Today Vedic rituals include rock rituals, Navagraha Puja; Bhoomi Poojan will start tomorrow at 12:30 pm, the Deepotsav program will be telecast live today from Ram Ki Pauri. | आज वैदिक रीति से शिला संस्कार, नवग्रह पूजा, दीपोत्सव का राम की पौड़ी से सीधा प्रसारण; कल 12:30 बजे भूमि पूजन

Today Vedic rituals include rock rituals, Navagraha Puja; Bhoomi Poojan will start tomorrow at 12:30 pm, the Deepotsav program will be telecast live today from Ram Ki Pauri. | आज वैदिक रीति से शिला संस्कार, नवग्रह पूजा, दीपोत्सव का राम की पौड़ी से सीधा प्रसारण; कल 12:30 बजे भूमि पूजन


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Today Vedic Rituals Include Rock Rituals, Navagraha Puja; Bhoomi Poojan Will Start Tomorrow At 12:30 Pm, The Deepotsav Program Will Be Telecast Live Today From Ram Ki Pauri.

अयोध्या16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अयोध्या के सरयू घाट पर सोमवार को संध्या आरती की गई। इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी तट पर पूजा की।

  • अयोध्या सील, कल 3 घंटे रुकेंगे पीएम मोदी, आज सालों बाद हनुमानगढ़ी के प्रतीक चिह्नों की विशेष पूजा होगी
  • पीएम मोदी पारिजात का पौधा लगाएंगे, योगी बोले- केवल वे ही आएं जिन्हें निमंत्रण दिया गया है

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चल रहे तीन दिन के अनुष्ठान का आज दूसरा दिन है। मंगलवार को राम जन्मभूमि पर वैदिक रीति से वास्तु शांति, शिला संस्कार और नवग्रह पूजन होगा। उसके बाद श्री हनुमानगढ़ी के प्रतीक चिह्नों की विशेष पूजा की जाएगी। यह सालों बाद होने जा रही है। बुधवार को 12:30 बजे भूमि पूजन शुरू होगा, जो 10 मिनट तक चलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल राम मंदिर की नींव रखने के लिए अयोध्या में 3 घंटे तक रहेंगे।

राम की पैड़ी को भव्य तरीके से सजाया गया है।

सुरक्षा के मद्देनजर सोमवार को अयोध्या को सील कर दिया गया है। प्रधानमंत्री 5 अगस्त को हनुमानगढ़ी में दर्शन करते हुए 12 बजे जन्मभूमि परिसर पहुंचेंगे। वे यहां पारिजात का एक पौधा लगाएंगे। भूमि पूजन समारोह के देश में लाइव कवरेज के लिए 48 से ज्यादा हाईटेक कैमरे लगाए गए हैं। ये कैमरे दूरदर्शन और एएनआई न्यूज एजेंसी के हैं। दूरदर्शन और एएनआई के 100 से ज्यादा सदस्य परिसर में होंगे। अयोध्या में आज होने वाले दीपोत्सव और अन्य कार्यक्रमों के लिए चैनलाें की ओबी वैन राम की पौड़ी में तीन दिन से लगी हुई है।

आज 9 वैदिक आचार्य कराएंगे रामार्चा पूजन

तीन दिवसीय अनुष्ठान की शुरुआत सोमवार को गौरी गणेश और भगवान राम और माता सीता की कुलदेवियों के पूजन के साथ शुरू हो गई। आज रामार्चा पूजा होगी। काशी, प्रयागराज और अयोध्या के 9 वैदिक आचार्य इस पूजा को संपन्न कराएंगे। भगवान राम के नाम का जप होगा। वहीं, 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम के यजमान वीएचपी के प्रमुख रहे अशोक सिंघल के पुत्र सलिल होंगे।

झालरों से अयोध्या को सजाया गया है।

राजनाथ और कल्याण अयोध्या नहीं आएंगे
श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने देश की सभी परंपराओं के संतों और अन्य लोगों समेत 175 लोगों को भूमि पूजन समारोह के लिए आमंत्रित किया है। अतिथियों का आना शुरू हो चुका है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने अयोध्या आने का कार्यक्रम कोरोना के चलते रद्द कर दिया है। वहीं, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी वर्चुअल तरीके से भूमि पूजन समारोह में जुड़ेंगे। जिला प्रशासन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की व्यवस्था की है।

21 सौ दीपों से आज व कल होगी महाआरती

अयोध्या में सरयू घाट पर आंजनेय सेवा संस्थान नित्य महाआरती कराती है। भूमि पूजन समारोह के अवसर पर मंगलवार और बुधवार को संस्थान की ओर से 2100 दीपों की महाआरती करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा कई मंदिरों में सोमवार से ही भूमि पूजन को लेकर दीपोत्सव शुरू हो चुका है। तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने 5100 दीप जलाए तो उदासीन ऋषि आश्रम में हफ्तेभर से दीप जलाकर मंदिर निर्माण की शुरुआत की खुशी मनाई। बुधवार को यह उत्सव अपने चरम पर होगा।

रंग बिरंगी लाइटों से सजी अयोध्या।

इधर, तैयारियाें का जायजा लेने आए राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना को लेकर प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन होगा। केवल वे ही यहां आएं, जिन्हें आमंत्रित किया गया है। यह ऐतिहासिक क्षण होगा, जब प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण की नींव रखेंगे। उन्होंने देश की जनता से दीप जलाने का आह्वान भी किया। अभिजीत मुहूर्त होने के कारण मंदिर निर्माण में कोई बाधा नहीं आएगी। इस अवधि में रोगबाण, अग्निबाण, राजबाण, चोरबाण और मृत्युबाण नहीं हैं। इनके नहीं होने से बीमारी, आग, राजकीय संकट, चोरी और मृत्यु का संकट नहीं आएगा।

राम मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त निकालने वाले गणेश्वर शास्त्री ने कहा है कि अभिजीत मुहूर्त के 16 भाग में 15 अति शुद्ध होते हैं जिनमें ये 32 सेकंड अहम है। बुधवार होने से मंदिर निर्माण बिना विघ्न के यशस्वी रूप से पूरा होगा।

ऐसा होगा अयोध्या का नया रेलवे स्टेशन: उत्तर रेलवे ने 104 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले अयोध्या स्टेशन का मॉडल जारी किया है।

अयोध्या मार्ग पर रखे जाएंगे 5100 मिट्‌टी के रंग-बिरंगे घड़े, आम पत्तों से सजाया
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सांस्कृतिक इकाई संस्कार भारती मिट्टी के 5100 घड़ों को कलात्मक ढंग से सजा रही है। इन्हें रंग, कपड़े, गोटे, आम के पत्तों और दीपों से सजाया जा रहा है। यह घड़े साकेत महाविद्यालय से गुजरने वाले अयोध्या मार्ग पर रखे जाएंगे।

अयोध्या की गलियों को पीले रंग में कलर किया गया है।

0

Leave a Reply