Punjab Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in Punjab Chandigarh Amritsar Ludhiana Amritsar Jalandhar (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates | लुधियाना में 68 साल की महिला की मौत, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 68 पहुंची; सरकार किसानों की फसल कटवाकर घर तक पहुंचाएगी

Punjab Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in Punjab Chandigarh Amritsar Ludhiana Amritsar Jalandhar (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates | लुधियाना में 68 साल की महिला की मौत, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 68 पहुंची; सरकार किसानों की फसल कटवाकर घर तक पहुंचाएगी


  • संगरूर के मालेरकोटला में तब्लीगी जमात का राज्य स्तरीय कार्यालय बंद, गेट पर पोस्टर लगा- नमाज के लिए यहां न आएं
  • डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा- रात में मोमबत्ती या दीये जलाने से पहले लोग सैनिटाइजर का इस्तेमाल न करें

दैनिक भास्कर

Apr 05, 2020, 08:36 PM IST

जालंधर. पंजाब के लुधियाना में 68 साल की संक्रमित महिला की रविवार दोपहर मौत हो गई है। महिला 17 मार्च को बस से मोहाली गई थी। वहां तबीयत बिगड़ने पर 23 मार्च को मोहाली में एडमिट कराया गया था। 31 तक हालत में सुधार नहीं हुआ परिजन लुधियाना के फोर्टिस अस्पताल ले आए थे। यहां शनिवार को आई जांच रिपोर्ट में महिला को संक्रमण की पुष्टि हुई थी। महिला को हार्ट से जुड़ी बीमारी थी। पंजाब में यह छठवीं मौत है। वहीं, रविवार को संक्रमण के दो मामले सामने आए। इसे मिलाकर राज्य में संक्रमितों का आंकड़ा 68 पर पहुंच गया है। संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए देश में लॉकडाउन है। पंजाब सरकार ने 14 दिन से पूरे प्रदेश पंजाब में कर्फ्यू लगा रखा है। लगातार बंद की स्थिति से लोगों के सामने अब राशन की दिक्कत आनी शुरू हो गई है। राज्य में जरूरी सेवाओं में दूध-दवा की दुकानों और श्रमिकों का पलायन रोकने के लिए इंडस्ट्री खोले जाने की परमिशन सरकार ने दी है। वहीं, सरकार ने फसल कटवाकर अनाज को किसानों के घरों तक पहुंचाने की मुहिम शुरू की।

सरकार किसानों की फसल कटवाकर घर तक पहुंचाएगी

राज्य में किसानों की फसल को खेत से कटवाकर घर पहुंचाने की जिम्मेदारी अब राज्य सरकार उठाएगी। प्रदेश में 12 हजार 581 गांवों हैं, जिसमें खेती से जुड़े 10.25 लाख किसानों हैं। राज्य की 39.67 लाख हेक्टेयर जमीन पर पैदा होने वाले 242.06 लाख टन गेहूं को किसानों के घरों और गोदाम तक सुरक्षित पहुंचाने का काम सभी जिले के डिप्टी कमिश्नर को दिया गया है। किसानों की फसल को कटाने के लिए सरकार के द्वारा राज्य में 25 हजार से अधिक कंबाइंड हार्वेस्टिंग मशीनों की व्यवस्था की गई है।

राज्य में 429 लोगों की रिपोर्ट का इंतजार

अब तक प्रदेश में 2208 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इसमें से 1711 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि 429 लोगों की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। अभी तक जिन 68 लोगों को संक्रमण की पुष्टि हुई है। राज्य में 4 कोरोना संक्रमित ठीक भी हो चुके हैं। इनमें 2 लोग मोहाली के, जबकि 1-1 नवांशहर और होशियारपुर के हैं। 

