Raipur News In Hindi : Bhilai Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in Chhattisgarh Raipur Bhilai Bilaspur Korba (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates | बिलासपुर के कांग्रेस विधायक पर एफआईआर, खाना बांटते वक्त नियमों का उल्लंघन किया; स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव होम आइसोलेशन में


  • स्वास्थ्य मंत्री 27 मार्च को मुंबई से लौटे थे, 2 दिन से सभी से मिलना-जुलना बंद किया
  • दिल्ली से आने वाले लोगों के लिए रहने-खाने और हेल्थ चेकअप की पहले से तैयारी
  • सरकार ने काम में लापरवाही बरतने पर 2 नगर पालिका अधिकारी निलंबित किया है

दैनिक भास्कर

Mar 29, 2020, 06:25 PM IST

रायपुर. कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार है। लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं करने वालों पर सख्ती भी देखी जा रही है। बिलासपुर के कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय के खिलाफ गैर-जमानती धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई। विधायक कई दिनों से बाहर जाकर गरीबों को राशन और खाना बांट रहे थे। उन पर धारा 144 के उल्लंघन का आरोप है। रविवार को विधायक के घर पर राशन लेने वालों की भीड़ लग गई। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की। वहीं, विधायक का कहना है कि मैंने लोगों को घर नहीं बुलाया था। वे जरूरतमंद थे, इसलिए आए थे।

उधर, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव होम आइसोलेशन में हैं। वे 27 मार्च को मुंबई से लौटे थे। इसके बाद से उन्होंने सभी से मिलना-जुलना बंद कर दिया। वहीं, दिल्ली से मजदूरों के पलायन को लेकर छत्तीसगढ़ में इससे अलग हालात हैं। यहां बाहरी राज्यों से आने और जाने वालों के लिए पहले से ही विशेष व्यवस्था कर दी गई है। राज्य सरकार ऐसे लोगों के रहने और खाने का इंजताम करवा रही है। साथ ही हेल्थ चेकअप के बाद उन्हें बाहर जान की अनुमति दी जा रही है। 

सीएम ने कहा- जो जहां है वहीं रहे, प्रदेश में रुका हर व्यक्ति हमारा मेहमान
राज्य सरकार ने बाहरी प्रदेशों के लोगों को चरणबद्ध तरीके से उनकी इच्छानुसार भेजने की तैयारी पहले ही कर ली थी। महाराष्ट्र, तेलंगाना, झारखंड और बिहार के मजदूरों को स्वास्थ्य परीक्षण के बाद उनके घरों तक भेजा गया। अब भी जो लाेग पैदल जा रहे हैं, पुलिस और प्रशासन उनके खाने और रहने का इंतजाम कर रहा है। इसबीच, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि दूसरे राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के लोग परेशान न हों। जो जहां हैं वहीं रहें। उन्होंने ये भी कहा कि छत्तीसगढ़ में ठहरा बाहरी राज्य का हर व्यक्ति हमारा मेहमान है। आपके खाने, रहने, दवाई की सारी व्यवस्था हम कर रहे हैं।

लखनऊ, भोपाल, सिकंदराबाद में फंसे मजदूरों ने वीडियो जारी कर गुहार लगाई

छत्तीसगढ़ के मुंगेली, बेमेतरा और अन्य जिलों के 100 से ज्यादा मजदूर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में फंसे हैं। इन्होंने वीडियो जारी कर सरकार से मदद की गुहार लगाई। मजदूरों का कहना है कि उनके पास राशन खत्म हो गया है। उसे खरीदने के लिए पैसे भी नहीं हैं। इसके बाद गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने लखनऊ में इनके रहने-खाने की व्यवस्था कराई और फोन पर हालचाल जाना। इधर, भोपाल में भी कोरबा भी 4 लड़कियां फंसी हैं। ये काम के सिलसिले में 2 माह पहले गईं थीं। वहां काम बंद होने से इनके पैसे भी खत्म हो गए। इसके अलावा, कोरबा के ऐसे ही 25 मजदूर सिकंदराबाद में फंसे हैं। इन सभी ने वीडियो जारी किए हैं।

