sbi waived off requirement of average monthly balance for all saving accounts – SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने का झंझट हुआ खत्म


खास बातें

  1. एसबीआई के सेविंग अकाउंट ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी
  2. एसबीआई के ग्राहकों को अब मिनिमम बैलेंस मैंटेन करने की नहीं है जरूरत
  3. एएमबी प्रणाली को बैंक ने किया खत्म

नई दिल्ली:

देश के सबसे बड़े बैंक, SBI ने बुधवार को अपने सभी ग्राहकों को एक खुशखबरी दी है. बैंक ने सभी तरह के सेविंग बैंक अकाउंट पर लगने वाले एवरेज मंथली बैलेंस (AMB) की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है. 11 मार्च को बैंक की तरफ से जारी की गई एक प्रेस विज्ञप्ति में इसका ऐलान किया गया है. SBI (State Bank Of India) के इस फैसले के बाद 44.51 करोड़ ग्राहकों को इसका फायदा होगा. 

यह भी पढ़ें: SBI ने एक महीने में दूसरी बार कम की ब्‍याज दरें, कार और होम लोन होंगे सस्‍ते

बता दें, इस समय एसबीआई के सेविंग बैंक ग्राहकों को मेट्रो, सेमी अर्बन और रूरल एरिया में क्रमश: 3,000 रुपये, 2,000 रुपये और 1,000 रुपये का बैलेंस मैंटेन करना पड़ता है. यदि कोई ग्राहक बैलेंस मैंटेन नहीं रखता तो एसबीआई द्वारा पेनल्टी के रूप में 5 रपये से लेकर 15 रुपये तक काट लिए जाते थे. 

दूसरी ओर SBI ने बुधवार को विभिन्न परिपक्वता अवधि की मियादी जमाओं (Recurring Deposit) तथा कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दरों (MCLR) में कटौती की घोषणा की. बैंक ने कहा कि होम लोन और फिक्स डिपॉजिट नई दरें 10 मार्च से प्रभाव में होंगी. बैंक ने एक महीने में दूसरी बार ब्याज में कटौती की है. SBI ने विभिन्न परिपक्वता अवधि के लिए खुदरा मियादी जमा (2 करोड़ रुपये से कम) पर ब्याज दरों में 0.10 प्रतिशत से 0.50 प्रतिशत की कटौती की है. सात दिन से 45 दिन में परिपक्व होने वाले मियादी जमाओं पर ब्याज दर अब 4 प्रतिशत होगी जो पहले 4.50 प्रतिशत थी. वहीं एक साल और उससे अधिक अवधि के लिये जमाओं पर ब्याज दर में 0.10 प्रतिशत की कटौती की गई है.

टिप्पणियां

VIDEO: YES बैंक को बचाने के लिए आगे आया SBI

Leave a Reply