Running of trains formally begins from newly built Yog Nagri Rishikesh station – योगनगरी ऋषिकेश स्टेशन से ट्रेनों का संचालन शुरू, केंद्रीय मंत्री निशंक ने जम्‍मू तवी एक्‍सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

Running of trains formally begins from newly built Yog Nagri Rishikesh station – योगनगरी ऋषिकेश स्टेशन से ट्रेनों का संचालन शुरू, केंद्रीय मंत्री निशंक ने जम्‍मू तवी एक्‍सप्रेस को दिखाई हरी झंडी


योगनगरी ऋषिकेश स्टेशन से ट्रेनों का संचालन शुरू, केंद्रीय मंत्री निशंक ने जम्‍मू तवी एक्‍सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

खास बातें

  • पहले दिन सोमवार को दो ट्रेन का हुआ आवागमन
  • आने वाले दिनों में और ट्रेनों का होगा संचालन
  • देश के बेहतरीन रेलवे स्टेशनों में से है योगनगरी स्‍टेशन

ऋषिकेश:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की करीब 16,216 करोड़ रुपये की लागत से बन रही महत्वाकांक्षी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे परियोजना(Rishikesh-Karnaprayag rail route) के पहले नवनिर्मित योगनगरी ऋषिकेश (Yog Nagri Rishikesh) रेलवे स्टेशन से सोमवार को रेलगाड़ियों का संचालन शुरू हो गया. वर्चुअल उपस्थिति के साथ केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल तथा ऋषिकेश की मेयर अनीता ममगाईं के साथ संयुक्त रूप से योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से जम्मू तवी एक्सप्रेस को शाम 15.40 बजे हरी झंडी दिखाई. सोमवार को पहले दिन यहां से दो रेलगाडियां, जम्मूतवी एक्सप्रेस और प्रयागराज एक्सप्रेस का आवागमन हुआ और आने वाले कुछ दिनों में यहां से और रेलगाड़ियों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें

राष्ट्रीय शिक्षा नीति किसी एक विभाग या सरकार की नहीं बल्कि पूरे राष्ट्र की है: शिक्षा मंत्री

इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन परियोजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में एक है और ऋषिकेश इसका पहला और महत्वपूर्ण पड़ाव है जहां से आज रेलगाड़ियों का संचालन शुरू हो गया है. उन्होंने कहा कि नवनिर्मित योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन का लोकार्पण केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल अपनी सुविधानुसार भविष्य में करेंगे.निशंक ने कहा कि रेलमंत्री गोयल तथा प्रधानमंत्री मोदी के संयुक्त प्रयासों से रेलवे का पूरे देश मे तेजी से विकास हुआ है.उन्होंने इस मौके पर रेलगाड़ियों में सवार यात्रियों को भी बधाई दी.

Newsbeep

इससे पहले, विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल व ऋषिकेश की मेयर अनीता ममगाईं ने कहा कि आज का दिन ऋषिकेश के इतिहास का अविस्मरणीय रहेगा.कुल 125 किलोमीटर लंबी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना पर तेजी से काम चल रहा है.परियोजना को 2024-25 तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है.मुख्यमंत्री रावत (CM Trivendra Singh Rawat) ने भी इस परियोजना के लिए प्रधानमंत्री मोदी और रेल मंत्री पीयूष गोयल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का उत्तराखंड से विशेष लगाव है और प्रदेशवासियों का पहाड़ में रेल का सपना जल्द ही साकार होने जा रहा है. रावत ने कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना और चारधाम ऑल वेदर सड़क परियोजना प्रदेश के लिए जीवनरेखा साबित होगी और इससे राज्य में आर्थिक गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी और बड़े पैमाने पर आजीविका के संसाधन विकसित होंगे.

उन्होंने कहा, ‘‘वह दिन दूर नहीं, जब पर्यटक और श्रद्धालु रेलगाड़ी से आएंगे और उत्तराखंड के स्थानीय लोग भी अपने उत्पाद शहरों और बाजारों तक रेलगाडी से पहुंचा रहे होंगे.” नवनिर्मित योगनगरी रेलवे स्टेशन का डिजाइन भारत के बेहतरीन रेलवे स्टेशनों में से एक है .इसमें 600 मीटर के तीन हाईलेवल प्लेटफार्म, 7.50 मीटर के दो सबवे, 325 वर्गमीटर का प्रतीक्षालय, दो लिफ्ट, दो रेम्प और दो एस्केलेटर हैं.यहां स्वचालित कोच वाशिंग सिस्टम भी लगाया गया है. क्विक वाटर फेसिलिटी सहित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट व एफयूलेन्ट ट्रीटमेंट प्लांट की स्थापना इस स्टेशन को विश्वस्तरीय मानकों के अनुरूप बनाती है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Leave a Reply