PM Modi spoke to representatives of pharma companies – increase products of medicines and medical equipment, avoid black marketing | फार्मा कंपनियों के प्रतिनिधियों से पीएम मोदी ने किया संवाद, बोले- दवाईयों और मेडिकल उपकरण का उत्पादन बढ़ाएं, ब्लैक मार्केटिंग से बचें

PM Modi spoke to representatives of pharma companies – increase products of medicines and medical equipment, avoid black marketing | फार्मा कंपनियों के प्रतिनिधियों से पीएम मोदी ने किया संवाद, बोले- दवाईयों और मेडिकल उपकरण का उत्पादन बढ़ाएं, ब्लैक मार्केटिंग से बचें


  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के बड़े फार्मा कंपनियों के प्रतिनिधियों से बात की
  • बोले, केंद्र सरकार ने 14 हजार करोड़ की योजना स्वीकृत की है, 4 हजार करोड़ तत्काल प्रभाव से जारी किए गए

दैनिक भास्कर

Mar 21, 2020, 11:03 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को फार्मा कंपनियों के प्रतिनिधियों  से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। उन्होंने सभी कंपनियों को आवश्यक दवाओं और मेडिकल उपकरण के उत्पादन को पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित करने के लिए कहा। बोले, ” यह समय बहुत चुनौती वाला है। इसके लिए सभी को मिलकर लड़ाई लड़नी होगी। सभी कंपनियों को अपना प्रोडक्शन बढ़ाना होगा। संकट की इस घड़ी में कहीं से भी दवा और अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी न हो पाए इसकी तैयारी सुनिश्चित करनी होगी।” उन्होंने केंद्र सरकार की ओर से इसके लिए 14 हजार करोड़ रुपये की योजना स्वीकृत किए जाने की जानकारी भी दी। 4 हजार करोड़ रूपये तत्काल प्रभाव से जारी किया जा रहा है। 

कोरोना की जांच के लिए किट तैयार करें
मोदी ने फार्मा कंपनियों से कोरोनावायरस की जांच के लिए आरएनए डायग्नोस्टिक किट तैयार करने के लिए भी अनुरोध किया। कहा कि, जरूरी दवाओं की सप्लाई और मेडिकल उपकरण के उत्पादन के साथ इस तरह की बीमारियों और वायरस से लड़ने के लिए शोध पर भी फोकस करें। इनोवेटिव तरीके से नई दवाईयां तैयार करें। 

ब्लैक मार्केटिंग से बचें, जरूरी चीजों की जमाखोरी न करें
मोदी ने रिटेलर्स और फार्मासिस्ट्स को भी दवाईयों  और मेडिकल उपकरण की ब्लैक मार्केटिंग से बचने के लिए कहा। बोले, संकट के इस समय सभी को पारदर्शिता रखनी चाहिए। बोले, कई बार लोग ऐसी स्थिति का फायदा उठाने की कोशिश करते हैं और जरूरत की चीजों की जमाखोरी शुरू कर देते हैं। इससे जनसामान्य पर असर पड़ता है। इसलिए ऐसी चीजों को नहीं करना चाहिए। 

दवाईयों का होम डिलीवरी करें, डिजिटल भुगतान का प्रयोग करें
मोदी ने बाजार में भीड़ से बचाव के लिए दवाईयों की होम डिलीवरी शुरू करने का भी सुझाव दिया। इसके अलावा रूपयों के आदान-प्रदान के लिए डिजिटल भुगतान का प्रयोग करने की सलाह दी। 

Leave a Reply