Rajasthan CM Ashok Gehlot Written a letter to Prime Minister Narendra Modi, Latest news live update | सीएम गहलोत ने लिखा- राजस्थान में चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश हो रही; इसमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह, भाजपा और हमारे दल के कुछ नेता शामिल

Rajasthan CM Ashok Gehlot Written a letter to Prime Minister Narendra Modi, Latest news live update | सीएम गहलोत ने लिखा- राजस्थान में चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश हो रही; इसमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह, भाजपा और हमारे दल के कुछ नेता शामिल


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan CM Ashok Gehlot Written A Letter To Prime Minister Narendra Modi, Latest News Live Update

जयपुर6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यह फोटो 5 जनवरी 2019 की है। जब अशोक गहलोत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली स्थित उनके आवास पर मिले थे।

  • गहलोत ने लिखा- एक भाजपा नेता ने भैरों सिंह शेखावत की सरकार को गिराने की कोशिश की थी, तब मैंने विरोध किया था

राजस्थान में पैदा हुए सियासी हालात पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम चिठ्ठी लिखी। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि राजस्थान में चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश हो रही है। इसमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और भाजपा, कांग्रेस के कुछ नेता शामिल हैं। 

शेखावत ने पत्र में लिखा, ‘‘मैं आपका ध्यान राज्यों में चुनी हुई सरकारों को लोकतांत्रिक मर्यादाओं के विपरीत हॉर्स ट्रेडिंग के जरिए गिराने के लिए किए जा रहे प्रयासों की ओर खींचना चाहूंगा। हमारे संविधान में बहुदलीय व्यवस्था के कारण राज्यों और केंद्र में अलग-अलग दलों की सरकारें चुनी जाती हैं। यह हमारे लोकतंत्र की खूबसूरती ही है कि इन सरकारों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर लोकहित को सबसे ऊपर करते हुए कार्य किया।’’

‘‘पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की सरकार द्वारा 1985 में बनाए गए दल बदल निरोधक कानून एवं अटल बिहारी वाजपेयी सरकार द्वारा किए गए संशोधन की भावनाओं को दरकिनार कर पिछले कुछ समय से लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई राज्य सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास किया जा रहा है। यह जनमत का घोर अपमान है। कर्नाटक और मध्यप्रदेश इसके उदाहरण हैं।’’

‘‘कोरोना के दौर में जीवन रक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। ऐसे में राजस्थान में चुनी सरकार को गिराने का प्रयास किया जा रहा है। इस कृत्य में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, भाजपा के अन्य नेता और हमारे दल के कुछ अति महत्वाकांक्षी नेता शामिल हैं। जिनमें से एक भंवरलाल शर्मा जैसे वरिष्ठ नेता ने भाजपा नेता होने के बावजूद भैरोंसिंह सरकार को भी विधायकों की खरीद फरोख्त कर गिराने का प्रयास किया था। जिसका मैंने खुद तत्कालीन राज्यपाल बलिराम भगत और प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव से मिलकर विरोध किया था।’’ 

गहलोत ने लिखा, ‘‘मुझे अफसोस रहेगा कि जहां एक तरफ केंद्र और राज्य सरकार पर जीवन और आजीविका को बचाने की जिम्मेदारी है। उस बीच केंद्र में सत्ता पक्ष कैसे कोरोना प्रबंधन छोड़कर कांग्रेस की राज्य सरकार को गिराने के षड्यंत्र में मुख्य भूमिका निभा सकता है। मध्यप्रदेश की घटना के दौरान भी आपकी पार्टी देशभर में बदनाम हुई थी। मुझे नहीं पता आपको किस हद तक इस बात की जानकारी है, या आपको गुमराह किया जा रहा है। इतिहास ऐसी हरकत करने में भागीदार लोगों को कभी माफ नहीं करेगा।’’ 

राजस्थान के सियासी उठा-पटक से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं…

1. राजस्थान में सीएम गहलोत के भाई की फर्म पर कस्टम ने 2009 में 5.45 करोड़ का जुर्माना लगाया था, अब 11 साल बाद ईडी की एंट्री

2. स्पीकर ने हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी, कल तीन जजों की बेंच सुनवाई करेगी; पायलट खेमे ने भी कैविएट दाखिल की

0

Leave a Reply