एफसीआई करेगा गेहूं की बिक्री, राज्य सरकार ने तय की जिलेवार कीमत
लॉकडाउन की स्थिति में लोगों को राहत देने के लिए अब एफसीआई गेहूं की बिक्री करेगी। प्रदेश के व्यापारी और आटा मिल वाले निर्धारित दर पर इसका उठान कर सकेंगे। प्रदेश में बिक्री के लिए एफसीआई 7250 मीट्रिक टन गेहूं उपलब्ध कराया गया है।

2 मुख्य नगरपालिका अधिकारी निलंबित
शनिवार को 2 मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को काम लापरवाही और जनप्रतिनिधियों से दुर्व्यवहार के कारण निलंबित कर दिया गया। इनमें मनेंद्रगढ़ कोरिया के मुख्य नगरपालिका अधिकारी खेल कुमार पटेल और गौरेला के मुख्य नगर पालिका अधिकारी आईपी सोनी शामिल हैं। दोनों अधिकारियों के खिलाफ स्थानीय विधायक विनय जायसवाल ने सरकार को शिकायती पत्र लिखा था। 

शहरी इलाकों में भी लोगों ने कॉलोनियां लॉक कीं

प्रदेश के गांवों में बाहरी व्यक्तियों के रोक लगाए जाने के बाद अब शहरी इलाकों में भी लोगों ने मोहल्ले और कॉलोनियों को लॉक कर दिया है। लोगों ने बांस-बल्लियां और ठेले रखकर बाहरी लोगों की एंट्री बैन कर दी। कहीं-कहीं रास्ते बंद करने के साथ चेतावनी वाला बोर्ड लगाकर रख दिया गया। पुलिस के अधिकारी भी मोहल्ले वालों के इस प्रयास में उनके साथ हैं। अफसरों अनुसार लोगों ने एहतियात के लिए एंट्री बंद की है।

रायपुर में लोगों ने बस्तियों के बाहर इस तरह के बैनर लगाए। 

रायपुर : कतर से लौटा युवक होम आइसोलेशन में नहीं, अस्पताल में टेस्ट नहीं कराया
रायपुर में लगातार कोरोना पॉजिटिव केस बढ़ते जा रहे हैं। ये सभी केस विदेश से आए लोगों में हैं। इसके बावजूद लोग लापरवाही कर रहे हैं। कतर से लौटा एक युवक होम आइसोलेशन में नहीं है। वह शनिवार को इलाज के लिए अंबेडकर अस्पताल पहुंचा। डॉक्टरों ने लक्षण देखने के बाद स्वाब का सैंपल देने की सलाह दी, लेकिन युवक बिना सैंपल दिए चला गया। डॉक्टरों ने बताया कि वह होम आइसोलेशन में भी नहीं रह रहा है। 

बिलासपुर : अफवाह फैलाने पर एफआईआर, पुलिस ने लोगों की आरती उतारी

सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर अफवाह फैलाने पर पुलिस ने सख्त रुख अपना लिया है। पुलिस ने ऐसे लोगों पर एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने नर्स को घर से निकालने वाले पार्षद सीताराम जायसवाल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। सिविल लाइंस क्षेत्र में एक और मकान मालिक पर नर्स को निकालने पर एफआईआर दर्ज की गई। साथ ही लॉकडाउन में घर से बाहर निकलने पर पुलिस ने उनकी आरती उतारी।

भिलाई : स्टील प्लांट कर्मचारी काम करने को तैयार नहीं
यहां स्टील प्लांट प्रबंधन के द्वारा तमाम सुविधाएं मुहैया कराने के आश्वासन के बाद भी कर्मचारी काम करने को तैयार नहीं हैं।रेल मिल (आरएसएम) और यूनिवर्सल रेल मिल (यूआरएम) में दूसरे दिन भी कर्मचारी काम पर नहीं आए। इसके चलते दोनों मिल बंद हैं। इससे पहले ही प्लांट में कर्मियों को सुरक्षित रखने के लिए उत्पादन को घटाते हुए ज्यादातर मिल और शॉप्स एरिया को बंद कर दिया गया। केवल रेल मिल और यूआरएम और उससे जुड़े फर्नेस एसएमएस को ही उत्पादन में रखा गया है, लेकिन वहां भी काम ठप हो गया है।