suicide bomber detonated a vehicle full of explosives close to the prison in Afghanistan’s Jalalabad | जलालाबाद जेल के गेट पर सुसाइड बॉम्बर ने कार ब्लास्ट किया, एक की मौत; जेल के भीतर से फायरिंग की आवाजें आ रहीं

suicide bomber detonated a vehicle full of explosives close to the prison in Afghanistan’s Jalalabad | जलालाबाद जेल के गेट पर सुसाइड बॉम्बर ने कार ब्लास्ट किया, एक की मौत; जेल के भीतर से फायरिंग की आवाजें आ रहीं


  • Hindi News
  • International
  • Suicide Bomber Detonated A Vehicle Full Of Explosives Close To The Prison In Afghanistan’s Jalalabad

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

हमले के दौरान घायल हुए व्यक्ति को ले जाता सुरक्षाकर्मी। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह हमला रविवार शाम करीब पौने सात बजे हुआ।

  • हमलावर जेल के पास बने बाजार में भी घुस गए और सुरक्षाबलों पर हमला किया
  • जलालाबाद जेल के भीतर भी दो धमाके सुने गए, इस हमले में 18 लोग घायल हुए हैं

अफगानिस्तान की जलालाबाद जेल में रविवार देर रात दो धमाके हुए। टोलो न्यूज के मुताबिक, जेल के करीब विस्फोटकों से भरी गाड़ी में बैठे फिदायीन ने खुद को उड़ा लिया। जेल के भीतर संघर्ष जारी है, यह कैदियों के बीच हो रहा है या फिर कैदियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच, यह साफ नहीं हो पाया है। जेल के भीतर से फायरिंग की आवाजें भी सुनी जा रही हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, नंगरहार प्रांत में स्थित जलालाबाद जेल के एंट्री गेट पीडी4 पर आत्मघाती हमलावर ने कार में धमाका किया। बताया जा रहा है कि जेल की ऊपरी मंजिल पर आतंकवादी दाखिल हो चुके हैं और फायरिंग की आवाजें भी सुनी जा रही हैं। अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय ने इन रिपोर्ट्स की पुष्टि की है, पर इससे ज्यादा कोई जानकारी नहीं दी है।

नंगरहार प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता ने कहा- हमलावर जेल के पास बने बाजार में भी पोजिशन ले रखी थी। उन्होंने सुरक्षाबलों पर हमला किया।

लगातार हो रहे हैं आत्मघाती हमले
अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांत नंगरहार में ऐसे हमले होते रहते हैं। अधिकांश हमलों की जिम्मेदारी कट्टरपंथी इस्लामिक ग्रुप आईएस ही लेता है। उधर, तालिबान के प्रवक्ता जबिहुल्लाह मुजाहिद ने न्यूज एजेंसी एएफपी से कहा- यह हमला हमने नहीं किया। हमारे मुजाहिदीन को ऐसे हमले करने की इजाजत अभी तक नहीं दी गई है। 12 मई को इसी प्रांत में हुए आत्मघाती हमले में 32 लोगों की जान गई थी। यह सभी एक पुलिस कमांडर के जनाजे में शामिल होने आए थे। यह इस साल में हुए आत्मघाती हमलों में सबसे ज्यादा खतरनाक था।

0

Leave a Reply