Rajasthan Coronavirus Update: 5 new cases in Rajasthan, infected people increased number reached to 59 – Rajasthan Coronavirus Update: राजस्थान में 5 नए मामलों की पुष्टि के बाद संक्रमितों की संख्या 59 हुई

Rajasthan Coronavirus Update: 5 new cases in Rajasthan, infected people increased number reached to 59 – Rajasthan Coronavirus Update: राजस्थान में 5 नए मामलों की पुष्टि के बाद संक्रमितों की संख्या 59 हुई


Rajasthan Coronavirus Update:  राजस्थान में 5 नए मामलों की पुष्टि के बाद संक्रमितों की संख्या 59 हुई

216 संदिग्ध संक्रमित मरीजों की जांच प्रक्रियाधीन है

जयपुर:

राजस्थान में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के पांच नये मामले सामने आने के बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 59 पहुंच गई. वहीं 216 संदिग्ध संक्रमित मरीजों की जांच प्रक्रियाधीन है. एक अधिकारी ने बताया कि रविवार को संक्रमित पाये गये मरीजों में से एक 53 वर्षीय वह महिला संक्रमित पायी गयी, जिसे भीलवाड़ा के उस अस्पताल में ले जाया गया था, जहां शुरू में कुछ चिकित्सक और नर्सिंगकर्मी पॉजिटिव पाये गये थे. वहीं, झुंझुनूं जिले का निवासी एक 21 वर्षीय व्यक्ति भी संक्रमित पाया गया है. अजमेर जिले में पाये गये तीन अन्य संक्रमित लोग एक ही परिवार के है. परिवार के सदस्यों में से एक शनिवार को संक्रमित पाया गया था. 

अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) रोहित कुमार सिंह ने बताया कि झुंझुनूं में संक्रमित पाया गया 21 वर्षीय व्यक्ति फिलीपीन की यात्रा कर 18 मार्च को दिल्ली से किराये की टैक्सी से लौटा था. उसे पृथक रखा गया था और 26 मार्च को उसमें कोरोना के लक्षण विकसित होने पर जांच की गई. उन्होंने कहा कि रविवार को आए नतीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई. उन्होंने बताया कि राजस्थान में अब संक्रमितों की संख्या बढ़कर 59 तक पहुंच गई है. राज्य में अब तक संक्रमित पाये गये 59 मरीजों में से भीलवाड़ा में 25, जयपुर में 10, झुंझुनूं में 7, जोधपुर में 6, अजमेर में 4, प्रतापगढ और डूंगरपुर में दो-दो और पाली, सीकर और चूरू में एक-एक मरीज संक्रमित पाये गये है। राज्य प्रशासन ने शुरू में भीलवाडा और झुंझुनूं जिलों की सीमाओं को बंद कर कर्फ्यू लागू किया और पूरे राज्य भर में 22 मार्च से लॉकडाउन लागू किया. राज्य में संक्रमितों की पहचान के लिये व्यपाक स्तर पर सर्वे और स्क्रीनिंग कार्यक्रम चलाया जा रहा है. 

Coronavirus: अपने गांव लौटे प्रवासी मजदूरों को लेनी पड़ी पेड़ की शरण, घर वालों ने 14 दिन तक अलग रहने को कहा

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राज्य भर में 60 लाख 61 हजार परिवारों के 2.5 करोड़ सदस्यों की स्क्रीनिंग का काम एक्टिव सर्विलांस टीम द्वारा व करीब 25.5 लाख रोगियों की पैसिव सर्विलांस टीम द्वारा ओपीडी में स्क्रीनिंग की जा चुकी है. डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कल तक संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लगभग 1400 लोगों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग कर स्क्रीनिंग भी की गई, उनमें से 200 लोगों के सैंपल लिए गए और उन्हें जांच के लिए भेजा गया है. उन्होंने कहा कि राज्य में एक लाख क्वारेंटाइन सुविधा उपलब्ध कराने का जो लक्ष्य रखा था, 55 हजार 400 क्वारेंटाइन चिन्हित किए जा चुके हैं और शेष के लिए कार्यवाही जारी है. 

डॉ. शर्मा ने कहा कि विभाग के पास पर्याप्त मात्रा में वेंटिलेटर्स हैं. मांग और उपलब्धता के अनुसार और वेंटिलेटर्स खरीदने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. उन्होंने कहा कि राज्य में पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट) किट 8549, एन-95 मास्क 38099 की संख्या में मौजूद है. पीपीई किट का बफर स्टाक 2821 और एन-95 मास्क का 36272 है. उन्होंने कहा कि पीपीई किट, मास्क, ग्लव्स, ट्रिपल लेयर मास्क, एन-95 मास्क के लिए आरएमएससीएल को निर्देश दिए जा चुके हैं, वह निरंतर खरीद की कार्यवाही कर रहे हैं. अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य रोहित कुमार सिंह ने बताया कि बंद के दौरान नियमित रूप से दवा लेने वाले मरीजों को होने वाली समस्या के समाधान के लिए एक राज्य स्तरीय दवा आपूर्ति नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है. यह नियंत्रण कक्ष सुबह 9.30 बजे से सायं 6 बजे तक कार्य करेगा. 

Coronavirus महामारी से लड़ने के लिए 35 सांसद अपनी सांसद निधि से देंगे एक-एक करोड़ रुपये

उन्होंने बताया कि दवा की आपूर्ति के लिए मरीज दवा आपूर्ति नियंत्रण कक्ष के सम्पर्क नंबर 0141-2228600 पर सम्पर्क करने पर नियंत्रण कक्ष द्वारा मरीज को उसके निवास के निकटतम दवा की दुकान-फर्म का मोबाइल नंबर (व्हाट्सएप नम्बर) उपलब्ध कराया जायेगा. मरीज द्वारा चाही गई दवा का पर्चा उस दवा विक्रेता को व्हाट्सएप पर भेजा जायेगा. वांछित दवाओं की औषधि विक्रेता उनके घरों पर बिल सहित आपूर्ति करेंगे. 

Video: लॉकडाउन : सोने की जगह कहां से लाएं ?

Leave a Reply