Patna News In Hindi : Coronavirus Patna | Coronavirus Bihar Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Bihar Patna Bhagalpur Muzaffarpur (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | तब्लीगी जमात से लौटे 57 में से 35 लोगों की पहचान; मजदूर क्वारैंटाइन सेंटर से भाग रहे, आरा में आइसोलेशन वार्ड बनाने का विरोध


  • सब्जी मंडियों में लग रही भीड़, लोग नहीं रख रहे सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान
  • नीतीश सरकार राज्य के बाहर फंसे लोगों को 1-1 हजार रुपए की मदद देगी
  • मुजफ्फरपुर में जिला जज ने जरूरतमंदों को खाने के पैकेट बांटने पूड़ियां तलीं

दैनिक भास्कर

Apr 03, 2020, 02:22 PM IST

पटना. बिहार में कुछ जगहों पर कोरोना संक्रमण के बीच लॉकडाउन के नियम तोड़ने के मामले सामने आए हैं। कहीं क्वारैंटाइन सेंटर से लोग भाग रहे हैं तो कहीं आइसोलेशन वार्ड बनाने का विरोध किया जा रहा है। सुबह-शाम सब्जी मंडियों में लोग सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज कर रहे हैं। मधेपुरा जिले के नौ क्वारैंटाइन सेंटर में रखे गए 50 मजदूर घर भाग गए। उधर, बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने बताया कि तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल हुए राज्य के 57 में से 35 लोगों की पहचान कर ली गई है।

शुक्रवार सुबह पटना के राजीव नगर रोड में लोगों को भीड़ दिखी। यही हाल दीघा, मीठापुर व शहर के अन्य सब्जी मंडियों में दिखा। पुलिस लॉकडाउन तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है, लेकिन लोग तब भी मानने को तैयार नहीं। बिहार में लॉकडाउन तोड़ने के चलते 497 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। सबसे अधिक केस नालंदा (158), सीवान (72) और गया (42) में दर्ज किए गए। पुलिस ने 6 हजार 700 गाड़ियों को जब्त किया और 1.46 करोड़ रुपए जुर्माना वसूला है। 

मुजफ्फरपुर के जिला एवं सत्र न्यायाधीश शैलेंद्र कुमार सिंह समेत कई न्यायिक अधिकारी गरीबों के लिए खुद खाना बना रहे हैं।

दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को 1-1 हजार रु. मिलेंगे
लॉकडाउन के चलते बिहार के बाहर फंसे लोगों को 1-1 हजार रुपए की सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके लिए आदेश दिया है। इसके अलावा राज्य में सर्विलांस पर रखे जाने वाले कोरोना के संदिग्ध लोगों की संख्या में लगातार बढ़ रही है। गुरुवार को यह संख्या 6 हजार 242 हो गई। संदिग्धों की सर्वाधिक संख्या सीवान में है।

मधेपुरा: क्वारैंटाइन सेंटर में भागे 50 मजदूर 
मधेपुरा जिले के घैलाढ़ प्रखंड क्षेत्र में कुल नौ क्वारैंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इन सेंटरों पर प्रतिनियुक्त कर्मचारी गायब रहते हैं। दूसरी ओर बाहर से आने वाले लोग सेंटर में जाना नहीं चाहते हैं। इन सेंटरों पर रखे गए 50 मजदूर घर भाग गए।

आरा: आइसोलेशन वार्ड बनाने का विरोध, रास्ता बंद किया
आरा के पीरो के तार पंचायत के नेवारी गांव में आइसोलेशन वार्ड बनाने का ग्रामीणों ने विरोध किया है। ग्रामीणों ने रास्ते पर बांस लगाकर कोरोना स्टॉप का बोर्ड लगाकर गांव में किसी भी व्यक्ति के घुसने पर रोक लगा दी। पीरो को पांच जोन में बांटकर इस पंचायत के आइसोलेट लोगों के लिए स्कूल में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया था। आइसोलेशन सेंटर से 11 संदिग्ध फरार हो गए।

आरा में लोगों ने क्वारैंटाइन सेंटर बनाने के विरोध में सड़क बंद कर दी। सड़क पर कोरोना स्टॉप का बोर्ड लगाया गया है।

मुंगेर: पुलिस और मेडिकल टीम पर पथराव, 100 पर एफआईआर
सोमवार को 8 वर्षीय बच्ची की संदिग्ध मौत के बाद बुधवार को उसके परिजनों का सैंपल लेने पहुंची मेडिकल टीम व पुलिस वाहन पर पथराव मामले में पुलिस ने चार नामजद समेत 100 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कियाा है। एसपी लिपि सिंह ने इसे असामाजिक तत्वों की कार्रवाई बताते हुए लोगों से बहकावे में नहीं आने और प्रशासन का सहयोग करने की अपील की है।

सुपौल: क्वारैंटाइन केंद्र में खाना बना रहे संदिग्ध
सुपौल जिले के कई क्वारैंटाइन सेंटरों का हाल बदहाल है। सदर प्रखंड के तीन सेंटर का जायजा लेने पर पता चला कि एक सेंटर पर संदिग्ध खुद खाना बना रहे थे। दूसरे सेंटर पर ताला लटका था तो तीसरे सेंटर पर बेंच पर मजदूर सोया हुआ था।