Patna News In Hindi : Coronavirus Patna | Coronavirus Bihar Cases Lockdown LIVE, Corona Virus Cases in Bihar Patna Bhagalpur Muzaffarpur (COVID-19) Death Toll Latest News and Updates | 1.80 लाख प्रवासियों की स्क्रीनिंग जारी; दूसरे राज्यों से आए 27 हजार लोग 3200 क्वारैंटाइन सेंटरों में रखे गए


  • निजामुद्दीन के मरकज में शामिल होकर दरभंगा आए 10 विदेशियों को ठहराने वालों पर केस दर्ज
  • गया में ड्रोन से मोहल्लों पर नजर रख रही पुलिस, बिहार में संक्रमितों की संख्या 31, 263 लोग संदिग्ध

दैनिक भास्कर

Apr 04, 2020, 01:35 PM IST

पटना. कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने के लिए लगाए 21 दिन के लॉकडाउन का आज 11वां दिन है। बिहार पुलिस इसका सख्ती से पालन कराने में जुटी है। 22 मार्च के बाद अन्य राज्यों से बिहार लौटे 1.80 लाख प्रवासियों की स्क्रीनिंग शुरू हो गई है। पहले मुंबई से आए लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके बाद केरल, तमिलनाडु तथा दिल्ली से आए लोगों की स्क्रीनिंग होगी। यह काम 6 दिनों में पूरा कर लिया जाएगा। वहीं, राज्य के 3200 क्वारैंटाइन सेंटर में 27 हजार लोग रखे गए हैं। इन सभी को 14 दिनों तक के लिए रखा गया है। जरूरत पड़ने पर इन्हें आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

जमातियों और विदेशियों की तलाश जारी

दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज से आए बिहार और विदेश के लोगों की तलाश में जारी है। दरभंगा पुलिस को शहर की मस्जिद में एक विदेशी के छिपे होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि यहां एक नहीं 10 विदेशी (म्यांमार के नागरिक) रुके थे। ये लोग 18 मार्च को आए थे और 21 मार्च को चले गए। वे 24 मार्च को पटना से दिल्ली विमान से गए थे। दरभंगा के एसएसपी बाबू राम ने कहा कि नियमानुसार, जब कोई विदेशी किसी होटल या अन्य जगह ठहरता है तो उसे फॉर्म सी भरकर देना होता है।

विदेशियों को ठहराने वालों पर एफआईआर

एसएसपी के मुताबिक, विदेशियों को ठहराने वालों ने पुलिस को कोई सूचना नहीं दी थी। ऐसे लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इसकी सूचना इमिग्रेशन विभाग को भेज रहे हैं, जिससे भविष्य में इन्हें वीजा न मिले और अगर ये भारत में हैं तो वीजा रद्द हो सके। जो लोग विदेशियों के संपर्क में रहे हैं, उनकी जांच कराई जा रही है। जरूरत पड़ने पर उन्हें आइसोलेशन या क्वारैंटाइन में रखा जाएगा। 

पटना के राहत शिविर में भोजन के लिए एक-दूसरे से दूरी पर दिखे बच्चे। बरतन लिए ये बच्चे अपनी बारी का इंतजार करते दिखे। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग की मिसाल पेश कर बड़ों को भी नसीहत दी।

कोरोना संक्रमितों की संख्या 31
बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 31 हो गई है। 8 मरीजों का इलाज पटना के एनएमसीएच में चल रहा है। यहां 263 संदिग्ध भर्ती हुए, जिनमें से 199 को डिस्चार्ज कर दिया गया है। यहां भर्ती कोरोना के 6 मरीज ठीक भी हुए हैं। पीएमसीएच में 133 संदिग्ध मरीज भर्ती हुए। 100 की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जिसके बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। यहां 33 का इलाज चल रहा है। एम्स में कोरोना के दो मरीज का इलाज हो रहा है। 

पटना में बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच के बार पेंशन लेने के लिए जुटी लोगों की भीड़। यहां लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग से कोई वास्ता नहीं।

सीवान में सर्वाधिक संदिग्ध
कोरोना से संक्रमित संदिग्धों की संख्या में 439 का इजाफा हुआ। 6681 संदिग्ध सर्विलांस पर हैं। सर्वाधिक संदिग्ध सीवान में हैं। यहां 3105 लोग सर्विलांस पर हैं। पूर्वी चंपारण में संदिग्धों की संख्या 213 से बढ़कर 269 और गोपालगंज में 510 से बढ़कर 705 हो गई।

गया में ड्रोन से मोहल्लों पर रखी जा रही नजर
गया शहर में कोरोना के मरीजों की संख्या पांच हो गई है। मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन लॉकडाउन का सख्ती से पालन करा रही है। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित गुरुद्वारा रोड और आसपास के इलाकों में कोई घर से न निकले, इसके लिए ड्रोन कैमरे से नजर रखी जा रही है।