Video of beating of former BJP MLA goes viral, accused of molesting girl – बीजेपी के पूर्व विधायक की पिटाई का वीडियो वायरल, लड़की से छेड़खानी का आरोप लगा

Video of beating of former BJP MLA goes viral, accused of molesting girl – बीजेपी के पूर्व विधायक की पिटाई का वीडियो वायरल, लड़की से छेड़खानी का आरोप लगा


बीजेपी के पूर्व विधायक की पिटाई का वीडियो वायरल, लड़की से छेड़खानी का आरोप लगा

police का कहना है कि वह वायरल वीडियो की जांच कर रही है.

वाराणसी:

बीजेपी के पूर्व विधायक (BJP EX MLA) माया शंकर पाठक का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें कुछ लोग उनको पीट रहे हैं और फिर उन्हें चैंबर से बाहर लाकर एक कुर्सी पर बैठा कर उनसे कान पकड़कर माफी भी मंगवा रहे हैं. इस पूरी घटना का बाकायदा वीडियो बनाया गया. आरोप है कि उन्होंने अपने ही स्कूल की एक छात्रा के साथ छेड़खानी ( Girl Molestation) की है. इसके बाद लड़की के परिवार के लोगों ने उनके साथ मारपीट की और माफी मंगवाई. 

यह भी पढ़ें

वीडियो के वायरल (Viral Video) होने के बाद बीजेपी के पूर्व विधायक माया शंकर पाठक ने भी अपना एक वीडियो जारी किया. उन्होंने इस पूरी घटना को राजनीतिक साजिश करार दिया. पाठक ने कहा कि 8 दिन पहले एक घटना हुई. इसमें कक्षा नौ की एक बच्ची जो 26 जनवरी का भाषण तैया कर रही थी लेकिन वह ठीक से नहीं सुना पाई तो उन्होंने उसे डांट कर भगा दिया कि जाओ तुमसे नहीं हो सकता. उसके बाद कल उसके परिवार के लोग आए और इस तरह से बदतमीजी की. उन्होंने कहा कि अगर डांटना मेरा गलत है तो उसके लिए माफी मांगता हूं. मुझे नहीं पता था कि वे मेरा वीडियो बना रहे हैं. यह राजनीतिक रूप से एक जाति विशेष के लोगों ने साजिशन कार्रवाई की है.

Newsbeep

यह वीडियो शनिवार का है इस मामले में पुलिस के सर्किल अफसर पिंडरा अभिषेक पांडे का कहना है कि जो वीडियो वायरल हुआ है, उसकी जांच कर रहे हैं. हालांकि अभी तक दोनों ही पक्ष की तरफ से किसी ने तहरीर नहीं दी है. लेकिन फिर भी पुलिस वायरल वीडियो की जांच कर रही है.

बीजेपी के पूर्व विधायक माया शंकर पाठक तत्कालीन चिरईगांव विधानसभा से विधायक थे. परिसीमन के बाद इस विधानसभा की कुछ सीमा चंदौली जिले में चली गई और कुछ बनारस में आ गई, जो वर्तमान में शिवपुर विधानसभा कहलाती है. माया शंकर पाठक एक निजी स्कूल चलाते हैं और इस समय राजनीतिक रूप से बहुत सक्रिय नहीं है. इससे साफ है कि मामला चाहे जो हो लेकिन बहुत राजनीतिक नजर नहीं आता.

Leave a Reply