Rupee slipped below 75 for first time, weakened 86 paise against dollar | डॉलर के मुकाबले रुपया पहली बार 75 के नीचे फिसला, 86 पैसे कमजोर हुआ


  • रुपए को संभालने की आरबीआई की कोशिशों का भी असर नहीं
  • दो महीने में रुपया डॉलर के मुकाबले करीब 6% कमजोर हुआ

दैनिक भास्कर

Mar 19, 2020, 02:45 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण का असर करंसी बाजार पर भी दिख रहा है। गुरुवार को रुपया पहली बार 75 के नीचे फिसल गया। पिछले दिनों भारतीय रिजर्व बैंक ने रुपए को संभालने के लिए बड़े पैमाने पर डॉलर की बिक्री की थी। इसके बावजूद रुपए में गिरावट जारी है। कोरोनावायरस से देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले संभावित असर को लेकर करंसी मार्केट में चिंताएं हैं।

रुपया 86 पैसे गिरकर 75.12 पर आया
दोपहर के कारोबार में रुपए में 86 पैसे की गिरावट दर्ज की गई। यह डॉलर के मुकाबले 75.12 पर ट्रेड कर रहा था। यह अब तक का सबसे निचला स्तर है। रुपए ने कारोबार की शुरुआत 70 पैसे की गिरावट के साथ 74.96 पर की थी। बुधवार को रुपया 74.26 पर बंद हुआ था। इससे पहले शुक्रवार को रुपए ने 74.50 का रिकॉर्ड निचला स्तर छुआ था। कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्व बैंक, आईएमएफ और ओईसीडी जैसी एजेंसियों ने आर्थिक संकट की चेतावनी दी है। मोर्गन स्टेनले और गोल्डमैन साक्स जैसे प्रतिष्ठित निवेश बैंक के अर्थशास्त्रियों ने भी कहा है कि जून तिमाही में पूरी दुनिया मंदी में फंस सकती है।

रुपया 2 महीने में 6 फीसदी से ज्यादा कमजोर हो चुका
रुपया  महीने में 6.07 फीसदी कमजोर हो चुका है। 15 जनवरी 2020 को डॉलर के मुकाबले रुपया 70.82 पर बंद हुआ था। गुरुवार को इंट्रा-डे कारोबार में इसने 75.12 का निचला स्तर छू लिया।

आरबीआई के दखल के बाद भी नहीं संभल रहा रुपया
शुक्रवार को रुपए के 74.50 का निचला स्तर छूने के बाद आरबीआई ने इसे संभालने के लिए 1.5 अरब डॉलर की बिक्री की थी, जिससे रुपया थोड़ा संभल गया था। इसके बाद सोमवार को भी आरबीआई ने 2 अरब डॉलर से अधिक की अमेरिकी मुद्रा बेची थी। साथ ही आरबीआई ने आगे भी डॉलर बेचने की घोषणा की है। इसके बावजूद रुपया स्थिर नहीं हो पा रहा है।