौंपी


  • पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के दोषियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे फांसी मुकर्रर की थी
  • तिहाड़ प्रशासन ने जल्लाद पवन को 17 मार्च को ही जेल आकर रिपोर्ट करने के लिए कहा था

दैनिक भास्कर

Mar 19, 2020, 11:07 PM IST

नई दिल्ली. निर्भया के चारों दोषियों- मुकेश सिंह, अक्षय ठाकुर, विनय शर्मा और पवन गुप्ता को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे फांसी देने की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अब तिहाड़ जेल में अधिकारियों को डेथ वॉरंट में तय वक्त का इंतजार है। उत्तर प्रदेश के मेरठ से 3 दिन पहले जेल पहुंचे जल्लाद पवन आखिरी डमी ट्रायल पूरा कर चुके हैं। गुरुवार रात को जेल वॉर्डन उन्हें सेल नंबर 3 के फांसी घर में ले गए। यहां तैयारियों का जायजा लेने के बाद जल्लाद ने ब्लैक बॉक्स की चाबी अधिकारियों को सौंपी।

सूत्रों के मुताबिक, जेल सुपरिंटेंडेंट की मौजूदगी में लोहे का बॉक्स खोला गया। इसमें कॉटन के 4 बैग और फंदे के लिए तैयार 4 रस्सियां रखी हुई थीं। जल्लाद ने इनकी जांच की और बॉक्स में वापस रख दिया। इस दौरान उन्होंने बॉक्स में रखी चीजों और चाबी के बारे में जेल अधिकारियों से पावती भी ली। उधर, फांसी के वक्त जो अधिकारी मौजूद रहेंगे, जेल प्रशासन ने उनकी सुरक्षा की तैयारी भी कर ली है।

फांसी के बाद दीनदयाल अस्पताल में पोस्टमॉर्टम

फांसी के बाद मौके पर मौजूद डॉक्टर के द्वारा चारों को मृत घोषित करने के बाद दीनदयाल अस्पताल में पोस्टमॉर्टम होगा। इसके बाद परिवारों को शव लेने के लिए कहा जाएगा। अगर किसी परिवार ने शव लेने से इनकार किया तो जेल प्रशासन को क्या करना है? इसका भी इंतजाम करके रखा गया है।

जेल प्रशासन ने जल्लाद को 3 दिन पहले बुलाया
तिहाड़ प्रशासन ने चारों दोषियों को फांसी देने की तैयारी के लिए जल्लाद को 17 मार्च को ही जेल आकर रिपोर्ट करने के लिए कहा था। पवन उत्तर प्रदेश के मेरठ के रहने वाले जल्लाद परिवार के हैं। पवन के आने के बाद अधिकारियों ने एक बार फिर जेल में डमी टेस्टिंग की।