लुधियाना: तब्लीगी जमातियों के संपर्क में आए लोगों को लेने पहुंची टीम पर हमला
लुधियाना के शेरपुर इलाके में कोरोना संक्रमण के संदिग्ध मरीजों को लेने गई स्वास्थ्य विभाग की टीम पर रविवार को हमला कर दिया गया। बताया जा रहा है कि ये संदिग्ध तब्लीगी जमात से संबंधित लोगों के संपर्क में आए थे। पांच लोगों की टीम जब स्क्रीनिंग के लिए पहुंची तो इन लोगों को एंबुलेंस में बैठने की कहा। इस दौरान वहां के स्थानीय व्यक्ति ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया। टीम ने जब वीडियो बनाने से मना किया तो वीडियो बनाने वाला व्यक्ति हाथापाई पर उतर आया। कुछ और लोग वहां इकट्‌ठा हो गए और मेडिकल टीम के साथ हाथापाई की। बड़ी मुश्किल में टीम संदिग्धों को लेकर अस्पताल पहुंची। हमले में टीम के कर्मियों को चोट लगी हैं। एसएमओ डॉ. पूनम गोयल की शिकायत पर पुलिस घटनास्‍थल पर पहुंच गई है और मामले की छानबीन कर रही है।
सैनिटाइजर का इस्तेमाल करके दीये न जलाएं
प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों में मोमबत्ती, दीये या फोन के फ्लैश से रोशनी कर एकजुटता दिखाने की अपील की है। इसको लेकर पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने लोगों से कहा है कि मोमबत्ती या दीये जलाने से पहले सैनिटाइजर का इस्तेमाल न करें। नहीं तो एल्कोहल की वजह से आग लगने का खतरा है।

संगरूर: तब्लीगी जमात के कार्यालय में सन्नाटा
संगरूर जिले के कस्बा मालेरकोटला में तब्लीगी जमात के राज्य स्तरीय कार्यालय में भी कर्फ्यू के बाद से सन्नाटा पसरा हुआ है। गेट पर पोस्टर चिपकाए गए हैं, जिसमें लिखा है कि कोरोनावायरस में शारीरिक दूरी का पालन करते हुए नमाज अदा करने न पहुंचें। सभी अपने घरों पर ही नमाज अदा करें। यह वही जगह है, जहां से प्रशिक्षण लेकर जमाती पंजाब के दूसरे शहरों व बाहरी राज्यों में जाते हैं। पंजाब से कितने लोग मरकज गए, कब लौटे, कहां से कितने लोगों को भेजा गया और अब कहां हैं, इस बारे में कोई भी कुछ नहीं बोल रहा।

संगरूर जिले के कस्बा मालेरकोटला में तब्लीगी जमात के कार्यालय में भी कर्फ्यू के बाद से सन्नाटा है।

लुधियाना: टीबी के मरीज को इधर-उधर भगाता रहा स्टाफ, मौत
लुधियाना में सिविल अस्पताल से टीबी के एक मरीज की मौत का मामला सामने आया है। दरअसल, पूरे सिविल अस्पताल को आइसोलेशन सेंटर बनाया जा रहा है और इसके चलते यहां दूसरे मरीजों को छुट्टी दे दी गई है। मृतक के परिवार का आरोप है कि डॉक्टर चार घंटे तक उन्हें इधर-उधर भेजते रहे। बाद में इमरजेंसी में भर्ती किया तो कुछ ही समय बाद उसकी मौत हो गई।

मोगा: जिले के कस्बा धर्मकोट में शनिवार रात को एक महिला को प्रसव पीड़ा हुई। परिवार वाले पास के एक क्लीनिक ले गए कर्फ्यू के चलते किसी ने दरवाजा नहीं खोला। इसके बाद रात करीब साढ़े 11 बजे सड़क पर ही बच्चे को जन्म दिया। बाद में वहां पुलिस पुलिस ने महिला को घर तक पहुंचाया।

मोगा में कर्फ्यू के कारण ज्यादातर निजी डॉक्टरों के क्लीनिक बंद हैं। समय से इलाज नहीं मिलने पर महिला ने सड़क पर बच्चे को जन्म दिया।

Leave a Reply